इकोनॉमी की हालत सुधारने के लिए ये कदम उठाएगी मोदी सरकार!

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि केंद्र सरकार ने अर्थव्यवस्था की हालत को तत्काल सुधारने के लिए कदम उठाने की योजना बनाई है.

News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 7:44 PM IST
इकोनॉमी की हालत सुधारने के लिए ये कदम उठाएगी मोदी सरकार!
इकोनॉमी की हालत सुधारने के लिए ये कदम उठाएगी मोदी सरकार
News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 7:44 PM IST
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि केंद्र सरकार ने अर्थव्यवस्था की हालत को तत्काल सुधारने के लिए कदम उठाने की योजना बनाई है. प्राइवेट डेटा ग्रुप सीएमआईई के मुताबिक, भारतीय अर्थव्यवस्था सकल घरेलू उत्पाद (GDP) विकास दर में सुस्ती तथा बेरोजगारी की समस्या से जूझ रही है और जुलाई में बेरोजगारी दर में साल दर साल आधार पर 2 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

चुनौतियों से निपटने के लिए कदम उठाएगी सरकार
सीतारमण ने कहा, केंद्र सरकार उद्योगपतियों से मुलाकातें कर रही है और अर्थव्यवस्था के समक्ष चुनौतियों से निपटने के लिए कदम उठाएगी. वित्त मंत्री ने कहा, विदेशी मुद्रा में कर्ज जुटाने के लिए केंद्र सरकार विदेश में कब और कितनी मात्रा में सरकारी बॉन्ड जारी करेगी, इसपर अभी कोई फैसला नहीं किया गया है.

FPIs को सरचार्ज से राहत मिलने की जगी उम्मीद

बाजार में लगातार गिरावट के बाद अब सरकार जाग गई लगती है. वित्त मंत्री विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) की किसी भी समस्या को सुनने के लिए तैयार हैं. बैंक प्रमुखों के साथ बैठक के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने आज बताया कि वित्त मामलों के सचिव जल्द FPIs से मिलेंगे और कोई रास्ता निकालने की कोशिश करेंगे. सॉवरेन बॉन्ड पर अभी ज्यादा काम नहीं हुआ है. बैंकों के साथ टैक्स के मामले पर भी चर्चा हुई है.

ये भी पढ़ें: देश के दूसरे सबसे बड़े सरकारी बैंक का लोन होगा सस्ता, इतनी घट जाएगी EMI

दलअसल सरकार मंदी से निपटने के लिए सभी सेक्टरों के लोगों से राय ले रही है. वो रियल एस्टेट की दिक्कतों को दूर करने के साथ, SMEs और ऑटो इंडस्ट्री को भी पटरी पर लाने की कोशिश कर रही है. इसी के मद्देनजर सरकार FPIs की समस्या भी सुनने के लिए तैयार है.
Loading...

ये भी पढ़ें: सोने की कीमतों में बड़ा उछाल, 10 ग्राम का भाव 37 हजार के करीब पहुंचा
First published: August 5, 2019, 7:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...