• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • अर्श से फर्श पर: चीन के Larry Chen 6 महीने पहले तक दुनिया के रईसों में शामिल थे, अब बिलिनेयर भी नहीं रहे

अर्श से फर्श पर: चीन के Larry Chen 6 महीने पहले तक दुनिया के रईसों में शामिल थे, अब बिलिनेयर भी नहीं रहे

larry chen

larry chen

चीन के Larry Chen पर अर्श से फर्श पर वाली कहावत सबसे सटीक बैठी है. चीन सरकार के बदले हुए नियमों के चलते Larry Chen अब अरबपति भी नहीं रह गए हैं. जबकि 6 महीने पहले तक वे दुनिया के रईसों में शामिल थे

  • Share this:
    नई दिल्ली . चीन के Larry Chen पर अर्श से फर्श पर वाली कहावत सबसे सटीक बैठी है. चीन सरकार के बदले हुए नियमों के चलते Larry Chen अब अरबपति भी नहीं रह गए हैं. जबकि 6 महीने पहले तक वे दुनिया के रईसों में शामिल थे. प्राइवेट एजुकेशन सेक्टर पर चीन सरकार के सख्ती करने के कारण चेन के बिजनेस की हालत खस्ता हो गई है.
    Gaotu Techedu के फाउंडर और चेयरमैन, चेन की नेटवर्थ अब 33.6 करोड़ डॉलर की रह गई है. चीन में नए नियमों के लागू होने की रिपोर्ट के बाद न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर उनकी कंपनी के शेयर्स की वैल्यू लगभग दो-तिहाई गिर गई.

    चीन ने बदले नियम

    पिछले सप्ताह चीन ने नए रेगुलेशंस जारी किए थे जिनसे स्कूल करिकुलम की पढ़ाई से प्रॉफिट कमाने वाली कंपनियों के फंड जुटाने या पब्लिक ऑफर लाने पर रोक लग गई है.

    यह भी पढ़ें - Cryptocurrency Prices Today: Bitcoin, Ethereum की कीमत एक सप्ताह में 20% से ज्यादा चढ़ी, जानिए डिटेल

    चेन के लिए यह एक बड़ा झटका है. इससे पहले जनवरी के बाद से उनकी कंपनी के शेयर में गिरावट के कारण उन्हें 15 अरब डॉलर से अधिक का नुकसान हुआ था. उन्होंने कहा है कि Gaotu Techedu रेगुलेशंस का पालन करने के साथ ही सामाजिक जिम्मेदारियों को भी पूरा करेगी.

    दूसरी कंपनियों को भी नुकसान 
    नए नियमों से नुकसान उठाने वालों में चेन अकेले नहीं है. TAL Education Group के CEO झैंग बैंगशिन की वेल्थ भी लगभग 2.5 अरब डॉलर घटकर लगभग 1.4 अरब डॉलर रह गई. उनकी कंपनी के शेयर्स न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज पर 71 प्रतिशत गिरे हैं.

    यह भी पढ़ें - Deepfake क्या है? क्यों ये Fake news से कई सौ गुना ज्यादा खतरनाक है? लोकतंत्र के लिए भी हो सकता है खतरा
    इसके अलावा New Oriental Education & Technology Group Inc के चेयरमैन, यू मिनहोंग का बिलिनेयर का दर्जा भी छिन गया है. उनकी वेल्थ में 68.5 करोड़ डॉलर की कमी आई है. चीन में ऑनलाइन एजुकेशन सेक्टर 100 अरब डॉलर से अधिक का है. इस सेक्टर पर सरकार की सख्ती से कुछ ग्लोबल इनवेस्टर्स को भी नुकसान होगा.

    इसके पहले चीन के चर्चित बिजनेसमैन जैक मा की भी हालत खराब हो चुकी है. उनके पीछे भी चीन सरकार का ही हाथ था. तेजी से बढ़ते जैक मा को चीनी सरकार ने तमाम तरीको से नीचे ला दिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज