• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • क्या होते हैं मनी मार्केट फंड ? इसमें निवेश को लेकर क्या कहते हैं विशेषज्ञ, जानिए सबकुछ

क्या होते हैं मनी मार्केट फंड ? इसमें निवेश को लेकर क्या कहते हैं विशेषज्ञ, जानिए सबकुछ

 money-market-funds-what-experts-say-about-investing-in-this-know-everything

money-market-funds-what-experts-say-about-investing-in-this-know-everything

मनी मार्केट या मुद्रा बाजार वित्तीय बाजार का ही एक हिस्सा होता है, जो बहुत शॉर्ट टर्म के निश्चित आय वाले साधनों को डील करता है. मनी मार्केट साधनों की परिपक्वता अवधि‍ एक साल से कम होती है. मनी मार्केट साधनों को सरकार (ट्रेजरी बिल), कंपनियां (CPs)और वित्तीय संस्थाएं जारी करती हैं.

  • Share this:

    मुंबई . मनी मार्केट या मुद्रा बाजार वित्तीय बाजार का ही एक हिस्सा होता है, जो बहुत शॉर्ट टर्म के निश्चित आय वाले साधनों को डील करता है. मनी मार्केट साधनों की परिपक्वता अवधि‍ एक साल से कम होती है. मनी मार्केट साधनों को सरकार (ट्रेजरी बिल), कंपनियां (CPs)और वित्तीय संस्थाएं जारी करती हैं.

    मनी मार्केट साधनों में ओवरनाइट सिक्यूरिटीज (ऐसी प्रतिभूतियां जो एक रात में ही परिपक्व हो जाती हैं) शामिल होती हैं, जैसे कि ट्राई पार्टी रेपोज, कॉमर्श‍ियल पेपर्स (CPs), सर्टिफिकेट ऑफ डिपॉजिट्स, ट्रेजरी बिल्स आदि.

    मनी मार्केट फंड

    मनी मार्केट फंड अन्य सभी डेट योजनाओ में यह घोषि‍त लक्ष्य रखते हैं कि वे प्राथमिक रूप से मनी मार्केट साधनों में निवेश करेंगे. फंड मैनेजर 1 साल तक की परिपक्वता अवधि‍ वाले साधनों में निवेश का लचीलापन रखते हैं, यह प्रचलित बाजार दर और क्रेडिट स्प्रेड के माहौल पर निर्भर करता है. अब चूंकि ये साधन 1 साल तक की परिपक्वता वाले साधनों में निवेश करते हैं,    इसलिए आपको इन फंडों के लिए न्यूनतम एक साल की निवेश अवधि‍ रखनी चाहिए.

    यह भी पढ़ें- PM Shram Yogi Man Dhan pension: रोजाना 2 रुपये जमा कर पाइए 36000 रुपये की पेंशन, जाने डिटेल

    मनी मार्केट साधनों में निवेश करने वाले म्यूचुअल फंड

    सभी डेट म्यूचुअल फंड मनी मार्केट साधनों में निवेश करते हैं, लेकिन निम्न श्रेणी के डेट म्यूचुअल फंड प्राथमिक रूप से मनी मार्केट साधनों में निवेश करते हैं.

     ओवरनाइट फंड:  ये फंड ऐसे साधनों में निवेश करते हैं जो कि एक रात भर में परिपक्व हो जाते हैं.

    लिक्विड फंड: लिक्व‍िड फंड ऐसे साधनों में निवेश करते हैं जो कि 91 दिन से कम में परिपक्व हो जाते हैं.

    अल्ट्रा-शॉर्ट ड्यूरेशन फंड:  ये फंड ऐसे साधनों में निवेश करते हैं जिससे उनके पोर्टफोलियो की अवधि‍ 3 से 6 महीने रहती है.

    मनी मार्केट फंड:  ये फंड ऐसे साधनों में निवेश करते हैं जिनकी परिपक्वता अवधि‍ 1 साल तक होती है.

    यह भी पढ़ें – Mutual Fund Investment: SBI के चिल्ड्रेन फंड प्लान ने एक साल में 100% से ज्यादा का रिटर्न दिया, जानिए डिटेल

    मनी मार्केट फंडों में क्यों निवेश करें?

    उच्च तरलता – इनमें निहित साधनों की परिपक्वता अवधि‍ बहुत कम होती है. ये फंड आमतौर पर एग्जिट लोड चार्ज नहीं करते.

    ब्याज दर से जुड़ा जोखिम कम-  मनी मार्केट साधनों  में लंबी अवधि‍ के साधनों की तुलना में ब्याज दर की संवदेनशीलता (जोखि‍म) कम होती है.

    ओवरनाइट और लिक्व‍िड फंडों के मुकाबला ऊंचा यील्ड – मनी मार्केट फंडों का यील्ड ओवरनाइट और लिक्विड फंडों के मुकाबले ज्यादा होता है.

    मौजूदा हालत में शॉर्ट टर्म निवेश के लिए उपयुक्त-  कमोडिटी की कीमतों में अनिश्चितता की वजह से महंगाई की दिशा अनिश्चित ही रहती है. इसलिए लांग टर्म के यील्ड आगे और सख्त हो सकते हैं. लेकिन 1 दिन से 1 साल के भीतर के यील्ड तुलनात्मक रूप से कम जोखि‍म वाले और कम स्थायित्व वाले होते हैं.

    मनी मार्केट फंड और डेट श्रेणी के अन्य फंडों के प्रदर्शन की तुलना

    मनी मार्केट फंड पिछले एक साल की निवेश अवधि‍ के दौरान सबसे ज्यादा स्थायी प्रदर्शन वाले रहे हैं. कम अवधि‍ वाले फंडों जैसे अन्य डेट श्रेणि‍यों की तुलना में मनी मार्केट फंडों में उतार-चढ़ाव भी कम होता है.

    किसी श्रेणी के औसत रिटर्न को हासिल करने के लिए विशि‍ष्ट श्रेणि‍यों में सभी फंडों के औसत सालाना रिटर्न देखा गया. साल 2021 का रिटर्न 20 जुलाई तक का है. डिस्कलेमर: औसत रिटर्न किसी म्यूचुअल फंड की श्रेण‍ियों का रिटर्न है और किसी भी तरह से यह किसी एक म्यूचुअल फंड योजना के रिटर्न का संकेत नहीं देता.

    (लेखक- वैभव शाह , हेड- प्रोडक्ट, मार्केटिंग एवं कम्युनिकेशंस , मिरे एसेट इनवेस्टमेंट मैनेजर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड)  ( नोट- ये  लेखक के अपने  व्यक्तिगत विचार हैं, न्यूज 18 हिंदी  किसी को  कहीं निवेश की सलाह नहीं दे रहा है) 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज