Home /News /business /

भारतीय कंपनियों के लिये 2020 में बनी रहेगी चुनौतियां, GDP ग्रोथ कमजोर रहने का अनुमान- मूडीज

भारतीय कंपनियों के लिये 2020 में बनी रहेगी चुनौतियां, GDP ग्रोथ कमजोर रहने का अनुमान- मूडीज

भारतीय कंपनियों के लिए 2020 में बनी रहेंगी चुनौतियां

भारतीय कंपनियों के लिए 2020 में बनी रहेंगी चुनौतियां

मूडीज इनवेस्टर्स सर्विसेज के अनुसार वर्ष 2020 में वित्तीय क्षेत्र (Financial Sector) को छोड़ दूसरे क्षेत्रों की ज्यादातर भारतीय कंपनियों की साख परिस्थितियां कमजोरी बनी रहेगी.

    नई दिल्ली. मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस (Moody's Investors Service) ने कहा कि कमजोर आर्थिक वृद्धि, सुस्त पड़ती कमाई से वर्ष 2020 में वित्तीय क्षेत्र (Financial Sector) को छोड़ दूसरे क्षेत्रों की ज्यादातर भारतीय कंपनियों की साख परिस्थितियां कमजोरी बनी रहेगी.

    मूडीज़ इनवेस्टर्स सर्विस के उपाध्यक्ष और वरिष्ठ साख अधिकारी कोस्तुभ चौबाल ने कहा, प्रमुख कंपनियों के क्रेडिट परिवेश में 2020-21 के दौरान ज्यादा सुधार की उम्मीद नहीं लगती है. ऊंचा कर्ज स्तर, कमजोर मुनाफा वृद्धि और लगातार जारी आर्थिक सुस्ती की वजह से यह हो रहा है जिससे निवेश और खपत दोनों पर ही असर पड़ रहा है. चौबाल ने हालांकि, कहा कि अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में लगातार नरमी का रेटिंग कंपनियों पर बहुत कम नकारात्मक असर होगा क्योंकि इन कंपनियों में इस स्थिति के लिये स्वाभाविक रूप से बचाव के उपाय पहले से किये गये हैं.

    ये भी पढ़ें: सरकार का नया प्लान बदल देगा चाय का स्वाद, 6 महीने में आ रहा खास प्रोडक्ट

    मूडीज़ इनवेस्टर्स सर्विस का कहना है कि, ऐसे कारक जिनसे भारत की गैर-वित्तीय क्षेत्र की कंपनियों (NBFCs) के लिये परिवेश में सुधार आ सकता है उनमें खपत मांग बढ़ाने क लिये सरकार की तरफ से किये जाने वाले प्रोत्साहन उपाय, बेहतर वित्तपोषण और बाजार में तरलता की स्थिति में सुधार जैसे उपायों से घरेलू मांग और उपभोक्ता वित्तपोषण दोनों को ही बढ़ावा मिलेगा.

    जीडीपी ग्रोथ कमजोर रहने का अनुमान
    इस स्थिति को देखते हुये मूडीज़ का अनुमान है कि भारत की जीडीपी वृद्धि दर 2019-20 में कमजोर पड़कर 6.6 प्रतिशत रह जायेगी. यह इससे पिछले वर्ष के 6.8 प्रतिशत से कुछ कम होगी. सरकार के लिये निकट भविष्य में रिण स्थिति में सुधार के लिये नये प्रोत्साहन उपायों के मामले में सीमित संभावनायें नजर आतीं हैं. अमेरिका स्थित इस एजेंसी ने हालांकि, कहा है कि बुनियादी क्षेत्र की कंपनियों की मजबूत बाजार स्थिति और आवश्यक सेवाओं को देखते हुये कमजोर पड़ती अर्थव्यवस्था को सहारा मिलेगा.

    ये भी पढ़ें:
    यात्रीगण ध्यान दें! ऐसे बुक करेंगे ट्रेन टिकट तो सस्ता होगा रेल का सफर
    प्याज के बाद अब तूर दाल की कीमतें 100 रुपये के पार, सरकार उठा सकती है कदम
    साल के 365 दिन खुला रहता हैं ये बैंक, 24 घंटे में कभी भी कर सकते हैं लेनदेन

    Tags: Business news in hindi, India's GDP, Indian economy, NBFCs

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर