• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • मूडीज ने मुंबई में ट्रंप टावर बनाने वाले बिल्डर की रेटिंग घटाई

मूडीज ने मुंबई में ट्रंप टावर बनाने वाले बिल्डर की रेटिंग घटाई

मूडीज ने मैक्रोटेक डेवलपर्स (Macrotech Developers), जिसे पहले लोढ़ा डेवलपर्स (Lodha Developers) के रूप में जाना जाता था की रेटिंग घटाकर Caa1 कर दी है.

मूडीज ने मैक्रोटेक डेवलपर्स (Macrotech Developers), जिसे पहले लोढ़ा डेवलपर्स (Lodha Developers) के रूप में जाना जाता था की रेटिंग घटाकर Caa1 कर दी है.

मूडीज ने मैक्रोटेक डेवलपर्स (Macrotech Developers), जिसे पहले लोढ़ा डेवलपर्स (Lodha Developers) के रूप में जाना जाता था की रेटिंग घटाकर Caa1 कर दी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. मूडीज इन्वेस्टर सर्विसेज (Moody’s Investors Service) ने देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ट्रंप टावर (Trump Tower) बनाने वाले डेवलपर की रेटिंग में कटौती की है. रेटिंग में कटौती यह दर्शाता है कि देश के रियल एस्टेट सेक्टर (Real Estate Sector) में समस्याएं कितनी गहरी होती जा रही है.

    ब्लूमबर्ग में छपी खबर के मुताबिक, मूडीज ने मैक्रोटेक डेवलपर्स (Macrotech Developers), जिसे पहले लोढ़ा डेवलपर्स (Lodha Developers) के रूप में जाना जाता था, की रेटिंग एक कदम घटाकर Caa1 कर दी है. रेटिंग में कटौती से बताता है कि फर्म का कर्ज दायित्व बहुत अधिक क्रेडिट जोखिम के अधीन है. कंपनी के 325 मिलियन डॉलर बॉन्ड अगले साल मार्च में परिपक्व होंगे.

    मूडीज की एनालिस्ट स्वेता पाटोदिया ने कहा, हालांकि कंपनी ने अपने रिफाइनेंसिंग प्रयासों में कुछ प्रगति की है, लेकिन आज तक इसके उपाय महत्वपूर्ण रिफाइनेंसिंग जोखिमों को पूरी तरह से कम नहीं करते हैं.

    ये भी पढ़ें: बड़ी खबर! Aadhaar में एड्रेस बदलने और बैंक खाता खोलने की प्रक्रिया में सरकार ने किया बदलाव

    भारतीय प्रॉपर्टी कंपनियां, जो उधार के लिए बैंकों पर भरोसा करती रही हैं, कर्ज से उबरने के लिए संघर्ष कर रही हैं, क्योंकि लेंडर्स खुद नकदी की कमी का सामना कर रहे हैं, डिफॉल्ट होने की संभावना बढ़ गई है. गैर-बैंक फाइनेंसर दीवान हाउसिंग फाइनेंस कार्पोरेशन (DHFL) के एक डिफॉल्ट ने भी इस साल निवेशकों को परेशान किया है.

    मूडीज के डाउनग्रेड का नहीं पड़ेगा प्रभाव
    कंपनी के प्रवक्ता की एक ईमेल द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, मैक्रोटेक ने325 मिलियन डॉलर के सभी बॉन्डों को चुकाने की व्यवस्था की है. इसमें लंदन रियल एस्टेट इन्वेंट्री के रिफाइनेंसिंग के माध्यम से 150 मिलियन डॉलर जुटाए गए शामिल हैं. वहीं भारत में एक फैमिली ऑफिस की बिक्री से 70 मिलियन डॉलर और एक कमर्शियल बिल्डिंग की बिक्री से 100 मिलियन डॉलर जुटाए हैं. मैक्रोटेक के अनुसार, मूडीज के डाउनग्रेड का कंपनी का भारत के कारोबार पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

    ये भी पढ़ें:
    121 रु से करें बेटी के कन्यादान के लिए पैसे जोड़ना, LIC की इस से मिलेंगे 27 लाख
    FD को छोड़ अब लोग यहां लगा रहे हैं पैसा, आप भी उठा सकते हैं फायदा!

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज