अपना शहर चुनें

States

फेक GST इनवॉइस: 8 हजार संस्थाओं के खिलाफ 2500 केस दर्ज, 8 चार्टर्ड अकाउंटेंट समेत 258 गिरफ्तार

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

फेक जीएसटी इनवॉइस (Fake GST Invoice) के खिलाफ देशभर में चल रहे अभियान में अब तक 258 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2021, 10:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. फेक जीएसटी इनवॉइस (Fake GST Invoice) के खिलाफ देशभर में चल रहे अभियान में अब तक 8 हजार संस्थाओं के खिलाफ 2500 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं. यह अभियान नवंबर 2020 के मध्य से शुरू हुआ था. अब तक 8 चार्टर्ड अकाउंटेंट (Chartered Accountants) समेत 258 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं. अभियान के जरिए अधिकारियों ने फ्रॉड करने वालों से 820 करोड़ रुपये रिकवर किए हैं.

नाम न छापने की शर्त पर केंद्र सरकार के एक अधिकारी ने कहा कि केंद्र सरकार ने इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (Institute of Chartered Accountants of India) को दोषी चार्टर्ड अकाउंटेंट के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है.

ये भी पढ़ें- सेंसेक्स 50 हजार के पार होने से बाजार में चल सकता है मुनाफावसूली का दौर, बजट पर टिकी हैं निगाहें



अधिकारी ने कहा कि आठवें चार्टर्ड अकाउंटेंट को 23 जनवरी को गिरफ्तार किया गया. सीए को उसके चार साथियों के साथ जयपुर में पकड़ा गया. ये सभी लोग फर्जी इनवॉइस और टैक्स क्रेडिट की सुविधा लेने के लिए 25 फेक कंपनियां चला रहे थे.
ये भी पढ़ें- कभी डूबने की कगार पर खड़े Yes Bank ने की तगड़ी कमाई! दिसंबर 2020 तिमाही में हुआ 150 करोड़ रुपये का मुनाफा

अधिकारी ने बताया कि ई-कॉमर्स सेगमेंट की कुछ बड़ी कंपनियों सहित इनपुट टैक्स क्रेडिट फ्रॉड के अंतिम बेनिफिशरी की भी पहचान की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज