सोने की ज्वेलरी को छोड़ अब इस चीज में सबसे ज्यादा पैसा लगाती है महिलाएं, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

एनारॉक (ANAROCK)ने कंज्यूमर सेंटीमेंट सर्वे किया है.

महिलाओं के बारे में एक आम धारणा है कि उनका रुझान गोल्ड की तरफ ज्यादा होता है. लेकिन अब ऐसा नहीं है. अब महिलाओं का ज्यादा फोकस प्रॉपर्टी में निवेश करने पर है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. महिलाएं अब सिर्फ घर नहीं संभाल रही बल्कि घर खरीद भी रही हैं. 21वीं सदी की महिलाएं अपनी वित्तीय (Women Empowerment) स्थिति मजबूत करने को लेकर काफी सजग हैं. महिलाओं के बारे में एक आम धारणा है कि उनका रुझान गोल्ड (Gold Buying) की तरफ ज्यादा होता है. लेकिन अब ऐसा नहीं है. अब महिलाओं का ज्यादा फोकस प्रॉपर्टी में निवेश करने पर है. पहले जहां महिलाएं गोल्ड या FD को निवेश के लिए बेहतर मानती थीं वहीं अब वे प्रॉपर्टी में पैसा लगा रही हैं. एनारॉक (ANAROCK)ने कंज्यूमर सेंटीमेंट सर्वे किया है. इस सर्वे में करीब 18 फीसदी महिलाएं शामिल हैं.

    सर्वे के मुताबिक, 57 फीसदी महिलाओं ने निवेश के लिए प्रॉपर्टी को बेहतर विकल्प माना है. इसके बाद 28 फीसदी महिलाएं स्टॉक मार्केट और 11 फीसदी महिलाएं FD में निवेश करना चाहती हैं. सबसे कम सिर्फ 4 फीसदी महिलाएं ही गोल्ड में पैसा लगाना चाहती हैं.

    ये भी पढ़ें- कैसे वॉट्सएप मैसेज ने तोड़ी 1 लाख करोड़ रुपये की पॉल्ट्री इंडस्ट्री की कमर!

    महिलाएं घर इसलिए खरीदना चाहती हैं क्योंकि उससे उनका असाधारण रिश्ता है. बदलते सामाजिक आर्थिक परिवेश में मुमकिन है कि दूसरे रिश्ते बदल सकते हैं लेकिन घर से रिश्ता महिलाओं को मजबूती देता है.

    क्या कहते हैं आंकड़े- एनारॉक के आंकड़ों के मुताबिक, जो महिलाएं निवेश के लिहाज से प्रॉपर्टी खरीदती हैं उनमें से 45 फीसदी दाम बढ़ने पर प्रॉपर्टी बेच देती हैं. वहीं 32 फीसदी महिलाएं उसे किराए पर लगाकर उससे एक तय रकम कमाना पसंद करती हैं. जबकि 23 फीसदी महिलाएं भविष्य के लिए प्रॉपर्टी में निवेश करती हैं.

    कब निवेश करती हैं महिलाएं-करीब 18 फीसदी महिलाएं नई लॉन्च प्रॉपर्टी में निवेश करना पसंद करती हैं. जबकि 58 फीसदी महिलाएं सुरक्षित निवेश करते हुए उन घरों में पैसा लगाना चाहती हैं जो एक साल के भीतर तैयार हो जाएं. जबकि 24 फीसदी महिलाएं कोई रिस्क नहीं लेना चाहती और पूरी तरह तैयार घर खरीदती हैं.

    करीब 63% महिलाएं 2BHK खरीदना चाहती हैं. जबकि 23% महिलाएं 3 BHK और सिर्फ 14% महिलाएं 1 BHK खरीदना चाहती हैं. इसका एक दिलचस्प आंकड़ा ये हैं कि मिलेनियल्स महिलाएं छोटे घर नहीं खरीदना चाहती हैं. जो महिलाएं 2BHK घर खरीदना चाहती हैं उनमें से 50% से ज्यादा बड़े साइज का घर लेना चाहती हैं.

    महिलाओं के प्रॉपर्टी खरीदने का फायदा-महिलाओं के लिए प्रॉपर्टी में निवेश बेहतर डील है क्योंकि इस पर इन्हें कई तरह के फायदे मिलते हैं. कई बैंक महिलाओं को पुरुषों के मुकाबले कम रेट पर होम लोन देते हैं.

    वहीं स्टांप ड्यूटी की बात करें तो महिलाओं का खर्च इसमें भी पुरुषों के मुकाबले कम है. दिल्ली, यूपी, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में अगर कोई महिला प्रॉपर्टी खरीदती है तो उसे कम स्टांप ड्यूटी देना पड़ता है.

    पंजाब में तो यह फर्क 4 फीसदी तक है. दिल्ली में पुरुषों के लिए स्टांप ड्यूटी 6 फीसदी और महिलाओं के लिए 4 फीसदी है. हरियाणा के ग्रामीण इलाकों में पुरुषों के लिए 5 फीसदी और महिलाओं के लिए 3 फीसदी है. जबकि शहरी इलाके में 7 फीसदी पुरुषों के लिए और महिलाओं के लिए 5 फीसदी है.

    यूपी में पुरुषों को 7 फीसदी स्टांप ड्यूटी देना पड़ता है जबकि महिलाओं को इस पर 10,000 रुपए की छूट है. राजस्थान में पुरुषों के लिए स्टांप ड्यूटी 5 फीसदी और महिलाओं के लिए 4 फीसदी है. पंजाब में यह 8 फीसदी और 4 फीसदी है. महाराष्ट्र इस मामले में अलग है. वहां महिला पुरुष, दोनों को 5 फीसदी स्टांप ड्यूटी देना पड़ता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.