केंद्र की रिपोर्ट में खुलासा! 150 करोड़ के 448 इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स की लागत में 4.02 लाख करोड़ रुपये की बढ़ोतरी

लागत में बढ़ोतरी वाले प्रोजेक्‍ट्स पर जनवरी 2021 तक कुल 12,29,517.04 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं.

लागत में बढ़ोतरी वाले प्रोजेक्‍ट्स पर जनवरी 2021 तक कुल 12,29,517.04 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं.

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय की हाल में जारी एक रिपाेर्ट बताती है कि 1,739 प्रोजेक्ट में से 448 की लागत में बढ़ोतरी हुई है. वहीं, 539 प्रोजेक्ट देरी से चल रहे हैं. इसके अलावा 941 प्रोजेक्ट्स के पूरा होने की अवधि के बारे में सूचना नहीं.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत में चल रहे 150 करोड़ रुपये से अधिक के 448 इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट (448 Central Sector Infrastructure Projects) की लागत में कुल 4.02 लाख करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई है. सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय ( Ministry of Statistics and Program Implementation) की हाल में जारी एक रिपाेर्ट में इसका खुलासा हुआ है. मंत्रालय 150 करोड़ रुपये और उससे अधिक मूल्य के इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट की निगरानी करता है.



प्रोजेक्‍ट्स की लागत में 18 फीसदी से ज्‍यादा की हो गई है बढ़ोतरी

रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसे 1739 प्रोजेक्ट में से 448 की लागत में बढ़ोतरी हुई है और 539 प्रोजेक्ट देरी से चल रहे हैं. रिपोर्ट में जनवरी 2021 के बारे में कहा गया है कि 1,739 प्रोजेक्टों के कार्यान्वयन की कुल मूल लागत (Original Cost) 22,18,210.29 करोड़ रुपये थी. अब उनकी अनुमानित लागत (Completion Cost) 26,20,618.44 करोड़ रुपये है, जो 4,02,408.15 करोड़ रुपये (मूल लागत का 18.14 प्रतिशत) की कुल बढ़ोतरी को दर्शाता है.



ये भी पढ़े - पीयूष गोयल बोले- पश्चिम बंगाल में 3 साल में होगा रेलवे ट्रैक का पूरी तरह से विद्युतीकरण


देरी से चलने वाले प्रोजेक्‍ट्स की संख्‍या रह जाएगी 401


रिपोर्ट के मुताबिक, इन प्रोजेक्ट पर जनवरी 2021 तक कुल 12,29,517.04 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं, जो प्रोजेक्टों की अनुमानित लागत का 46.92 प्रतिशत है. हालांकि, रिपोर्ट में कहा गया है कि यदि प्रोजेक्ट के पूरा होने की ताजा समयसारिणी के अनुसार गणना की जाए तो देरी से चल रहे प्रोजेक्टों की संख्या घटकर 401 हो सकती है. इसके अलावा 941 प्रोजेक्ट के पूरा होने की अवधि के बारे में सूचना नहीं दी गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज