लाइव टीवी

आम्रपाली बिल्डर की धोखाधड़ी से परेशान क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी सुप्रीम कोर्ट पहुंचे

News18Hindi
Updated: April 27, 2019, 7:00 PM IST

आम्रपाली बिल्डर की धोखाधड़ी से आम आदमी ही नहीं क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी भी परेशान हैं. आम्रपाली के खिलाफ धोनी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2019, 7:00 PM IST
  • Share this:
आम्रपाली बिल्डर की धोखाधड़ी से आम आदमी ही नहीं क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी भी परेशान हैं. आम्रपाली के खिलाफ धोनी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए है. धोनी ने अपनी नई याचिका में कोर्ट से गुहार लगाई है कि आम्रपाली प्रोजेक्ट में उन्हें पेंटहाउस का कब्जा दिलाया जाए और घर खरीदारों की तरह लेनदारों की सूची में शामिल किया जाए. आपको बता दें कि 46 हजार होमबायर्स की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा है, जिन्हें समय पर फ्लैट नहीं दिया गया. कोर्ट ने आम्रपाली ग्रुप की सभी संपत्तियों को जब्त करने का आदेश दिया है. धोनी भी अपने वित्तीय हित की रक्षा के लिए सर्वोच्च अदालत पहुंचे हैं.

सुप्रीम कोर्ट पहुंचे महेंद्र सिंह धोनी
> महेंद्र सिंह धोनी ने कोर्ट से कहा है कि आम्रपाली समूह ने उनके साथ कई समझौते किए, लेकिन उनकी सेवाओं के लिए भुगतान नहीं किया.

(ये भी पढ़ें-आपके PF का पैसा हो जाएगा डबल! अगले 3 दिन में करना होगा ये काम)

(फाइल फोटो)


>> आम्रपाली ग्रुप पर 38.95 करोड़ रुपये बकाया हैं जिसमें से 22.53 करोड़ रुपये मूलधन हैं और 16.42 करोड़ रुपये ब्याज होगा जिसकी गणना 18 फीसदी वार्षिक साधारण ब्याज के साथ की गई है.
 आम्रपाली समूह पर शिकंजा कसते हुए सुप्रीम कोर्ट ने 28 फरवरी को इसके सीएमडी अनिल शर्मा और दो डायरेक्टर्स शिव प्रिय और अजय कुमार को पुलिस हिरासत में भेज दिया था. अभी मामले की सुनवाई चल रही है.
Loading...

(ये भी पढ़ें-IRCTC: भारतीय रेलवे ने आसान बनाई कन्फर्म टिकट की बुकिंग, जानें नई सर्विस के बारे में)

(फाइल फोटो)


जेल में हैं आम्रपाली के प्रमोटर्स- आम्रपाली समूह पर शिकंजा कसते हुए सुप्रीम कोर्ट ने 28 फरवरी को इसके सीएमडी अनिल शर्मा और दो डायरेक्टर्स शिव प्रिय और अजय कुमार को पुलिस हिरासत में भेज दिया था. अभी मामले में की सुनवाई चल रही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 27, 2019, 6:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...