बिज़नेस के लिए मोदी सरकार बिना गारंटी दे रही है 50000 का लोन, 10 करोड़ लोग अभी उठा रहे हैं फायदा, आपके पास भी है मौका

बिज़नेस के लिए मोदी सरकार बिना गारंटी दे रही है 50000 का लोन, 10 करोड़ लोग अभी उठा रहे हैं फायदा, आपके पास भी है मौका
बिज़नेस के लिए मोदी सरकार बिना गारंटी के दे रही है 50000 का लोन, ऐसे करें Apply

अगर आप कोई नया बिज़नेस शुरू करने का प्लान कर रहे हैं और उसके लिए क़र्ज़ नहीं मिलने की समस्या से जूझ रहे हैं तो प्रधानमंत्री मोदी का ये तोहफा आपके लिए है. कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण मोदी सरकार मुद्रा शिशु योजना के तहत लोन पर ब्याज दरों में 2 प्रतिशत तक की छूट दे रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आप कोई नया बिज़नेस शुरू करने का प्लान कर रहे हैं और उसके लिए क़र्ज़ नहीं मिलने की समस्या से जूझ रहे हैं तो प्रधानमंत्री मोदी का ये तोहफा आपके लिए है. कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण मोदी सरकार मुद्रा शिशु योजना (Shishu Mudra Yojana) के तहत लोन पर ब्याज दरों में 2 प्रतिशत तक की छूट दे रही है. सरकार द्वारा लोन में दी गई इस छूट का फायदा देश में एक या दो नहीं बल्कि 9 करोड़ 37 लाख लोगों को मिलेगा.

यहां से मिलेगा शिशु मुद्रा लोन
इस लोन को मुख्य रूप से दुकान खोलने, रेहडी पटरी या कोई अन्य छोटा काम शुरू करने के लिए ले सकते हैं. यह लोन वाणिज्यिक बैंकों से लेकर स्मॉल फाइनेंस बैंक, एमएफआईऔर एनबीएफसी द्वारा दिया जाता है. इस योजना में बिना किसी गारंटी के लोन दिया जाता है. इसमें कोई भी शख्स इन संस्थानों में जाकर लोन के विषय में जानकारी लेने के साथ ही एप्लाई कर सकते हैं. इसके साथ ही सरकार के https://www.udyamimitra.in ऑनलाइन पॉर्टल पर जाकर भी लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें:- 1 जुलाई से बदल जाएंगे आपके बैंक खाते से जुड़े ये 3 नियम, नहीं जानने पर होगा भारी नुकसान
शिशु मुद्रा लोन क्या है?


Shishu Mudra Yojana शिशु मुद्रा योजना के तहत लोन लेकर अपना काम शुरू कर सकते हैं. सरकार इसी लोन पर आप को 2 प्रतिशत तक की छूट दे रही है. इस योजना के तहत आप अपना छोटा मोटा काम शुरू करने के लिए 50 हजार रुपये तक का लोन ले सकते हैं.

इतना लगता है शिशु मुद्रा लोन पर इंटरेस्ट?
इस योजना के तहत 9 से 12 प्रतिशत तक का ब्याज लगता है. जिसमें सरकार ने अब 2 प्रतिशत तक की छूट दे दी है. मुद्रा योजना के तहत लोन लेने वाले शख्स को ब्याज में यह छूट 1 जून 2020 से 31 मई 2021 तक मिल सकेगी. इसके लिए इस वर्ष में 1540 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे.

ये भी पढ़ें:- वित्त मंत्री जल्द करेंगी जनधन खातों को लेकर बैठक, ग्राहकों के हित में हो सकते हैं कई फैसले

बिना गारंटी के मिलता है लोन
मुद्रा योजना के तहत बिना गारंटी के लोन मिलता है. इसके अलावा लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है. मुद्रा योजना में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है. लोन लेने वाले को एक मुद्रा कार्ड मिलता है, जिसकी मदद से कारोबारी जरूरत पर आने वाला खर्च किया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading