Jio का स्‍वदेशी 5G सॉल्‍यूशन चीन की इस कंपनी के लिए होगा तगड़ा झटका!

Jio का स्‍वदेशी 5G सॉल्‍यूशन चीन की इस कंपनी के लिए होगा तगड़ा झटका!
रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बताया कि कंपनी स्‍वदेशी 5G सॉल्‍यूशन का निर्यात भी करेगी.

चीन की 5G सॉल्‍यूशन उपलब्‍ध कराने वाली कंपनी हुवेई (Huwawei) पर डाटा चोरी के आरोप लग चुके हैं. ब्रिटेन और अमेरिका हुवेई पर पाबंदी लगा चुके हैं. वहीं, रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Reliance Industry Chairman Mukesh Ambani) ने जियो के स्‍वदेशी 5G (Jio5G) सॉल्‍यूशन तैयार होने की घोषणा करते हुए कहा कि कंपनी इसे निर्यात भी करेगी.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. रिलायंस इंडस्ट्री की 43वीं एजीएम (RIL 43rd AGM 2020) में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Reliance Industry Chairman Mukesh Ambani) ने बताया कि जियो ने मेड इन इंडिया 5G सॉल्‍यूशन तैयार कर लिया है. ये सॉल्‍यूशन भारत में वर्ल्ड क्लास 5G सर्विस उपलब्‍ध कराएगा. साथ ही बताया कि स्‍पेक्‍ट्रम मिलते ही इसका ट्रायल शुरू कर दिया जाएगा. मुकेश अंबानी ने जियो के 5G (Jio5G) सॉल्‍यूशन को पीएम नरेंद्र मोदी (Pm Narendra Modi) के 'आत्‍मनिर्भर भारत' अभियान (ATMANIRBHAR BHARAT) को समर्पित किया है, जिसे अगले साल तक पेश किया जाएगा. ये 100 फीसदी 'मेड इन इंडिया' होगा.

दुनियाभर में जासूसी के आरोपों में घिरी है चीन की हुवेई
भारत का यह स्‍वदेशी 5G सॉल्‍यूशन चीन की कंपनी हुवेई (Huwawei) से टक्‍कर लेगा. रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बताया क‍ि इसे दुनियाभर में न‍िर्यात (Export) भी किया जाएगा. उन्‍होंने कहा कि सरकार की ओर से 5जी सेवाओं के लिए स्‍पेक्‍ट्रम का ऐलान होते ही जियो 5जी सेवाओं को ट्रायल के लिए शुरू कर दिया जाएगा. जियो का 5जी सॉल्‍यूशन दूसरी टेलीकॉम कंपनियों को उपलब्‍ध कराया जाएगा. वहीं, चीन की टेलीकॉम इक्‍यूपमेंट बनाने वाली कंपनी हुवेई दुनियाभर में जासूसी के आरोपों में घ‍िरी है. ऐसे में जियो 5G सॉल्‍यूशन हुवेई के लिए तगड़ा झटका साबित होगा.

ये भी पढ़ें- रिलायंस जियो के बाद रिटेल में निवेश की इच्‍छा जता रहे हैं दुनिया के बड़े निवेशक, जल्द हो सकती है डील
अमेरिका और ब्रिटेन की सरकारें हुवेई पर लगा चुकी हैं रोक


रिलायंस के चेरयमैन ने जियो 5जी का ऐलान ऐसे समय किया है, जब पूरी दुनिया में चीन की हुवेई पर कई तरह के आरोप लग रहे हैं. हाल में अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा था कि जियो साफ सुथरी कंपनी है, जिसका हुवेई से कोई संबंध नहीं है. अमेरिका ने हुवेई के सभी उपकरणों के इस्‍तेमाल पर पाबंदी लगा दी है. अमेरिका के बाद अब ब्रिटेन ने हुवेई को 5जी नेटवर्क बनाने से रोक दिया है. ब्रिटेन की सरकार ने टेलीकॉम कंपनियों को निर्देश दिया है कि वे 2027 तक 5जी नेटवर्क से हुवेई के सभी उपकरण हटा दें.

ये भी पढ़ें :- कोरोना संकट के बीच जियो मार्ट 200 शहरों में हर दिन पहुंचा रहा है 2.5 लाख ऑर्डर

'देश की सुरक्षा के लिए खतरनाक है हुवेई की मौजूदगी'
ब्रिटेन की नेशनल साइबर सिक्योरिटी काउंसिल की रिपोर्ट की समीक्षा के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की अध्यक्षता में हुई राष्‍ट्रीय सुरक्षा परिषद (NSC) की बैठक में फैसला लिया गया कि देश में 5जी नेटवर्क के निर्माण में चीनी कंपनी की साझेदारी को पूरी तरह से खत्‍म कर दिया जाए. हुवेई पर यूजर्स का डाटा चुराने और गोपनीय जानकारी को लीक करने का आरोप लगाया है. ब्रिटेन के कल्‍चरल सेक्रेटरी ओलिवर डाउडेन ने कहा कि 5जी नेटवर्क में हुवेई की मौजूदगी देश की सुरक्षा के लिए खतरनाक हो सकती है. हुवेई अपने उपकरणों की सुरक्षा की गांरटी भी नहीं दे पाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading