• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • ₹4 वाले Tata Group के इस शेयर से निवेशक हुए मालामाल! सालभर में ₹1 लाख बन गए 12 लाख रुपये

₹4 वाले Tata Group के इस शेयर से निवेशक हुए मालामाल! सालभर में ₹1 लाख बन गए 12 लाख रुपये

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने कोरोना संकट के बीच बाजार से तगड़ा फंड जुटाया.

Multibagger Stock- आज हम आपको ऐसे स्टाॅक के बारे में बता रहे हैं, जिसने महज 12 महीने यानी कि सालभर में ही निवेशकों के 1 लाख की रकम को 12.29 लाख रुपये में बदल दिया.

  • Share this:

    नई दिल्ली. शेयर बाजार (Stock Market) के प्रति निवेशकों की दिलचस्पी बढ़ी है. दिलचस्पी बढ़ने के पीछे सबसे बड़ा कारण है- बाजार का शानदार प्रदर्शन. पिछले एक वर्ष के दौरान कई छोटे और मध्यम कंपनियों के शेयरों में जोरदार तेजी देखने को मिली है. स्माॅल कैप (Small Cap) और मिड कैप (Mid Cap) शेयरों ने निवेशकों को कम समय में बेहतर रिटर्न (Stock Return) दिया है. आज हम आपको ऐसे स्टाॅक के बारे में बता रहे हैं जिसने महज 12 महीने यानी कि सालभर में ही निवेशकों के 1 लाख की रकम को 12.29 लाख रुपये में बदल दिया. ये स्टाॅक है- टाटा टेलीसर्विसेज (महाराष्ट्र) लिमिटेड (Tata Teleservices Ltd). टाटा टेलीसर्विसेज (महाराष्ट्र) लिमिटेड के शेयर ने एक साल में अपने शेयरधारकों को 1,129% रिटर्न दिया है.

    4 रुपये का शेयर अब 47 रुपये का हो गया
    टाटा टेलीसर्विसेज (महाराष्ट्र) लिमिटेड शेयर की बात करें तो यह शेयर पिछले साल बीएसई (BSE) पर 9 जून, 2020 को महज 3.82 रुपये पर बंद हुआ था. अब इस शेयर की वैल्यू 46.95 रुपये है. यानी कि अगर कोई निवेशक एक साल पहले टाटा टेलीसर्विसेज के शेयर में निवेश 1 लाख रुपये निवेश करते तो आज वह 12.29 लाख रुपये में बदल जाता. इस अवधि के दौरान इस स्टॉक का 1,086 फीसदी का बेहतर प्रदर्शन रहा है. टाटा टेलीसर्विसेज की हिस्सेदारी इस साल की शुरुआत से 489% बढ़ी है और एक महीने में 113% चढ़ गई है.

    ये भी पढ़ें- Gold Price: ₹7 हजार तक सस्ता मिल रहा सोना, अभी खरीदारी पर मिलेगा बड़ा फायदा, एक्सपर्ट दे रहे सलाह

    मार्केट कैप 9,178 करोड़ रुपये
    टाटा टेलीसर्विसेज का शेयर 5 दिन, 20 दिन, 50 दिन, 100 दिन और 200 दिन के मूविंग एवरेज से ऊपर कारोबार कर रहा है. हालांकि, पिछले कुछ सत्र में टाटा समूह की फर्म का मार्केट कैप बीएसई पर गिरकर 9,178 करोड़ रुपये पर आ गया है. मार्च तिमाही के अंत में प्रमोटरों के पास फर्म में 74.36 फीसदी हिस्सेदारी थी और सार्वजनिक शेयरधारकों के पास 25.64% हिस्सेदारी थी.
    मार्च तिमाही के अंत में स्टॉक दो एफआईआई (0.01% हिस्सेदारी) के पास था.दिसंबर तिमाही में एफआईआई की फर्म में कोई हिस्सेदारी नहीं थी. मुंबई स्थित फर्म के शेयर ने पिछले एक साल में अपने Competitor Stock से बेहतर प्रदर्शन किया है.

    ये भी पढ़ें- 4 August को मिलेगा कमाई का मौका! 4 दिग्गज कंपनियों के आईपीओ होंगे लाॅन्च, जानें कहां कितना पैसा लगाना है?

    जानें कंपनी के बारे में
    फर्म ने मार्च तिमाही में 288.29 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया, जबकि पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 873.96 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. पिछले वित्त वर्ष की जून तिमाही में इसका घाटा बढ़कर 1,069 करोड़ रुपये हो गया. तब से, फर्म ने तिमाही आधार पर घाटे में कमी दर्ज की है. वार्षिक आधार पर भी, मार्च 2021 को समाप्त वित्त वर्ष के लिए फर्म का शुद्ध घाटा घटकर 1,996.69 करोड़ रुपये रह गया, जो मार्च 2020 को समाप्त वित्तीय वर्ष के लिए 3,714 करोड़ रुपये का था. वित्तीय वर्ष 2021 तक, फर्म पर कुल 17,774.47 करोड़ रुपये का कर्ज था.
    टाटा टेलीसर्विसेज के लिए टाटा संस के हालिया कदमों ने स्टॉक में रैली में योगदान हो सकता है.
    रिपोर्टों के अनुसार, टाटा टेलीसर्विसेज को टाटा टेली बिजनेस सर्विसेज (टीटीबीएस) नामक एक नए अवतार में पुनर्जीवित किया जा रहा है, जो छोटे और मध्यम उद्यमों को पूरा करेगा.

    (डिस्क्लेमर: मार्केट इंवेस्टमेंट बाजार रिस्क जोखिमों के अधीन है. निवेशक पैसा लगाने से पहले एक्सपर्ट से सलाह करें. News18.com की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की सलाह नहीं दी जाती है.)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज