• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Good News: FSSAI ने कहा-अब सस्ता हो जाएगा सरसों का तेल, हटी ब्‍लेंडिंग की रोक

Good News: FSSAI ने कहा-अब सस्ता हो जाएगा सरसों का तेल, हटी ब्‍लेंडिंग की रोक

महंगा हो जाएगा सरसों-रिफाइंड का तेल

महंगा हो जाएगा सरसों-रिफाइंड का तेल

फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) ने बताया है कि सरसों के तेल पर लगी ब्लेंडिंग की रोक को हटा दिया गया है. दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) में एक याचिका पर हुई सुनवाई के बाद एफएसएसएआई ने यह फैसला लिया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सरसों के तेल (Mustard oil) में ब्लेंडिंग (Blending) के संबंध में भारतीय खाद्य संरक्षा व प्राधिकरण ने एक लैटर जारी किया है. इस लैटर के जारी होने के बाद अब देशभर में सरसाें का तेल सस्ता होने की उम्मीद है. फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (FSSAI) ने बताया है कि सरसों के तेल पर लगी ब्लेंडिंग की रोक को हटा दिया गया है. दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) में एक याचिका पर हुई सुनवाई के बाद एफएसएसएआई ने यह फैसला लिया है. बता दें कि अक्टूबर में सरकार ने ब्लेंडिंग पर रोक लगा दी थी. इसके बाद अक्टूबर से सरसों के तेल के दाम बढ़ना शुरू हो गए थे. इसी के चलते आज देशभर में सरसों का तेल 150 से 190 रुपये प्रति किलोग्राम तब बिक रहा है. ब्लेंडिंग पर रोक लगाने के बाद ही कुछ तेल कंपनियां दिल्ली हाईकोर्ट चले गए थे.

    तेल में होने वाले सम्मिश्रण को कहते हैं ब्लेंडिंग
    रिटायर्ड फूड इंस्पेक्टर केसी गुप्ता बताते हैं कि तय मात्रा के तहत सरसों के तेल में मिलाए जाने वाले दूसरे तेलों के सम्मिश्रण को ब्लेंडिंग कहते हैं. अभी तक सरसों के तेल में 20 फीसद तक ब्लेंडिंग होती थी. सरकार ने इस पर रोक लगा दी है. इसके पीछे सरकार का तर्क है कि एक तो प्योर सरसों इस्तेमाल होने से सरसों की खपत बढ़ेगी. दूसरे कुछ लोग ब्लेंडिंग की आड़ में मिलावट का धंधा चला रहे थे, जिस पर रोक लगेगी.

    ये भी पढ़ें- पोल्ट्री फार्म मालिकों के ऐलान से आधे रेट पर आ गईं मुर्गियां, अंडे भी हुए सस्ते

    ब्लेंडिंग से 2 महीने में इतने बढ़ गए दाम
    भारतीय खाद्य तेल व्यापारी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष शंकर ठक्कर के अनुसार, तेल के 15 लीटर वाले टीन में पाम ऑयल 1200 से 1750, सनफ्लावर 1500 से 1950, सरसों का तेल 1750 से 2250, मूंगफली का तेल 1750 से 2200 रुपये के रेट पर आ गया है. वहीं, एक लीटर वाले पाउच में पाम ऑयल 75 से 110 रुपये तक हो गया है. सनफ्लावर 98 से 130 रुपये, सरसों का तेल 110 से 150 रुपये लीटर तक बिक रहा है. कुछ खास ब्रांड का तेल 190 रुपये लीटर तक भी बिक रहा है, जबकि मूंगफली का तेल 110 से 200 रुपये लीटर बिक रहा है.

    ये भी पढ़ें- GST Compensation: केंद्र ने राज्यों को जारी किए 6,000 करोड़ रुपये, अब तक जारी किए 36 हजार करोड़ रुपये

    मिलाए गए तेल की मात्रा जांचने की तकनीक उपलब्‍ध नहीं
    ब्लेंडिंग से हटी रोक पर अखिल ठक्कर ने बताया कि एफएसएसएआई ने सरसों के तेल में अन्य खाद्य तेल मिलाने पर पाबंदी की रोक 4 दिसंबर को वापस ले ली है. दूसरी तरफ सरकार को यह भी सोचना चाहिए कि छोटे उत्पादक या दुकानदार से गलती से भी एक तेल में दूसरा तेल मिलने पर कड़ी कार्यवाही की जाती है और उसको मिलावट का नाम दिया जाता है. वहीं, सरकार खुद बड़े उद्योगपतियों को बाकायदा मिश्रण करने की मंजूरी दे रही है. ब्लेंडिंग के तहत मिलाए गए तेल की मात्रा की जांच के लिए कोई भी तकनीक उपलब्ध नहीं है. सरकार को इसके बारे में भी गंभीरता से सोचना चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज