कोरोनाकाल में Mutual Fund कंपनियां निवेशकों को दे रहींं खास सुरक्षा! SIP के साथ मिलेगा 50 लाख तक का मुफ्त बीमा

देश में कुछ म्‍यूचुअल फंड कंपनियां एसआईपी के साथ बीमा सुरक्षा की पेशकश कर रही हैं.

देश में कुछ म्‍यूचुअल फंड कंपनियां एसआईपी के साथ बीमा सुरक्षा की पेशकश कर रही हैं.

कोरोना संकट (Corona Crisis) को देखते हुए कुछ म्यूचुअल फंड कंपनियां (MF Companies) सिस्‍टेमैटिक इंवेस्‍टमेंट प्‍लांस (SIP) के साथ मुफ्त बीमा सुरक्षा भी उपलब्‍ध करा रही हैं. इसमें निवेशकों को हर महीने लगाई जाने वाली पूंजी के 20 गुना से लेकर 120 गुना तक का इंश्‍योरेंस कवर (Insurance Cover) मिलेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 29, 2021, 10:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस की रफ्तार को काबू में करने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण हाउसहोल्‍ड सेविंग्‍स बढ़ी है. वहीं, इस बीच लोगों में हेल्‍थ, टर्म और लाइफ इंश्‍योरेंस की मांग में भी इजाफा (Insurance Demand Increased) हुआ है. पिछले एक साल के दौरान बड़ी संख्‍या में नए लोगों ने सिस्टमैटिक इंवेस्‍टमेंट प्लांस (SIPs) के जरिये निवेश में बढ़ोतरी की है. वहीं, लोगों ने अपने और अपनों के भविष्‍य की सुरक्षा के लिए लाइफ व हेल्‍थ इंश्‍योरेंस प्‍लान में भी पैसा लगाया है. ऐसे में कुछ म्‍यूचुअल फंड कंपनियों (MF Companies) ने सिप के जरिये निवेश करने वालों को मुफ्त बीमा सुरक्षा (Free Insurance Cover) भी देना शुरू कर दिया है. हालांकि, बीमा राशि एसआईपी की रकम और अवधि के आधार पर तय किया जा रही है.

ये कंपनियों दे रही हैं एसआईपी के साथ बीमा सुरक्षा भी

पीजीआईएम इंडिया म्यूचुअल फंड, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल, निप्पॉन इंडिया म्यूचुअल फंड, एसआईपी इंश्योरेंस और आदित्य बिड़ला सनलाइफ सेंचुरी ने एसआईपी के साथ मुफ्त बीमा सुरक्षा का लाभ देना शुरू किया है. अगर निवेशक इन फंड हाउस के एसआईपी प्लान के साथ निवेश शुरू करते हैं तो ग्रुप इंश्‍योरेंस होने के कारण उनको बिना मेडिकल जांच के इंश्योरेंस का लाभ मिलना शुरू होगा. यह एक फ्री इंश्योरेंस कवर है, जिसके लिए एसआईपी शुरू करते समय कोई भी विकल्प चुन सकता है. यह ज्यादातर फंड हाउस की सभी इक्विटी और हाइब्रिड योजनाओं पर दिया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- SEBI ने कोरोना महामारी के बीच कंपनियों को दी बड़ी राहत! चौथी तिमाही के नतीजे घोषित करने के लिए दी 45 दिन की छूट
18-51 साल तक के निवेशकों को मिलेगा इंश्‍योरेंस कवर

फंड हाउस एलिजिबल स्कीम में निवेश करने वाले 18-51 साल के निवेशकों को एसआईपी बीमा दे रहे हैं. ये बीमा सुरक्षा 55 साल तक के निवेशकों के लिए मान्य है. अगर कोई निवेशक 51 साल की उम्र में 10 साल का एसआईपी शुरू करता है तो बीमा सुरक्षा 55 साल की उम्र तक उपलब्ध रहेगी. हालांकि, कुछ कंपनियां 60 साल की उम्र तक भी बीमा सुरक्षा दे रही हैं. म्यूचुअल फंड हाउस पहले साल एसआईपी की राशि का 20 गुना बीमा कवर दे रहे हैं. दूसरे साल 75 गुना और तीसरे साल 120 गुना कवर दे रहे हैं. हालांकि, यह अधिकतम 50 लाख तक का हो सकता है.

ये भी पढ़ें- ICICI Bank ने खुदरा कारोबारियों के लिए की बड़ी घोषणा! बिना पेपरवर्क मिलेगी 25 लाख तक के ओवरड्राफ्ट की सुविधा



एसआईपी में 3 साल तक निवेश करने पर ही मिलेगा लाभ

आसान भाषा में समझें तो अगर कोई व्‍यक्ति 5,000 रुपये प्रतिमाह की एसआईपी शुरू करता है तो पहले साल इंश्योरेंस कवर 20 गुना यानी 1 लाख रुपये होगा. दूसरे साल यह 75 गुना यानी 3.75 लाख रुपये की मुफ्त बीमा सुरक्षा मिलेगा. वहीं, तीसरे साल यह 120 गुना यानी 6 लाख रुपये तक की बीमा सुरक्षा मिलेगी. अगर एसआईपी करने वाले व्यक्ति की मृत्‍यु किसी कारण से तीसरे साल हो जाती है तो उसके नॉमिनी को म्यूचुअल फंड यूनिट्स के साथ बीमा राशि भी मिल जाएगी. अगर किसी निवेशक ने एसआईपी के साथ बीमा सुरक्षा का लाभ लिया है तो उसे कम से कम 3 साल तक नियमित निवेश करना होगा. तीन साल से पहले एसआईपी बंद करने पर इंश्योरेंस के तहत मिलने वाला फायदा खत्म हो जाएगा. वहीं, तीन साल बाद एसआईपी बंद कर देने पर भी इंश्योरेंस का लाभ मिलता रहेगा. हालांकि, बीमा राशि कम हो जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज