लाइव टीवी

बाजार में भारी गिरावट के बावजूद म्यूचुअल फंड फोलियो की संख्या 50% बढ़ी, ये है वजह!

News18Hindi
Updated: March 20, 2020, 7:35 AM IST
बाजार में भारी गिरावट के बावजूद म्यूचुअल फंड फोलियो की संख्या 50% बढ़ी, ये है वजह!
एक महीने में निवेशकों के 30 लाख करोड़ रुपये साफ

15 फरवरी से 15 मार्च, 2020 के बीच म्यूचुअल फंड फोलियो में 50 फीसदी का उछाल आया है. मार्च के पहले हफ्ते में जनवरी 2020 से घरेलू शेयर बाजार 30 फीसदी तक टूट चुका है. शेयरों की कम कीमत का फायदा उठाने के लिए निवेशकों ने म्यूचुअल फंड में निवेश किये.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 20, 2020, 7:35 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के प्रकोप के चलते भारतीय घरेलू शेयर बाजार समेत दुनिया भर के बाजारों में गिरावट देखने को मिल रही है. वहीं, बाजार में गिरावट के बावजूद म्यूचुअल फंड्स फोलियो (Mutual Fund Folios) की संख्या में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. कम्प्यूटर एज मैनेजमेंट सर्विसेज (CAMS) के आंकड़ों के मुताबिक, 15 फरवरी से 15 मार्च, 2020 के बीच म्यूचुअल फंड फोलियो में 50 फीसदी का उछाल आया है. मार्च के पहले हफ्ते में जनवरी 2020 से घरेलू शेयर बाजार 30 फीसदी तक टूट चुका है. शेयरों की कम कीमत का फायदा उठाने के लिए निवेशकों ने म्यूचुअल फंड में निवेश किये.

एक महीने में निवेशकों के 30 लाख करोड़ रुपये साफ
कोरोना वायरस वैश्विक महामारी घोषित हो चुका है. इससे दुनिया भर के बाजारों में भारी बिकवाली देखने को मिली. ग्लोबल सेलऑफ का असर घरेलू शेयर बाजार पर भी हुआ और इस दौरान सेंसेक्स 7 हजार अंकों से ज्यादा टूट गया. 15 फरवरी से 15 मार्च तक बाजार में गिरावट से निवेशकों को तगड़ा झटका लगा है. इस दौरान निवेशकों का 30 लाख करोड़ रुपये स्वाहा हो गया.

ये भी पढ़ें: कोराना वायरस- लॉक डाउन के डर से आलू-प्याज के दाम बढ़े, लेकिन चिंता की कोई बात नहीं



म्यूचुअल फंड फोलियो में 50 फीसदी का इजाफा


इस दौरान बाजार में गिरावट के बीच म्यूचुअल फंड फोलियो में जोरदार उछाल आया है. एक निवेशक के कई फोलियो हो सकते है और फोलियो में 50 फीसदी की बढ़ोतरी का मतलब ये नहीं है कि 50 फीसदी नए निवेशक बढ़े हैं. फरवरी में ओपन एंडेड इक्विटी फंड में निवेश 11 महीने के हाई पर पहुंच कर 10,796 करोड़ रुपये हो गया.

म्यूचुअल फंड के जरिए करें निवेश
कोरोना वायरस के कारण मार्केट में पहले से ही काफी उथल-पुथल देखने को मिल रहा है. लेकिन, आपको इससे भयभीत होकर इन्वेस्टमेंट सम्बन्धी फैसले नहीं लेने चाहिए. म्यूचुअल फंड SIP को जारी रख सकते हैं. असल में, मार्केट गिरने का मतलब यह भी हो सकता है कि आपको कम कीमत पर ज्यादा म्यूच्यूअल फंड यूनिट्स खरीदने का मौका मिलता है यदि आप अपने SIP को जारी रखते हैं जिससे आपको आगे चलकर ज्यादा रिटर्न मिल सकता है जब मार्केट में फिर से उछाल आएगा.

ये भी पढ़ें: रेलवे का बड़ा फैसला, अब नहीं मिलेगी ट्रेन टिकटों पर कोई भी छूट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 7:35 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading