होम /न्यूज /व्यवसाय /म्यूचुअल फंड में बढ़ रहा है लोगों का रुझान, FY23 के पहले 5 महीने में जुड़े 70 लाख निवेशक

म्यूचुअल फंड में बढ़ रहा है लोगों का रुझान, FY23 के पहले 5 महीने में जुड़े 70 लाख निवेशक

म्युचुअल फंड पर बढ़ा लोगों का भरोसा

म्युचुअल फंड पर बढ़ा लोगों का भरोसा

एम्फी (Amfi) के आंकड़ों के मुताबिक, 2021-22 में 3.17 करोड़ इन्वेस्टर अकाउंट्स और 2020-21 में 81 लाख इन्वेस्टर अकाउंट्स ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. म्यूचुअल फंड को लेकर जागरूकता और डिजिटल पहुंच बढ़ने से एसेट मैनेजमेंट कंपनी (AMC) ने चालू वित्त वर्ष के पहले 5 महीनों में लगभग 70 लाख इन्वेस्टर अकाउंट्स जोड़े हैं जिनके साथ ही इनकी कुल संख्या 13.65 करोड़ हो गई है. एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया यानी एम्फी (Amfi) के आंकड़ों के मुताबिक, 2021-22 में 3.17 करोड़ इन्वेस्टर अकाउंट्स और 2020-21 में 81 लाख इन्वेस्टर अकाउंट्स जोड़े गए थे.

म्यूचुअल फंड अकाउंट्स की बढ़ती संख्या बताती है कि कैपिटल मार्केट में बड़ी संख्या में नए निवेशक आ रहे हैं और निवेश के लिए म्यूचुअल फंड का विकल्प चुन रहे हैं. मोतीलाल ओसवाल एसेट मैनेजमेंट में चीफ बिजनेस ऑफिसर अखिल चतुर्वेदी ने कहा, ‘‘नोटबंदी के कारण घरेलू बचत का वित्तीयकरण हुआ, इसे महामारी के कारण लगे लॉकडाउन ने बढ़ाया. इसके अलावा बचत के तरीकों और जोखिम लेने की क्षमता में आए व्यापक बदलाव की वजह से व्यवस्थित निवेश योजनाएं जीवन जीने का तरीका बन गईं. बाजार में तेजी की वजह से भी बड़ी संख्या में निवेशक म्यूचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं.’’

ये भी पढ़ें- Mutual Fund SIP पर निवेशकों का बढ़ा भरोसा, अगस्‍त में रिकॉर्ड पैसे लगाए, अब किस फंड में करें निवेश?

एलएक्सएमई की फाउंडर और एमडी प्रीति राठी गुप्ता ने म्यूचुअल फंड निवेशकों की बढ़ती संख्या के कई कारण गिनाए मसलन साक्षरता कार्यक्रमों से लोगों के बीच बढ़ती जागरूकता, विज्ञापन अभियान, आसान जानकारियां, डिजिटलीकरण और महिलाओं की भागीदारी बढ़ना.

इन्वेस्टर अकाउंट्स की संख्या अगस्त, 2022 में अब तक के सबसे ऊंचे स्तर पर
आंकड़ों के मुताबिक, 43 म्यूचुअल फंड कंपनियों के पास इन्वेस्टर अकाउंट्स की संख्या अगस्त, 2022 में अबतक के सबसे ऊंचे स्तर 13.65 करोड़ पर पहुंच गई, जो मार्च, 2022 में 12.95 करोड़ थी। इसका मतलब है कि इस अवधि में 70 लाख नए अकाउंट्स जोड़े गए हैं. उद्योग में 10 करोड़ इन्वेस्टर अकाउंट्स का आंकड़ा मई, 2021 में पार हुआ था.

कोविड के बाद भारतीय शेयर बाजार में तेजी
मॉर्निंगस्टार इंडिया में मैनेजर रिसर्च- एसोसिएट डायरेक्टर हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा कि कोविड के बाद भारतीय शेयर बाजार में तेजी आई है इसलिए निवेशक निवेश करने को प्रेरित हो रहे हैं। वहीं, हाल के चुनौतीपूर्ण समय में भारतीय बाजारों ने जुझारूपन दिखाया है.’’

ये भी पढ़ें- लॉन्‍ग टर्म में पाना है ज्‍यादा रिटर्न तो इन म्‍यूचुअल फंड में शुरू करें निवेश, 10 हजार महीने SIP से बनेगा बड़ा फंड

FY20 में जुड़े 73 लाख निवेशक
बीते कुछ वर्षों में म्यूचुअल फंड क्षेत्र में निवेशकों की संख्या निरंतर बढ़ी है. 2019-20 में इसमें 73 लाख इन्वेस्टर अकाउंट्स जुड़े, 2018-19 में 1.13 करोड़, 2017-18 में 1.6 करोड़, 2016-17 में 67 लाख से अधिक और 2015-16 में 59 लाख इन्वेस्टर अकाउंट्स जुड़े.

ब्याज दरें कम होने की वजह से इक्विटी में डाल रहे पैसा
ट्रस्ट म्यूचुअल फंड के सीईओ संदीप बागला ने कहा कि ब्याज दरें कम होने की वजह से बड़ी मात्रा में खुदरा धन निश्चित आय से निकालकर इक्विटी में डाला गया. उन्होंने कहा कि भारत में म्यूचुअल फंड की पैठ अन्य बाजारों की तुलना में अब भी कम है

Tags: Mutual fund, Mutual fund investors, Mutual funds

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें