Home /News /business /

Mutual Funds SIP : एक्सपर्ट के बताए इस फॉर्मूले को अपनाएं और कम रिस्क में ज्यादा मुनाफा कमाएं

Mutual Funds SIP : एक्सपर्ट के बताए इस फॉर्मूले को अपनाएं और कम रिस्क में ज्यादा मुनाफा कमाएं

 म्यूचुअल फंड में शार्प रेश्यो एक निवेशक को कम जोखिम के साथ अपने पैसे पर अधिक कमाई करने में मदद करता है.

म्यूचुअल फंड में शार्प रेश्यो एक निवेशक को कम जोखिम के साथ अपने पैसे पर अधिक कमाई करने में मदद करता है.

Mutual Funds में निवेश पर रिस्क भी होता है क्योंकि यह शेयर बाजार से जुड़ा होता है. निवेशकों की इस मुश्किल के समाधान के लिए एक्सपर्ट्स, निवेशकों को उपलब्ध प्लान्स पर शार्प रेश्यो फॉर्मूला (sharpe ratio formula) लागू करने की सलाह देते हैं. म्यूचुअल फंड में शार्प रेश्यो एक निवेशक को कम जोखिम के साथ अपने पैसे पर अधिक कमाई करने में मदद करता है.

अधिक पढ़ें ...

Mutual Funds Investment: म्यूचुअल फंड एसआईपी (Mutual funds SIP) के जरिए किया गया निवेश शेयर बाजार से जुड़ा होता है. लिहाजा इसमें रिस्क भी ज्यादा होता है. इसलिए म्यूचुअल फंड में निवेश के वक्त एक्सपर्ट काफी सावधानी बरतने की सलाह देते हैं. निवेश एक्स्पर्ट्स कहते हैं, म्यूचुअल फंड एसआईपी प्लान चुनते समय विभिन्न ऐंगल्स पर ध्यान देना चाहिए.

पिछले कुछ वर्षों में किसी प्लान के वार्षिक रिटर्न को देखते हुए एक निवेशक को चुनिंदा म्यूचुअल फंड प्लान्स का एक बंच मिलता है, लेकिन उनमें से सर्वश्रेष्ठ को चुनना थोड़ा मुश्किल है. निवेशकों की इस मुश्किल के समाधान के लिए एक्सपर्ट्स ने निवेशकों को उपलब्ध प्लान्स पर शार्प रेश्यो फॉर्मूला (sharpe ratio formula) लागू करने की सलाह देते हैं. म्यूचुअल फंड में शार्प रेश्यो एक निवेशक को कम जोखिम के साथ अपने पैसे पर अधिक कमाई करने में मदद करता है.

रिस्क मैनेजमेंट में फायदेमंद 
मनी कंट्रोल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, म्यूचुअल फंड एसआईपी में शार्प रेश्यो पर बोलते हुए; ऑप्टिमा मनी मैनेजर्स के एमडी और सीईओ पंकज मथपाल (Pankaj Mathpal, MD & CEO at Optima Money Managers) ने कहा, “म्यूचुअल फंड एसआईपी में शार्प रेश्यो का इस्तेमाल म्यूचुअल फंड एसआईपी प्लान के रिस्क-एडजस्टेड रिटर्न की गणना करने के लिए किया जाता है.

यह भी पढ़ें- Petrol-Diesel Prices Today: सस्ते पेट्रोल डीजल की आस में 80 दिन बीते, जानिए आज का नया भाव

मूल रूप से यह निवेशक को बताता है कि उसे एक जोखिम भरे एसेट रखने पर कितना अतिरिक्त रिटर्न मिलेगा. यह एक संभावित निवेशक के लिए काफी आसान हो जाता है अगर उसे पिछले कुछ वर्षों में अपने निवेशकों को लगभग समान रिटर्न देने वाले म्यूचुअल फंड प्लान्स में से किसी एक को चुनना है. “

शार्प रेश्यो फॉर्मूला का उपयोग कैसे करें
सेबी पंजीकृत कर और निवेश विशेषज्ञ जितेंद्र सोलंकी (SEBI registered tax and investment expert Jitendra Solanki) ने कहा, “समान श्रेणी के म्यूचुअल फंड प्लान्स की तुलना करते समय इस फॉर्मूले का उपयोग करना चाहिए. मिड-कैप सेगमेंट के म्यूचुअल फंड प्लान की तुलना किसी स्मॉल- कैप सेगमेंट के म्युचुअल फंड से करने का कोई मतलब नहीं है. इस फॉर्मूले को लागू करने से पहले यह सुनिश्चित करने चाहिए कि तुलना किये जाने वाले प्लान्स समान श्रेणी के हों.”

यह भी पढ़ें- Best रेटिंग वाले इस Bluechip Mutual Fund में पा सकते हैं मोटा रिटर्न, दे चुका है 70 फीसदी से अधिक प्रॉफिट

ट्रेयनोर रेश्यो फॉर्मूला (treynor ratio formula) 
एक्सपर्ट्स ने म्यूचुअल फंड निवेशकों को ट्रेयनोर रेश्यो फॉर्मूला (treynor ratio formula) भी लागू करने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि शार्प रेश्यो निवेशक को जोखिम-एडजस्टेड रिटर्न के बारे में बताता है जबकि म्यूचुअल फंड में ट्रेयनोर रेश्यो बाजार की वोलैटिलिटी-एडजस्टेड रिटर्न के बारे में बताता है.

चूंकि, म्यूचुअल फंड निवेश बाजार जोखिम के अधीन हैं, इसलिए म्यूचुअल फंड प्लान्स की तुलना करते समय ट्रेयनोर रेश्यो को भी चेक करना चाहिए. सोलंकी ने यह भी कहा कि फॉर्मूला एकमुश्त और एसआईपी निवेश दोनों के लिए अच्छा है. इसलिए दोनों प्रकार के म्यूचुअल फंड निवेशकों को निवेश के लिए म्यूचुअल फंड प्लान तय करने से पहले शार्प रेश्यो फॉर्मूला और ट्रेयनोर रेश्यो फॉर्मूला लागू करने की सलाह दी जाती है.

Tags: Mutual fund, Mutual fund investors, Returns of mutual fund SIPs, SIP

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर