NAFED के पास बफर स्टॉक में बचे हैं सिर्फ 25 हजार टन प्याज, नवंबर के पहले सप्ताह तक हो जाएगा खत्म

देश के कई हिस्सों में प्याज की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं.
देश के कई हिस्सों में प्याज की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं.

प्याज की आसमान छूती कीमतों के बीच NAFED ने जानकारी दी है कि उसके पास बफर स्टॉक में अब केवल 25 हजार टन प्याज ही उपलब्ध है. कीमतें कम करने और घरेलू बाजार में प्याज की उपलब्धता बढ़ाने के लिए इसे थोक व खुदरा बाजार में उपलब्ध कराया जा रहा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार के पास बफर स्टॉक (Onion Buffer Stock) में अब केवल 25,000 टन प्याज ही बचा है, जोकि नवंबर के पहले सप्ताह तक खत्म हो जाएगा. NAFED के प्रबंध निदेशक संजीव कुमार चड्ढा ने शुक्रवार को इस बारे में जानकारी दी है. वर्तमान में घरेलू उपलब्धता को बढ़ाने और प्याज की कीमतों को कम करने के लिए नाफेड प्याज के बफर स्टॉक को बाजार में उतार रहा है. बीते कुछ सप्ताह में प्याज की कीमतें 75 रुपये प्रति किलो तक जा चुकी हैं.

इस साल बफर स्टॉक में 1 लाख टन प्याज की खरीद
प्याज के बफर स्टॉक को नाफेड केंद्र सरकर की तरफ से तैयार और प्रबंधन करता है ताकि जरूरत पड़ने पर इसे इस्तेमाल किया जा सके. इस साल नाफेड ने बफर स्टॉक के लिए 1 लाख टन प्याज की सरकरी खरीद की थी. अब प्याज के बढ़ते कीमतों पर लगाम लगाने के लिए इसी का इस्तेमाल किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: प्याज ने बिगाड़ा आम आदमी की रसोई का बजट! पिछले एक महीने में 4 गुना तेजी से बढ़ी कीमत, इस राज्य में आया रिकॉर्ड उछाल
नवंबर के पहले सप्ताह के लिए स्टॉक


चड्ढा ने कहा, 'अब तक, बफर स्टॉक में से करीब 43,000 टन प्याज निकाला जा चुका है. कुछ प्याज बर्बाद होने के बाद अब लगभग 25,000 टन प्याज ही बचा है जोकि नवंबर के पहले सप्ताह तक इस्तेमाल हो जाएगा.' चड्ढा ने यह जानकारी उसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी, जिसमें सरकार ने प्याज की जमाखोरी पर लगाम लगाने के लिए स्टॉक लिमिट नियम लागू करने का ऐलान किया.

थोक व खुदरा बाजार में प्याज उपलब्ध करा रहा नाफेड
वर्तमान में, नाफेड बफर स्टॉक में प्याज ​निकालकर देशभर के थोक व खुदरा बाजार में उपलब्ध करा रहा है. उन्होंने कहा कि नाफेड की तरफ से राज्यों को खुदरा बाजार के लिए 26 रुपये प्रति किलोग्राम की दर पर प्याज उपलब्या कराया जा रहा है. हालांकि, इसकी ढुलाई का खर्च राज्यों को ही उठाना होगा.

यह भी पढ़ें: महंगी प्याज पर लगाम लगाने को सरकार ने उठाया बड़ा कदम, अब बाजार में ऐसे बिकेगी प्याज

सरकार ने लागू किया स्टॉक लिमिट नियम
चड्ढा ने कहा कि नाफेड महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात में प्याज के बफर स्टॉक को मेंटेन कर रही है. बीते कुछ समय में प्याज की कीमतों में इजाफा होने के साथ ही केंद्र सरकार ने भी कई कदम उठाए हैं. केंद्र सरकार ने प्याज पर स्टॉक लिमिट नियम लागू कर दिया है. थोक विक्रेता अब सिर्फ 25 मिट्रिक टन प्याज स्टॉक रख सकेगा. जबकि खुदरा व्यापारी मात्र दो मिट्रिक टन प्याज का स्टॉक कर सकेंगे. यहीं नहीं बाज़ारों में प्याज की आवक बढ़ाने के लिए एमएमटीसी 10,000 मिट्रिक टन प्याज आयात के लिए टेंडर जारी करेगा. निजी कंपनियों के अलावा एमएमटीसी रेड प्याज का आयात करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज