कार-बाइक चलाने वालों के लिए बड़ी खबर! बदला रजिस्ट्रेशन से जुड़ा ये नियम

सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए पेट्रोल-डीजल गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन करना महंगा कर दिया है. 15 साल से ज्यादा पुरानी गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन रिन्यू कराने के लिए भी अब और ज्यादा फीस देनी होगी.

hindi.moneycontrol.com
Updated: July 27, 2019, 3:57 PM IST
hindi.moneycontrol.com
Updated: July 27, 2019, 3:57 PM IST
सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए पेट्रोल-डीजल गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन करना महंगा हो सकता है . नए प्रस्ताव के मुताबिक, 15 साल से ज्यादा पुरानी गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन रिन्यू कराने के लिए भी अब और ज्यादा फीस देनी होगी. अब पुरानी गाड़ियों के लिए हर 6 महीने में फिटनेस सर्टिफिकेट लेना होगा. पहले साल में एक बार फिटनेस सर्टिफिकेट लगता था. वहीं, इलेक्ट्रिक वाहनों का रजिस्ट्रेशन और रिन्यू पूरी तरह फ्री होगा.

कितनी हुई रजिस्ट्रेशन फीस-अब 2-व्हीलर (नया) का रजिस्ट्रेशन फीस होगा 1000 रुपये और 2-व्हीलर (पुराना) का रजिस्ट्रेशन फीस होगा 2000 रुपये. इंपोर्डेट वाहन की बात करें तो इंपोर्डेट 2-व्हीलर (नया) पर 5000 रुपये रजिस्ट्रेशन फीस देना होगा.

Image

वहीं पुराने इंपोर्डेट 2-व्हीलर पर 10000 रुपये रजिस्ट्रेशन फीस देना होगा. कारों की बात करें तो नई कारों पर 5000 रुपये और पुरानी कारों पर 15000 रजिस्ट्रेशन फीस लागू होगा. वहीं नई इंपोर्डेट कारों पर 20000 रुपये और पुरानी इंपोर्डेट कारों पर 40000 रुपये रजिस्ट्रेशन फीस लागू होगा.

गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) काउंसिल की अहम बैठक में बैटरी से चलने वाली कार और स्कूटर में जीएसटी की दर में कटौती करने का फैसला हो गया है. इलेक्ट्रिक व्हीकल पर  जीएसटी दरें 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दी गई है. नई दरें 1 अगस्त से लागू होंगे.ये प्रस्ताव पिछली जीएसटी काउंसिल की बैठक में भी आया था. आपको बता दें जीएसटी काउंसिल की 36वीं बैठक पहले 25 जुलाई को दोपहर 3.30 बजे होनी तय थी, लेकिन इस दिन वित्त मंत्री के संसद में व्यस्त होने के कारण बैठक को री-शेड्यूल किया गया था.

जीएसटी काउंसिल की बैठक का फैसला- जीएसटी काउंसिल की बैठक में इलेक्ट्रिक व्हीकल पर टैक्स की दरें 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दी है.वहीं, चार्जर पर जीएसटी दरें 18 फीसदी से घटाकर 12 फीसदी कर दी है. नई दरें 1 अगस्त से लागू होंगी. इसके अलावा स्थानीय ऑथोरिटी द्वारा 12 यात्रियों से अधिक की क्षमता वाली इलेक्ट्रिक बसों के खरीद पर जीएसटी से छूट देने का फैसला हुआ है.​
First published: July 27, 2019, 3:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...