318 दिन में सिर्फ 40,688 व्यापारियों ने कराया रजिस्ट्रेशन, ये है पेंशन योजना का हाल

318 दिन में सिर्फ 40,688 व्यापारियों ने कराया रजिस्ट्रेशन, ये है पेंशन योजना का हाल
लघु व्यापारिक पेंशन योजना में बहुत कम रजिस्ट्रेशन हुआ है

Pradhan Mantri Laghu Vyapari Maan Dhan Yojana: लघु व्यापारिक पेंशन योजना में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे व्यापारी, किसानों, श्रमिकों के मुकाबले इस योजना में न के बराबर रजिस्ट्रेशन.

  • Share this:
नई दिल्ली. मोदी सरकार (Modi Government) द्वारा व्यापारियों के लिए शुरू की गईं पेंशन योजना (Pension Scheme) में रजिस्ट्रेशन करवाने में यह वर्ग दिलचस्पी नहीं दिखा रहा. जबकि यह ऐसी योजना है जिससे बुढ़ापे में उन्हें किसी के आगे हाथ फैलाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के रांची में 12 सितंबर 2019 को छोटे कारोबारियों को पेंशन की सौगात दी थी. तब से अब तक यानी 318 दिन में सिर्फ 40,688 लोग ही इस योजना में शामिल हुए हैं.

प्रधानमंत्री लघु व्यापारिक मानधन योजना (Pradhan Mantri Laghu Vyapari Maan Dhan Yojana) के तहत छोटे कारोबारियों को सामाजिक सुरक्षा देने की पहल की गई थी. जिसके तहत उन्हें 60 साल की उम्र के बाद सालाना 36,000 रुपये पेंशन मिलेगी. यह योजना 1.5 करोड़ रुपये सालाना से कम कारोबार करने वाले सभी दुकानदारों, खुद का काम करने वालों और खुदरा कारोबारियों के लिए है. ईपीएफओ (EPFO), ईएसआईसी (ESIC) के सदस्य और आयकरदाता को इसका लाभ नहीं मिलेगा.

इसे भी पढ़ें: तो क्या फसल बीमा करवाने से परहेज कर रहे अन्नदाता?  



Modi Government, Pradhan Mantri Laghu Vyapari Maan Dhan Yojana, ESIC, EPFO, CSC, Pension Scheme, Pension, Traders, Business news in hindi, मोदी सरकार, प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना, पेंशन स्कीम, ईएसआईसी, ईपीएफओ, व्यापारी
स्कीम के तहत 3000 रुपये मासिक पेंशन मिलेगी

पेंशन स्कीम की शर्तें

>>पेंशन योजना में उम्र 18 साल से 40 साल के बीच होनी चाहिए.

>>ईपीएफओ, ईएसआईसी के सदस्य और आयकरदाता को लाभ नहीं मिलेगा.

>>आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर जरूरी है.

>>उम्र के हिसाब से प्रिमियम 55 से 200 रुपये तक होगा. इतना ही पैसा सरकार देगी.

>>60 साल की उम्र के बाद 3000 रुपये महीने पेंशन मिलेगी.

>>अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) में इसका रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

>>भारत सरकार भी बराबर का अंशदान देगी. पेंशन का भुगतान एलआईसी करेगा.

इसे भी पढ़ें: पानी से भी कम दाम पर बिक रहा गाय का दूध

यूपी से सबसे अधिक रजिर्स्टेशन
व्यापारियों की पेंशन योजना के तहत उत्तर प्रदेश से सबसे अधिक रजिस्ट्रेशन हुए हैं. यहां के 11270 व्यापारी स्कीम में शामिल हुए हैं. दूसरे नंबर पर है छत्तीसगढ़, जहां के 6219 लोग रजिस्टर्ड हुए हैं. आंध्र प्रदेश में 5718 रजिस्ट्रेशन हुआ है. गुजरात के 3172 और हरियाणा के महज 1824 लोग इस स्कीम में शामिल हुए हैं. रजिस्ट्रेशन करवाने वालों में 26 से 35 साल के व्यापारी ज्यादा हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading