Home /News /business /

इस गेमिंग स्टॉक में मिल सकता है जोरदार रिटर्न, जानिए क्या कह रहे हैं एनालिस्ट्स और brokerage firm

इस गेमिंग स्टॉक में मिल सकता है जोरदार रिटर्न, जानिए क्या कह रहे हैं एनालिस्ट्स और brokerage firm

डिजिटल होती दुनिया में मजबूत फंडामेंटल वाले टेक स्टॉक निवेशकों को मोटा रिटर्न दे रहे हैं. इसी तरह ऑनलाइन गेमिंग स्टॉक नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) को लेकर भी  brokerage firms और एनालिस्ट्स पॉजिटीव हैं. राकेश झुनझुनवाला ( Rakesh Jhunjhunwala) ) के निवेश वाला यह स्टॉक कुछ दिन पहले ही मार्केट में लिस्ट हुआ.

डिजिटल होती दुनिया में मजबूत फंडामेंटल वाले टेक स्टॉक निवेशकों को मोटा रिटर्न दे रहे हैं. इसी तरह ऑनलाइन गेमिंग स्टॉक नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) को लेकर भी brokerage firms और एनालिस्ट्स पॉजिटीव हैं. राकेश झुनझुनवाला ( Rakesh Jhunjhunwala) ) के निवेश वाला यह स्टॉक कुछ दिन पहले ही मार्केट में लिस्ट हुआ.

डिजिटल होती दुनिया में मजबूत फंडामेंटल वाले टेक स्टॉक निवेशकों को मोटा रिटर्न दे रहे हैं. इसी तरह ऑनलाइन गेमिंग स्टॉक नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) को लेकर भी brokerage firms और एनालिस्ट्स पॉजिटीव हैं. राकेश झुनझुनवाला ( Rakesh Jhunjhunwala) ) के निवेश वाला यह स्टॉक कुछ दिन पहले ही मार्केट में लिस्ट हुआ.

अधिक पढ़ें ...


    मुंबई. डिजिटल होती दुनिया में मजबूत फंडामेंटल वाले टेक स्टॉक निवेशकों को मोटा रिटर्न दे रहे हैं. इसी तरह ऑनलाइन गेमिंग स्टॉक नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) को लेकर भी ब्रोकरेज हाउस और एनालिस्ट्स पॉजिटीव हैं.

    राकेश झुनझुनवाला ( Rakesh Jhunjhunwala) ) के निवेश वाला यह स्टॉक कुछ दिन पहले ही मार्केट में लिस्ट हुआ. इसको आईपीओ को लेकर भी निवेशकों में काफी उत्साह देखा गया था. अब एनालिस्ट इसे लेकर काफी काफी Bullish हैं. एनालिस्ट्स ने इसमें 50% तेजी का अनुमान लगा रहे हैं.

    31% सालाना ग्रोथ रेट
    डिजिटल होती दुनिया में वीडियो गेम्स की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है. गेम्स की परिभाषा भी अब शारीरिक ताकत से शिफ्ट होकर मानसिक ताकत पर आ गई है. नई पीढ़ी में वीडियो गेम्स जबरदस्त पॉपुलर हैं. इस वजह से इनका आउटलुक काफी मजबूत है. माना जा रहा है कि अगले दो साल में भारत में गेमिंग इंडस्ट्री 31% सालाना की रफ्तार से बढ़ेगी. पेड यूजर्स की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. इसे देखते हुए गेमिंग सेक्टर में मौजूद लिस्टिंग कंपनियों में निवेश एक अच्छा दांव साबित हो सकता है.

    यह भी पढ़ें- ₹13 लाख में दिल्ली-मुंबई समेत बड़े शहरों में खरीदें आलीशान घर, 8 जुलाई को लगा सकेंगे ई-बोली, जानें डिटेल

    खरीद की सलाह दे रहे एनालिस्ट्स

    हाल में लिस्ट हुई कंपनी नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) को लेकर भी एनालिस्ट्स निवेश की सलाह दे रहे हैं. एनालिस्ट्स ने इसमें 50% तेजी की उम्मीद जाहिर की है. नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) के शेयर 1,101 रुपये के इश्यू प्राइस से 49 फीसदी उछलकर 2 जून को 1,660 रुपये पर पहुंच चुके हैं.

    खास बात ये है कि इस कंपनी में 31 मार्च को दिग्गज इनवेस्टर राकेश झुनझुनवाला की 10.82% हिस्सेदारी थी.

    2400 रुपए का टारगेट प्राइस

    ब्रोकरेज फर्म दौलत कैपिटल ने नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) को बाय रेटिंग दी है. इसके लिए 2,400 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है. दूसरी ओर, स्पार्क कैपिटल ने 2,230 रुपये के प्राइस टारगेट के साथ कंपनी की कवरेज शुरू की है.

    गेमिंग इंडस्ट्री में क्या चल रहा है ट्रेंड?

    मार्केट पर नजर रखने वालों का मानना है कि ऑनलाइन गेमिंग भारतीय एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का एक बड़ा हिस्सा बन गई है. मीडियम टर्म में गेमिंग इंडस्ट्री पर होने वाले खर्च की ओवरऑल एंटरटेनमेंट खर्च में हिस्सेदारी और बढ़ेगी.

    थियेटर में मूवी देखने पर खर्च और टेलीविजन सब्सक्रिप्शन को लेकर 1965-1980 के दौर और 1981-1996 की पीढ़ी में काफी उत्साह देखा जाता है.

    दूसरी ओर, 1997 से 2015 के बीच की पीढ़ी अगले 10 साल में ऑनलाइन गेमिंग पर खर्च को आगे बढ़ाने वाली साबित होगी. इस पीढ़ी के लिए एंटरटेनमेंट का सबसे बड़ा जरिया गेमिंग ही है.

    स्पार्क कैपिटल ने कहा है,”मोटी कमाई वाला गेमिंग सेगमेंट ट्रांजैक्शन आधारित गेम्स वाला है. भारत में कानूनी दिक्कतों के बावजूद ट्रांजैक्शंस बेस्ड गेमिंग की हिस्सेदारी ऑनलाइन गेमिंग मार्केट में बढ़कर 82 फीसदी पर पहुंच गई है.”

    क्या आपको ये स्टॉक लेना चाहिए?

    1999 में नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) की नींव रखी गई थी. उसके बाद से इसमें कई बदलाव हुए हैं. साथ ही गेमिंग इंडस्ट्री की बदलती जरूरतों के साथ ही कंपनी ने अपने बिजनेस मॉडल में भी बदलाव किए हैं.

    स्पार्क कैपिटल ने एक रिपोर्ट में कहा है, “गेमिंग इंडस्ट्री में आई क्रांति तकनीक के एडवांस होने के साथ और रफ्तार पकड़ेगी. नजारा का कारोबारी मॉडल जबरदस्त है और गेमिंग इंडस्ट्री में बदलाव के साथ इसमें भी बदलाव हो सकता है.”

    दौलत कैपिटल ने कहा है कि भारत में वित्त वर्ष 2024-25 तक 13 करोड़ मिड-हार्डकोर गेमर्स होने की उम्मीद है. नजारा टेक्नोलॉजीज (Nazara Technoogies) कम जोखिम के साथ गेमिंग इंडस्ट्री में तेजी का फायदा उठाने का मौका दे रही है.

    Tags: BSE Sensex, Earn money, Nifty, Rakesh Jhunjhunwala, Sensex

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर