Home /News /business /

सरकार से NBFC को बड़ी राहत, अब कंपनियों को नहीं बेचनी पड़ेगी घाटे में संपत्ति

सरकार से NBFC को बड़ी राहत, अब कंपनियों को नहीं बेचनी पड़ेगी घाटे में संपत्ति

नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों (NBFCs) और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों (HFCs) के लिए अपने पूल्ड एसेट्स को बेचकर रकम जुटाने का रास्ता आसान हो गया है.

    नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों (NBFCs) और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों (HFCs) के लिए अपने पूल्ड एसेट्स को बेचकर रकम जुटाने का रास्ता आसान हो गया है. क्योंकि सरकार ने मंगलवार को बैंकों के लिए पूल्ड एसेट्स खरीदने के लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं. इसके मुताबिक, बैंक (Bank) उन्हीं पूल्ड एसेट्स को खरीद सकेंगे जिनकी फ्रेश क्रेडिट रेटिंग (Credit Rating) कराई गई हो. यानी बैंकों को एक बार फिर से क्रेडिट रेटिंग करानी पड़ेगी. इसके लिए सरकार बैंकों को आंशिक रूप से क्रेडिट गारंटी देगी.

    इसके अलावा उन्हीं पूल्ड एसेट्स को खरीदना होगा जो 31 मार्च 2003 से पहले के होंगे. साथ ही ये भी कैप रखा गया है कि एनबीएफसी अपने पूल्ड एसेट्स का 20 फीसदी हिस्सा बेच सकेंगे. इससे ज्यादा हिस्सा नहीं बेच सकेंगे. इसके अलावा काफी सारे दिशा-निर्देश भी बैंकों को जारी किए गए हैं.

    ये भी पढ़ें: भारतीय इकॉनमी को डूबने से बचाने के लिए मोदी सरकार बना रही है ये प्लान, जल्द कर सकती है ऐलान

    दरअसल, बजट में सरकार ने ऐलान किया था कि पूल्ड एसेट्स बेचकर एनबीएसी और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां करीब 1 लाख करोड़ रुपये तक जुटा सकती हैं, जिसके लिए उन्हें 6 महीने तक के लिए आंशिक क्रेडिट गारंटी दी गई थी. यानी बैंक अब इसे पहले नुकसान का करीब 10 फीसदी तक कवर करते हुए आंशिक क्रेडिट गारंटी के तहत इस पूल्ड एसेट्स को खरीद सकेंगे और इसके जरिए एनबीएफसी को एक तरह से बहुत राहत मिल सकती है.

    ये भी पढ़ें: रक्षाबंधन पर बहन को दें ये गिफ्ट, समय के साथ बढ़ती जाएगी कीमत

    (आलोक प्रियदर्शी, संवाददाता- CNBC आवाज़)

    Tags: Business news in hindi, Housing loan, Loan for housing, NBFCs

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर