Home /News /business /

NCLAT का आदेश-साइरस मिस्त्री को फिर बनाया जाए टाटा संस का चेयरमैन, एन चंद्रशेखरन की नियुक्ति अवैध घोषित!

NCLAT का आदेश-साइरस मिस्त्री को फिर बनाया जाए टाटा संस का चेयरमैन, एन चंद्रशेखरन की नियुक्ति अवैध घोषित!

टाटा सन्स के बाद अब रतन टाटा ने NCLAT के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

टाटा सन्स के बाद अब रतन टाटा ने NCLAT के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

नेशनल कंपनी लॉ अपीलेट ट्रिब्यूनल (एनसीएलएटी) ने बुधवार को सायरस मिस्त्री के पक्ष में फैसला देते हुए कहा कि मिस्त्री फिर से टाटा संस के चेयरमैन बनाया जाए. वहीं, कोर्ट ने उन्हें हटाने के फैसले को गलत ठहराया है.

    नई दिल्ली. नेशनल कंपनी लॉ अपीलेट ट्रिब्यूनल (एनसीएलएटी) ने बुधवार को सायरस मिस्त्री के हक में फैसला सुनाते हुए उन्हें फिर से टाटा संस का चेयरमैन बनाया जाने का आदेश दिया है. साथ ही, ट्रिब्यूनल ने एन चंद्रशेखरन की नियुक्ति को अवैध घोषित कर दिया है. ट्रिब्यूनल ने सायरस मिस्त्री को हटाने के फैसले को गलत ठहराया है. नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) में केस हारने के बाद मिस्त्री अपीलेट ट्रिब्यूनल पहुंचे थे. अपीलेट ट्रिब्यूनल ने जुलाई में फैसला सुरक्षित रखा था. आपको बता दें कि सायरस मिस्त्री को अक्टूबर 2016 में टाटा संस के चेयरमैन पद से हटाया गया था.

    सायरस मिस्‍त्री को अचानक पद से हटा दिया था- सायरस मिस्‍त्री, जो टाटा संस के छठे चेयरमैन थे, को अक्‍टूबर 2016 में एक नाटकीय घटनाक्रम में उनके पद से हटा दिया गया था. रतन टाटा के सेवानिवृत्‍त होने के बाद मिस्‍त्री ने 2012 में चेयरमैन का पद संभाला था. इसके बाद टीसीएस के प्रबंध निदेशक और सीईओ एन चंद्रशेखरन को टाटा संस का नया चेयरमैन बनाया गया.



    ये भी पढ़ें-सरकार की पैसे डबल करने वाली स्कीम शुरू, जानिए इससे जुड़े सभी सवालों के जवाब

    क्या है मामला- सायरस मिस्त्री को अक्टूबर 2016 में टाटा संस के चेयरमैन पद से हटाया गया था. इसके दो महीने बाद मिस्त्री की ओर से उनके परिवार की दो इन्वेस्टमेंट कंपनियों- सायरस इन्वेस्टमेंट प्राइवेट लिमिटेड और स्टर्लिंग इन्वेस्टमेंट कॉर्प ने टाटा संस के फैसले को नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) की मुंबई बेंच में चुनौती दी थी.



    इन कंपनियों की दलील थी कि मिस्त्री को हटाने का फैसला कंपनीज एक्ट के नियमों के मुताबिक नहीं था, लेकिन जुलाई 2018 में एनसीएलटी ने दावे खारिज कर दिए. इसके बाद मिस्त्री ने खुद एनसीएलटी के फैसले के खिलाफ अपील की थी.

    ये भी पढ़ें-SBI की चेतावनी! फोन चार्ज करते वक्त खाली हो सकता है आपका खाता, ऐसे रहें सेफ

    Tags: Business news in hindi, Cyrus, Ratan tata, Tata Motors

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर