लाइव टीवी

बैंक से पैसे ट्रांसफर करना होगा आसान, अब हफ्ते के सातों दिन फ्री में मिलेगी ये सुविधा

News18Hindi
Updated: December 7, 2019, 5:42 PM IST
बैंक से पैसे ट्रांसफर करना होगा आसान, अब हफ्ते के सातों दिन फ्री में मिलेगी ये सुविधा
NEFT और RTGS पर लगने वाला चार्ज पहले की हटाया जा चुका है.

RBI ने एक बयान में कहा कि अब NEFT के तहत ट्रांजैक्शन की सुविधा हॉलिडे समेत हफ्ते के सातों दिन उपलब्ध होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2019, 5:42 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने डिजिटल लेन-देन (Digital Transactions) को बढ़ावा देने के लिए नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) 16 दिसंबर से 24 घंटे के लिए कर देने की घोषणा की है. RBI ने एक बयान में कहा कि अब NEFT के तहत ट्रांजैक्शन की सुविधा हॉलिडे समेत हफ्ते के सातों दिन उपलब्ध होगी.

NEFT ट्रांजैक्शन (NEFT Transaction) का निस्तारण सामान्य दिनों में सुबह 8 बजे से शाम 7 बजे के दौरान और पहले और तीसरे शनिवार को सुबह 8 बजे से दोपहर 1 बजे तक घंटे के आधार पर किया जाता है.

24 घंटे ट्रांसफर करें पैसे- रिजर्व बैंक ने एक अधिसूचना में कहा कि NEFT ट्रांजैक्शन को 24 घंटे, सातों दिन शुरू करने का निर्णय लिया गया है. रिजर्व बैंक ने सभी सदस्य बैंकों को नियामक के पास चालू खाते में हर समय पर्याप्त राशि रखने को कहा है ताकि NEFT ट्रांजैक्शन में कोई समस्या नहीं हो. ये भी पढ़ें: बैंक के ATM को लेकर RBI ला रहा है नए नियम, जानिए क्या होगा ग्राहकों पर असर



केंद्रीय बैंक ने कहा कि सभी बैंकों को सुचारू तरीके से NEFT ट्रांजैक्शन सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक बुनियादी संरचनाएं दुरुस्त रखने का निर्देश भी दिया गया है. उसने कहा कि बैंक NEFT में किए गए बदलाव के बारे में उपभोक्ताओं को सूचित कर सकते हैं.

NEFT और RTGS के चार्ज खत्म- बता दे कि रिजर्व बैंक पहले ही NEFT और आरटीजीएस (RTGS) ट्रांजैक्शन पर शुल्क समाप्त करने का निर्णय ले चुका है.

ये भी पढ़ें: 3 रुपये खर्च कर अपने Bank Account को बचाएं ऑनलाइन फ्रॉड से, जानें इस स्कीम के बारे में सबकुछक्या होता है NEFT- नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) देश में बैंकों के जरिये फंड ट्रांसफर करने यानी एक से दूसरी जगह भेजने का तरीका है. इस तरीके का फायदा आम ग्राहक या कंपनियां उठाकर किसी दूसरी ब्रांच या किसी दूसरे शहर की शाखा में किसी भी व्यक्ति या संगठन अथवा कंपनी को भेज सकते हैं. आज की तारीख में लगभग हर बैंक ने एनईएफटी तकनीकी को अपना लिया है. इसके जरिये फंड भेजने के लिए ग्राहकों को सभी तरह की जानकारी भेजनी होती है.

ये भी पढ़ें:
2 लाख रुपये में शुरू करें ये सदाबहार बिजनेस, मोदी सरकार भी करेगी मदद
बेटी के ​लिए हर महीने यहां बचाएंगे पैसे तो नहीं होगी इनकम टैक्स की चिंता! जानिए कैसे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 10:23 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर