आप भी बाइक-टैक्सी के जरिए कर सकते हैं कमाई!

बाइक-टैक्सी का कारोबार तेज़ी से रफ़्तार पकड़ रहा है.

Cnbc-Awaaz
Updated: May 17, 2019, 1:54 PM IST
आप भी बाइक-टैक्सी के जरिए कर सकते हैं कमाई!
बाइक टैक्सी
Cnbc-Awaaz
Updated: May 17, 2019, 1:54 PM IST
बाइक-टैक्सी का कारोबार तेज़ी से रफ़्तार पकड़ रहा है. पहले ये बिज़नेस ओला-उबर के साथ ही कई स्टार्टअप्स इस कारोबार में है. सिर्फ मेट्रो शहर ही नहीं अब छोटे शहरों में भी बाइक-टैक्सी का कारोबार पैर पसार रहा है. कानूनी अनिश्चितताओं के बावजूद बाइक-टैक्सी का कारोबार रफ्तार में है. सिर्फ मेट्रो शहर ही नहीं अब छोटे शहरों में भी बाइक-टैक्सी का कारोबार पैर पसार रहा है. (ये भी पढ़ें: खस्ताहाल रुपया! इमरान खान ने पाकिस्तानियों पर लगाई ये पाबंदी)

उमेश नोएडा के सेक्टर 127 में काम करते हैं और घर से नोएडा सिटी सेंटर तक मेट्रो से आने के बाद यहां से दफ्तर बाइक टैक्सी से जाते हैं. पहले ऑटो से उमेश को 60 से 70 रुपए किराया देना होता था लेकिन बाइक टैक्सी से अब 20 से 25 रुपए में ही दफ्तर पहुंच जाते हैं. बाइक टैक्सी का एक फायदा ये भी है कि ट्रैफिक जाम में भी ज्यादा झंझट नहीं रहता.



बाइक टैक्सी का चलन तेजी से बढ़ रहा है. कई कंपनियां इस कारोबार में कूद गई हैं. 25 शहरों में मौजूद रैपिडो हर महीने 10 लाख से ज्यादा राइड्स का दावा कर रही है. वहीं 31 शहरों में मौजूद ओला बाइक 20 लाख राइड्स हर महीने कर रहा है. जबकि गुरूग्राम में बैक्सी, बिक्सी और वोगो अपनी पहचान बना रही है. हालांकि बाइक-टैक्सी को लेकर अधिकतर राज्यों में कोई पॉलिसी नहीं है. दिल्ली जैसे शहरों में इसे अभी भी मंजूरी नहीं मिली है. ये भी पढ़ें: खुशखबरी! बैंक अब 24 घंटे देगा पैसे से जुड़ी ये सर्विस

इसी साल बंगलुरू में ओला बाइक पर रोक लगाई गई थी. सुरक्षा पर सवालों के कारण उबर मोटो को भी कई बार कानूनी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है. हालांकि कई राज्य सरकारों ने बाइक-टैक्सी के लिए नियम बनाने शुरू कर दिए हैं. उम्मीद है आने वाले दिनों में बाइक-टैक्सी का कारोबार और रफ्तार पकड़ेगा.

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार