RIL की नई डील: रिलायंस रिटेल में अबु धाबी के सरकारी फंड ने किया 6,247 करोड़ का निवेश

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज की रिलायंस रिटेल में Mubadala ने 6,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का निवेश किया है.
रिलायंस इंडस्‍ट्रीज की रिलायंस रिटेल में Mubadala ने 6,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का निवेश किया है.

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में अबु धाबी के सरकारी फंड Mubadala Investment Company ने 6,247.50 करोड़ रुपये का निवेश करके 1.4 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीद ली है. रिलायंस रिटेल में यह बीते तीन सप्ताह का पांचवां निवेश है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 8:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) की खुदरा कारोबार कंपनी रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) ने अबु धाबी के सरकारी फंड Mubadala Investment Company के साथ 6,247.50 करोड़ रुपये का सौदा किया है. सौदे के तहत Mubadala को रिलायंस रिटेल में  1.4 फीसदी हिस्‍सेदारी मिल गई है. ये निवेश 4.29 लाख करोड़ रुपये की प्री-इक्विटी वैल्‍यू पर किया गया है. रिलायंस रिटेल में यह निवेश बीते तीन सप्ताह का पांचवां निवेश है. इससे पहले आरआईएल ने बुधवार को बताया था कि प्राइवेट इक्विटी फर्म सिल्वर लेक (Silver Lake Partners) की सह-निवेशक रिटेल यूनिट में 1,875 करोड़ रुपये का अतिरिक्त निवेश करेगी. इसके बाद रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में सिल्वर लेक और इसके सह-निवेशकों की ओर से कुल निवेश 9,375 करोड़ रुपये पहुंच गया है.

रिलायंस रिटेल में सिल्‍वर लेक की हिस्‍सेदारी नए निवेश से हुई 2.13%
RRVL में सिल्वर लेक की कुल हिस्सेदारी 2.13 फीसदी हो गई है. रिलायंस की ओर से स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग (Stock Exchange Filing) में दी गई जानकारी के मुताबिक, रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी वैल्यू करीब 4.285 लाख करोड़ रुपये की है. इस डील ​पर RIL के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कहा, 'सभी भारतीयों को लाभ पहुंचाने वाले इंडियन रिटेल सेक्टर के लिए सिल्वर लेक व इसके सह​-निवेशक वैल्यूड पार्टनर्स हैं. हमें उनका विश्वास और सहारा मिलने पर खुशी है.'


रिलायंस रिटेल ने कुछ हफ्तों में जुटा लिए 19,000 करोड़ से ज्‍यादा


रिलायंस रिटेल को कुछ सप्ताह में विदेशी निवेशकों से फंड जुटाने में बड़ी कामयाबी मिली है. देश की सबसे बड़ी रिटेल बिजनेस कंपनी ने कुछ सप्ताह के भीतर कुल 19,000 करोड़ रुपये से ज्‍यादा जुटाए हैं. यह फंड प्राइवेट ​इक्विटी ​फर्म सिल्वर लेक पार्टनर्स और अमेरिकी फर्म KKR & Co से आया है. इन दोनों कंपनियों ने रिलायंस रिटेल में क्रमश: 1.75 फीसदी और 1.28 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है. 30 सितंबर को ही प्राइवेट इक्विटी फर्म जनरल अटलांटिक (General Atlantic) ने कहा था कि वो रिलायंस रिटेल में 0.84 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 3,675 करोड़ रुपये का निवेश करेगी.

ये भी पढ़ें- त्‍योहारी सीजन में व्‍यस्‍त रूट पर चलेंगी 1-2 क्‍लोन ट्रेन, 200 से ज्‍यादा फेस्टिवल स्‍पेशल भी दौड़ेंगी

मॉर्गन स्‍टेनली ने डील में निभाई फाइनेंशियल एडवायजर की भूमिका
सिल्वर लेक के निवेश पर कंपनी के सह-मुख्य कार्यकारी अधिकारी इगॉन डर्बन (Egon Durban) ने कहा, 'हमें अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने और अपने सह-निवेशकों को इस जबरदस्त मौके के लिए साथ लाने में खुशी है. बीते कुछ सप्ताह में लगातार आ रहे निवेश से साफ होता है कि रिलायंस रिटेल का विज़न और बिजनेस मॉडल क्या है. यह कंपनी अपने नये और परिवर्तनकारी कॉमर्स पहल के तहत जबरदस्त क्षमता को रेखांकित करती है. रिलायंस रिटेल के लिए फाइनेंशियल एडवाइजर की भूमिका मॉर्गन स्टेनली ने निभाई. सिरिल अमरचंद मंगलदास (Cyril Amarchand Mangaldas) और Davis Polk & Wardwell ने कानूनी परामर्शदाता के रूप में भूमिका निभाई.
(डिस्केलमर- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज