नौकरीपेशा लोगों को झटका! नए इनकम टैक्स नियम के तहत अब इन पर नहीं मिलेगी कोई छूट

नौकरीपेशा लोगों को झटका! नए इनकम टैक्स नियम के तहत अब इन पर नहीं मिलेगी कोई छूट
नौकरीपेशा लोगों को झटका! नए इनकम टैक्स नियम के तहत अब इन पर नहीं मिलेगी कोई छूट

जिन लोगों ने नए इनकम टैक्स स्लैब (New Tax Slab) को चुना है उनके लिए इनकम टैक्स का ये रूल (Tax Rules Changed) बदल गया है. नियोक्ता द्वारा प्रदान किए गए मुफ्त भोजन पर छूट का दावा करने के लिए नियमों में बदलाव किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. जिन लोगों ने नए इनकम टैक्स स्लैब (New Tax Slab) को चुना है उनके लिए इनकम टैक्स का ये रूल (Tax Rules Changed) बदल गया है. नियोक्ता द्वारा प्रदान किए गए मुफ्त भोजन पर छूट का दावा करने के लिए नियमों में बदलाव किया है. एक अधिसूचना में, आयकर विभाग ने कहा है कि धारा 115BAC के तहत नए टैक्स स्लैब का विकल्प चुनने वाले कर्मचारियों को भोजन कूपन या वाउचर पर टैक्स छूट का लाभ नहीं मिलेगा.

टैक्स एक्सपर्ट शैलेश कुमार ने बताया कि आयकर विभाग कर्मचारियों को कार्यालयीन समय के दौरान एक नियोक्ता द्वारा प्रदान किए गए मुफ्त भोजन या पेय पदार्थों को कर्मचारियों के लिए एक व्यक्तिगत लाभ और आधिकारिक उद्देश्यों के लिए व्यय नहीं मानता है. इसलिए, नए स्लैब के तहत वापस लिए गए अन्य भत्तों के समान, इस तरह के मुफ्त भोजन या पेय पदार्थों पर टैक्स छूट को नई योजना के तहत वापस ले लिया गया है.

ये भी पढ़ें:- अब मिलेगा सिर्फ कंफर्म टिकट, इन रूट पर चलेंगी प्राइवेट ट्रेनें, जानें सबकुछ



ClearTax के विश्लेषण के अनुसार, निम्नलिखित छूट सभी कर्मचारियों के लिए उपलब्ध हैं:
1) कार्यालय या व्यावसायिक परिसर में किसी नियोक्ता द्वारा दिए गए मुफ्त भोजन और गैर-मादक पेय की लागत.

2) काम के घंटों के दौरान प्रदान की जाने वाली चाय और स्नैक्स.

3) एक दूरदराज के क्षेत्र में काम करने के लिए काम के घंटों के दौरान प्रदान किए गए मुफ्त भोजन और गैर-मादक पेय.

पुराने टैक्स रूल के हिसाब से ये है नियम 
आप चाय, कॉफी या खाने पर खर्च जरूर करते होंगे. आपका नियोक्ता आपकी सैलरी पैकेज में से सालाना 26,200 रुपये कम कर आपको हर महीने 2200 रुपये का फूड वाउचर दे सकता है. आप इस वाउचर का इस्तेमाल न सिर्फ अपने दफ्तर में खाने, चाय-कॉफी, बिस्कुट आदि के पेमेंट के लिए कर सकते हैं, बल्कि बिग बाजार और रिलायंस फ्रेश जैसे स्टोर से भी खाने-पीने की चीजें खरीद सकते हैं. अगर आप 30% टैक्स स्लैब में आते हैं तो आप फूड वाउचर की मदद से साल में करीब 6900 रुपये का इनकम टैक्स बचा सकते हैं.

ये भी पढ़ें:- PM Kisan Scheme- ज्यादा किसानों को फायदा पहुंचाने लिए सरकार ने आसान किए 6 नियम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading