अब मरीजों को नहीं लूट पाएंगे निजी अस्पताल, जल्द बनेगा कानून

सीएनबीसी-आवाज़ को सूत्रों से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, प्रस्तावित ड्राफ्ट पर आए सुझाव के शामिल कर फाइनल ड्राफ्ट को कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेज दिया गया है.

News18Hindi
Updated: January 25, 2019, 7:34 AM IST
अब मरीजों को नहीं लूट पाएंगे निजी अस्पताल, जल्द बनेगा कानून
सीएनबीसी-आवाज़ को सूत्रों से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, प्रस्तावित ड्राफ्ट पर आए सुझाव के शामिल कर फाइनल ड्राफ्ट को कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेज दिया गया है.
News18Hindi
Updated: January 25, 2019, 7:34 AM IST
दिल्ली के लोगों को निजी अस्पतालों की लूट से बचाने वाला कानून जल्द लागू हो सकता है. सीएनबीसी-आवाज़ को सूत्रों से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, प्रस्तावित ड्राफ्ट पर आए सुझाव को शामिल कर फाइनल ड्राफ्ट को कैबिनेट की मंजूरी के लिए भेज दिया गया है. (ये भी पढ़ें: अब एक SMS से चेक करें वोटर लिस्ट में अपना नाम, ये है पूरा प्रोसेस)

सूत्रों के मुताबिक, अस्पतालों की लूट से बचाने वाला कानून जल्द लागू होगा. इस कानून के मुताबिक इलाज के सामान पर अधिकतम 50 फीसदी मुनाफा, अस्पताल की फॉर्मेसी से दवा, इंप्लांट खरीदने के लिए मजबूर करना भी गैर-कानूनी होगा. इसके अलावा मौत होने के बाद बकाया भुगतान के लिए शव को ने देना भी गैर-कानूनी होगा. इलाज से पहले मरीज को आने वाले खर्च का लिखित ब्योरा देना होगा.

ये भी पढ़ें: अटल पेंशन योजना में आपकी पेंशन हो सकती है दोगुनी, सरकार कर रही है तैयारी

मरीजों को होगा फायदा

प्रस्तावित सर्जरी से अलग सर्जरी पर अधिकतम 50 फीसदी फीस की सीमा बढ़ सकती है. हालांकि मरीज को संभावित सर्जरी के बारे में पहले से जानकारी देनी होगी. 6 घंटे में मौत पर बिल में 50 फीसदी छूट की शर्त में भी बदलाव संभव है. इमरजेंसी में प्राइज कंट्रोल से अलग दवा देने के लिए परिजनों की मंजूरी की शर्त भी हट सकती है.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! SBI के ग्राहकों को पहली बार मिला ये अधिकार, खुद बनाएं अपने ATM के नियम

(प्रतीक श्रीवास्तव, संवाददाता- सीएनबीसी-आवाज़)
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: January 24, 2019, 6:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...