• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • New Pension System: क्या आप रिटार्यमेंट के बाद भी जारी रख सकते हैं NPS? जानिए कितनी मिलेगी पेंशन

New Pension System: क्या आप रिटार्यमेंट के बाद भी जारी रख सकते हैं NPS? जानिए कितनी मिलेगी पेंशन

एनपीएस सब्‍सक्राइबर्स के लिए नई सुविधा

एनपीएस सब्‍सक्राइबर्स के लिए नई सुविधा

New Pension System: पुरानी पेंशन सिस्टम को बदलने के लिए सरकार ने साल 2004 में नए पेंशन सिस्टम लेकर आई. NPS को पहले सरकारी कर्मचारियों के लिए लागू किया गया, जिसे बाद में गैर-सरकारी और आम जनता के लिए भी खोल दिया गया था.

  • Share this:

    नई दिल्ली. पुरानी पेंशन सिस्टम को बदलने के लिए सरकार ने साल 2004 में नए पेंशन सिस्टम लेकर आई. NPS को पहले सरकारी कर्मचारियों के लिए लागू किया गया, जिसे बाद में गैर-सरकारी और आम जनता के लिए भी खोल दिया गया था. रिटायरमेंट के बाद कर्मचारी एनपीएस का एक हिस्सा निकाल सकते हैं और बाकी रकम से रिटायरमेंट के बाद रेगुलर इनकम के लिए एनुइटी ले सकते हैं. चलिए जानते हैं क्या है NPS और कितनी मिलती है पेंशन…

    एनपीएस में शामिल होने की शर्तें
    सरकारी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति की आयु के हिसाब से एनपीएस को पहले 60 वर्ष की आयु तक जारी रखने की अनुमति थी. हालांकि, एनपीएस अब इसे 65 वर्ष और मैच्योरिटी को 70 वर्ष कर दिया गया है. इस स्कीम में शामिल होने के लिए नो योर कस्टमर (केवाईसी) नियमों का पालन करना जरूरी है.

    ये भी पढ़ें: EPFO: 6 करोड़ नौकरीपेशा के लिए जरूरी खबर! अगर आपने भी अभी तक नहीं किया है ये काम तो अटक जाएंगे ब्याज के पैसे 

    कैसे खुलता है NPS खाता
    सरकार ने देश भर में पॉइंट ऑफ प्रेजेंस (पीओपी) बनाए हैं, जिनमें एनपीएस अकाउंट खुलवाया जा सकता है. देश के लगभग सभी सरकारी और प्राइवेट बैंकों को पीओपी बनाया गया है,
    आप पेंशन फंड रेगुलेटरी एवं डेवलपमेंट अथॉरिटी (पीएफआरडीए) की बेवसाइट के जरिये https://www.npscra.nsdl.co.in/pop-sp.php भी प्वाइंट ऑफ प्रेजेंस तक पहुंच सकते हैं. किसी भी बैंक की नजदीकी ब्रांच में भी खाता खुलवाया जा सकता है.

    NPS में कितना और कैसे निवेश कर सकते हैं?
    आमदनी के हिसाब से आप NPS खाते में मंथली या फिर सालाना पैसे जमा कर सकते हैं. आप NPS में 1,000 रुपये महीने से भी निवेश की शुरुआत कर सकते हैं, जिसे आप 65 साल की उम्र तक चला सकते हैं. NPS निवेश पर 40 फीसदी एन्युटी खरीदना जरूरी है. जबकि 60 फीसदी रकम 60 साल के बाद एक मुश्त निकाल सकते हैं.

    क्या है टियर-I और टियर-II खाता
    इस योजना में दो तरह के अकाउंट होते हैं. टियर 1 और टियर 2. हर सब्सक्राइबर को एक परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट नंबर (PRAN)उपलब्ध कराया जाता है, जिस पर 12 अंकों का एक नंबर होता है. यही नंबर सभी लेन-देन में काम आता है.

    ये भी पढ़ें: Post Office: इस स्कीम से होगा दोगुना मुनाफा, 6 लाख रुपये के निवेश पर मिलेंगे 12 लाख- जानिए कैसे? 

    टियर 1 अकाउंट
    इस अकाउंट को खुलवाना अनिवार्य है. इस अकाउंट में जो भी रकम जमा कर रहे हैं उसे वक्त से पहले यानी रिटायरमेंट तक नहीं निकाल सकते. जब आप स्कीम से बाहर जाएंगे, तब ही इसकी रकम आप निकाल सकते हैं.

    टियर 2 अकाउंट
    कोई भी टियर 1 अकाउंट होल्डर इस अकाउंट को खोल सकता है और अपनी इच्छा से इसमें पैसा जमा कर सकता है और निकाल भी सकता है. यह अकाउंट सभी के लिए अनिवार्य नहीं है. यह आपकी इच्छा पर निर्भर है.

    केंद्र सरकार ने 1 जनवरी 2004 से नई पेंशन योजना (NPS) लागू की है. वहीं कई राज्‍यों में पहली अप्रैल 2004 से NPS लागू हुआ. इस योजना में नए कर्मचारियों से वेतन और महंगाई भत्ते का 10% Contribution लिया जाता है. जबकि सरकार 14% Contribution करती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज