लॉकडाउन के बावजूद LIC ने की जबरदस्त कमाई, नया प्रीमियम कारोबार 25.2% बढ़ा

लॉकडाउन के बावजूद LIC ने की जबरदस्त कमाई, नया प्रीमियम कारोबार 25.2% बढ़ा
छह साल में सबसे बेहतर प्रदर्शन

पिछले वित्त वर्ष में मार्च महीने का अंतिम पखवाड़ा कोविड- 19 महामारी (COVID-19) के कारण लगाये गये लॉकडाउन (Lockdown) की भेंट चढ़ गया. इसके बावजूद LIC ने नई बीमा पॉलिसी से मिलने वाले पहले साल के प्रीमियम राशि में 25.2 प्रतिशत की वृद्धि हासिल की है.

  • Share this:
मुंबई. देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) को वित्त वर्ष 2019-20 में नये कारोबार के मामले में अच्छी सफलता हासिल हुई है. वर्ष के दौरान सार्वजनिक क्षेत्र की इस कंपनी के पहले साल का नया बीमा प्रीमियम 25.2 प्रतिशत बढ़ा है जबकि निजी क्षेत्र की कंपनियों ने इस मामले में कुल मिलाकर 11.64 प्रतिशत वृद्धि हासिल की है. वित्त वर्ष में मार्च महीने का अंतिम पखवाड़ा बीमा कंपनियों के लिये कारोबार के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण होता है, लेकिन पिछले वित्त वर्ष में यह पखवाड़ा कोविड- 19 महामारी (COVID-19) के कारण लगाये गये लॉकडाउन (Lockdown) की भेंट चढ़ गया. इसके बावजूद LIC ने नई बीमा पॉलिसी से मिलने वाले पहले साल के प्रीमियम राशि में 25.2 प्रतिशत की वृद्धि हासिल की है.

यही नहीं जीवन बीमा कारोबार में उसकी हिस्सेदारी भी बढ़ी है. पॉलिसी की संख्या के हिसाब से बाजार में उसकी हिस्सेदारी 1.19 प्रतिशत बढ़कर 75.90 प्रतिशत रही जबकि पहले साल की प्रीमियम राशि के हिसाब से उसकी हिस्सेदारी 2.50 प्रतिशत बढ़कर 68.74 प्रतिशत पर पहुंच गई.

ये भी पढ़ें: पोस्‍ट ऑफिस की इस गुल्‍लक में हर महीने जमा करें 1 हजार, मिलेगा 69 हजार से ज्यादा



छह साल में सबसे बेहतर प्रदर्शन
एलआईसी ने यह जानकारी देते हुये कहा कि जहां तक नई पॉलिसी बेचने की बात है वित्त वर्ष 2019-20 में उसने पिछले छह साल में सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है. इस दौरान उसने 2.19 करोड़ बीमा पॉलिसी बेचीं और इन पर उसकी पहले साल की प्रीमियम आय बढ़कर 51,227 करोड़ रुपये रही.

वित्त वर्ष के दौरान एलआईसी ने पिछले छह साल के दौरान सबसे अधिक पॉलिसी होने का भी दावा किया है. कंपनी ने कहा है कि उसके पेंशन और समूह योजनाओं के वर्ग में 2019- 20 के दौरान एक लाख करोड़ रुपये का प्रीमियम जुटाने के साथ उसने नया रिकॉर्ड बनाया है.

एलआईसी ने समूह योजनाओं के तहत वर्ष के दौरान कुल 1,26,749 करोड़ रुपये का नया प्रीमियम जुटाया जबकि इससे पिछले साल इसके तहत 91,179 करोड़ रुपये का प्रीमियम जुटाया गया था. इस वर्ग में कंपनी का बाजार हिस्सा 78 प्रतिशत से बढ़कर 80.54 प्रतिशत हो गया.

ये भी पढ़ें: PM-Kisan योजना लिस्ट में नहीं है आपका नाम तो ऐसे कराएं रजिस्टर, किसानों के पास 2000 रुपए पाने का सुनहरा मौका
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading