पहचान पत्र के बिना होगी दिल्ली एयरपोर्ट पर एंट्री! बदलने वाली है सिक्योरिटी से जुड़ी ये चीजे

हो सकता है आने वाले दिनों में जब आप एयरपोर्ट जाएं तो सुरक्षा जांच के लिए आपकी तलाशी कोई सुरक्षाकर्मी ना ले.

News18Hindi
Updated: August 30, 2019, 10:00 AM IST
पहचान पत्र के बिना होगी दिल्ली एयरपोर्ट पर एंट्री! बदलने वाली है सिक्योरिटी से जुड़ी ये चीजे
एयरपोर्ट सिक्यूरिटी में बदलाव
News18Hindi
Updated: August 30, 2019, 10:00 AM IST
हो सकता है आने वाले दिनों में जब आप एयरपोर्ट जाएं तो सुरक्षा जांच के लिए आपकी तलाशी कोई सुरक्षाकर्मी ना ले. एयरपोर्ट की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्योरिटी BCAS धीरे-धीरे फिजिकल फ्रिस्किंग के बजाय बॉडी स्कैनर तकनीक को पूरे देश में लागू करना चाहती है. इस तकनीक में बिना व्यक्ति को छुए उसके शरीर की पूरी स्कैनिंग की जा सकती है.बीसीएएस इसके लिए अगले 1 साल में सभी बड़े एयरपोर्ट पर और अगले 2 सालों में देश के सभी 84 एयरपोर्ट्स पर फुल बॉडी स्कैनर मशीन लगाने जा रही है.

आपको बता दें कि डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देते हुए सरकार अब हवाई यात्रा को भी पेपरलैस करने जा रही है. यानी अब हवाई यात्रा के दौरान यात्री को पहचान के लिए अपने साथ आईडी कार्ड ले जाने की जरूरत नहीं होगी. यात्री का चेहरा ही उसका आईडी कार्ड होगा.

दिल्ली एयरपोर्ट पर ये सर्विस जल्द शुरू की जाएगी. दिल्ली एअरपोर्ट पर बोर्डिंग सिस्टम को जल्द ही पेपरलैस किया जाएगा. यहां यात्रियों की एंट्री फेशियल रिकॉग्निशन यानी फेस स्कैन के बाद होगी. दिल्ली एयरपोर्ट ऑपरेटर और प्राइवेट एयरलाइंस विस्तारा जल्द ही एयरपोर्ट पर फेशियल रिकॉग्निशन बोर्डिंग सिस्टम का ट्रायल शुरु करने जा रहे.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! अब सिर्फ 5 रुपये से म्यूचुअल फंड में करें निवेश

क्यों पड़ी जरूरत-ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्योरिटी ने यह फैसला सुरक्षा की बदलती जरूरतों को देखते हुए किया है. बीसीएएस के संयुक्त निदेशक ज्योति नारायण के मुताबिक मेटल डिटेक्टर डिवाइस ऐसे हथियारों और एक्सप्लोसिव का पता नहीं लगा पाते जिनमें मेटल का इस्तेमाल नहीं हुआ हो लेकिन बॉडी स्कैनर से उसका पता आसानी से लगाया जा सकता है.

बॉडी स्केनर मशीन दुनिया के कई बड़े देश पहले से कर रहे हैं यूज -पैसेंजर को बॉडी स्केनर मशीन में जाने से पहले अपनी जैकेट्स जूते बेल्ट और सभी तरह की ऐसी चीजों को उतारना होगा जिनमें मेटल का इस्तेमाल हुआ हो. इस तकनीक में व्यक्ति के पास अगर किसी संदेहास्पद चीज होती है तो उसका पता उसकी वेवलेंथ इमेज से लगाया जा सकता है. दुनिया के कई बड़े एयरपोर्ट पर इस तकनीक का सवाल होता है.

ये भी पढ़ें: जल्द आपके हाथ में आएगी ज्यादा सैलरी! PF में बदलाव की तैयारी
Loading...

(रोहन सिंह, संवाददाता, CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 10:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...