Home /News /business /

Zoom call पर चल रही मीटिंग में ही 900 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला, जानें वजह

Zoom call पर चल रही मीटिंग में ही 900 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला, जानें वजह

एक कंपनी ने जूम कॉल पर ही अपने 900 कर्मचारियों की छुट्टी कर दी. (प्रतीकात्मक चित्र)

एक कंपनी ने जूम कॉल पर ही अपने 900 कर्मचारियों की छुट्टी कर दी. (प्रतीकात्मक चित्र)

न्यूयॉर्क की एक कंपनी ने जूम कॉल पर ही अपने 900 कर्मचारियों की छुट्टी कर दी. सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, जूम वेबिनार पर बेटर डॉट कॉम (better.com) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विशाल गर्ग (CEO Vishal Garg) ने 900 से अधिक कर्मचारियों को निकाल दिया है. सीईओ ने बताया कि वेबिनार के जरिये कंपनी के कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

    Job News: कोविड-19 महामारी (Covid 19 Pandemic) ने कारोबार और नौकरीपेशा जगत को बड़ा नुकसान पहुंचाया है. बड़ी संख्या में लोगों के कारोबार ठप हो गए और लाखों की तादाद में लोग बेरोजगार हो गए. हार्वर्ड बिजनेस रिव्यू (HBR) के अनुसार, इन दिनों नौकरीपेशा लोग तनाव में हैं. मैनेजर्स को तो कई तरह का तनाव झेलना पड़ रहा है. कंपनी के टॉप मैनेजमेंट का सारा दबाव प्रबंधकों के ऊपर होता है और प्रबंधक इस तनाव को कर्मचारियों के ऊपर निकालते हैं. कभी-कभी इस तनाव के चलते कर्मचारी को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ता है. प्रबंधकों के ऊपर भी हर समय कंपनी से निकाले जाने की तलवार लटकी रहती है.

    न्यूयॉर्क के ऐसे ही एक मामले में बेटर डॉट कॉम (Better.com) के सीईओ विशाल गर्ग (CEO Vishal Garg) ने जूम कॉल पर ही अपने 900 कर्मचारियों की छुट्टी कर दी. यह मामला सुर्खी बना हुआ है. सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, जूम वेबिनार पर कंपनी के भारतीय-अमेरिकी मुख्य कार्यकारी अधिकारी गर्ग ने 900 से अधिक कर्मचारियों को निकाल दिया है. सीईओ गर्ग ने बताया कि वेबिनार के जरिये कंपनी के कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है.

    Investment Tips: करोड़पति बनने के अचूक 4 मंत्र, इन्हें अपनाने से बन सकते हैं अमीर

    ‘अगर आप इस कॉल में है तो आप को टर्मिनेट किया जा रहा है’ 
    बेटर डॉट कॉम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने जूम कॉल के दौरान कहा, ‘अगर आप इस कॉल में हैं तो आप इस दुर्भाग्यशाली ग्रुप का एक हिस्सा हैं.’ न्यूयॉर्क मुख्यालय वाली कंपनी के सीईओ ने बहुत छोटी लेकिन भावनात्मक जूम कॉल में कहा कि यह दूसरी बार है, जब वह इस तरह का फैसला ले रहे हैं. कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी (CFO) केविन रयान ने बताया कि बाजार के भारी दबाव के चलते कंपनी को यह दुर्भाग्यपूर्ण फैसला लेना पड़ा.

    मुसीबत के समय में काम आता है Emergency Fund, जानें कितना और कैसे करें तैयार

    हालांकि एक अन्य रिपोर्ट में बताया गया है कि इन कर्मचारियों पर अनुपयोगी और अपने सहयोगियों व ग्राहकों से चोरी करने का आरोप लगाया गया है.

    भारत सरकार नौकरी गंवाने वालों की कर रही है मदद
    भारत सरकार ने कोरोना के दौरान नौकरी गंवाने वाले कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) सदस्यों को तीन महीने का वेतन देने का फैसला किया. केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने बताया कि उनका मंत्रालय कोरोना के चलते जान गंवाने वाले ईसीएसआइ सदस्यों के स्वजन को आजीवन वित्तीय मदद भी मुहैया कराएगा.

    इसके अलावा बेरोजगार हुए लोगों के पीएफ के भुगतान में सरकार ने मदद की है. सरकार ने ऐलान किया किया कि ऐसे सभी लोग जिन्हें कोरोना काल के दौरान नौकरी गंवानी पड़ी उनके पीएफ का भुगतान केंद्र सरकार की तरफ से किया जाएगा. सरकार के इस कदम का लाभ सिर्फ फॉर्मल सेक्टर के छोटे पैमाने की नौकरियों में काम करने वाले लोगों को मिलेगा.

    Tags: Business news, Business news in hindi, Job news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर