NHAI ने पकड़ी रफ्तार! अप्रैल-सितंबर 2020 में पिछले साल से डेढ़ गुना से ज्‍यादा सड़क परियोजनाएं कीं आवंटित

NHAI ने चालू वित्‍त वर्ष की पहली छमाही में 1,330 किमी सड़क परियोजनाएं आवंटित कीं.
NHAI ने चालू वित्‍त वर्ष की पहली छमाही में 1,330 किमी सड़क परियोजनाएं आवंटित कीं.

राष्‍ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) की ओर से आवंटित सड़क परियोजनाओं (Road Projects) के लिए भूमि अधिग्रहण और पर्यावरण व वन विभाग से जरूरी मंजूरी का 90 फीसदी काम पूरा हो चुका है. कोरोना संकट के बीच एनएचएआई ने 47,289 करोड़ रुपये की 40 परियोजनाएं आवंटित कीं. एनएचएआई ने चालू वित्त वर्ष में 4,500 किमी सड़क परियोजनाएं आवंटित करने का लक्ष्य रखा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 8, 2020, 6:17 AM IST
  • Share this:
अनिल कुमार

नई दिल्‍ली. कोरोना काल में भी राष्‍ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने शानदार काम किया है. एनएचएआई ने बताया कि चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही या अप्रैल-सितंबर 2020 के दौरान देश में 1,330 किमी सड़क परियोजनाएं (Road Projects) आवंटित की गईं. वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि के मुकाबले एनएचएआई ने इस बार 1.6 गुना सड़क परियोजनाओं को आवंटित (Allocation) किया है. वहीं, अगर वित्त वर्ष 2018-19 से तुलना करें तो अप्रैल-सितंबर 2020 की छमाही में 3.5 गुना अधिक परियोजनाएं आवंटित की गई हैं.

मुश्किल हालात में आवंटित कीं 47,289 करोड़ की परियोजनाएं
एनएचएआई की ओर से आवंटित परियोजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण (Land Acquisition) और पर्यावरण व वन विभाग (Department of Environment and Forests) से जरूरी मंजूरी का 90 फीसदी तक काम भी पूरा हो चुका है. कोरोना और लॉकडाउन की वजह से तमाम आर्थिक गतिविधियां ठप पड़ी हुई थीं. हर सेक्‍टर में कामकाज पूरी तरह बंद था. कारोबारी जगत (Business World) में अफरातफरी और अनिश्चितता का माहौल था. ऐसे मुश्किल हालात में भी एनएचएआई ने 47,289 करोड़ रुपये की 40 परियोजनाएं आवंटित कीं. एनएचएआई ने चालू वित्त वर्ष में 4,500 किमी लंबी सड़क परियोजनाओं को आवंटित करने का लक्ष्य रखा है.
ये भी पढ़ें- भारतीय रेलवे इस ट्रेन में मुसाफिरों को देगा कोरोना किट, सफर से पहले हर पैसेंजर की होगी जांच



पारदर्शिता के लिए ऑनलाइन पेमेंट को बढ़ावा दे रहा है NHAI
वित्‍तीय लेनदेन (Financial Transactions) में पारदर्शिता बनाए रखने के लिए एनएचएआई डिजिटल ट्रांजेक्शन (Digital Transactions) को बढ़ावा दे रहा है. मार्च, 2020 में एनएचएआई ने 10 हजार करोड़ रुपये का ऑनलाइन पेमेंट (Online Payment) किया है. लॉकडाउन की वजह से ऑफिस बंद किए Paymentजाने तक किसी का भी बकाया नहीं रखा गया. चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में 15 हजार करोड़ रुपये वेंडरों (Vendors) को भुगतान किया गया. कांट्रेक्टरों (Contractors) के पास पैसे की कमी नही होने देने के लिए उन्हें मासिक भुगतान किया गया. मकसद साफ था किसी हालात में विकास का काम धीमा नहीं पड़ना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज