होम /न्यूज /व्यवसाय /Nifty ने FY22 में निवेशकों को किया मालामाल, 7 साल में दूसरा बेस्ट रिटर्न दिया, जानिए आगे कैसा रहेगा प्रदर्शन ?

Nifty ने FY22 में निवेशकों को किया मालामाल, 7 साल में दूसरा बेस्ट रिटर्न दिया, जानिए आगे कैसा रहेगा प्रदर्शन ?

 रिपोर्ट के मुताबिक, “सेक्टोरल स्पेस में यूटिलिटीज (63 फीसदी), मेटल्स (62 फीसदी), मीडिया (54 फीसदी), ऑयल एंड गैस (42 फीसदी), टेलिकॉम (42 फीसदी) और टेक्नोलॉजी (40 फीसदी) टॉप गेनर्स रहे.

रिपोर्ट के मुताबिक, “सेक्टोरल स्पेस में यूटिलिटीज (63 फीसदी), मेटल्स (62 फीसदी), मीडिया (54 फीसदी), ऑयल एंड गैस (42 फीसदी), टेलिकॉम (42 फीसदी) और टेक्नोलॉजी (40 फीसदी) टॉप गेनर्स रहे.

घरेलू ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के विश्लेषण से पता चला है कि वित्त वर्ष 22 में निफ्टी 50 ने साल-द ...अधिक पढ़ें

मुंबई . भारतीय शेयर बाजार का शानदार प्रदर्शन साल दर साल जारी है. युद्ध और जियो पॉलिटीकल उथल-पुथल के बावजूद भारतीय इक्विटी बाजार ने वित्तीय वर्ष 2022 में बढ़िया रिटर्न दिया है. घरेलू ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के विश्लेषण से पता चला है कि वित्त वर्ष 22 में निफ्टी 50 ने साल-दर-साल 19% का शानदार रिटर्न दिया है. यह सात वर्षों में दूसरा सबसे अच्छा रिटर्न है. अपने सेकंड बेस्ट रिटर्न के साथ निफ्टी ने पिछले वित्तीय वर्ष का समापन किया.

रूस-यूक्रेन संघर्ष के बढ़ने के बाद, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने भारतीय इक्विटी बाजार में लगातार रिकॉर्ड बिकवारी की. कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के चौतरफा प्रभाव ने भारतीय शेयरों को कम आकर्षक बना दिया. लेकिन दूसरी तरफ घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) ने लगातार खरीदारी की और बाजार को सपोर्ट दिया.

यह भी पढ़ें- Veranda Learning Solutions IPO का एलॉटमेंट आज हो सकता है, जानिए GMP व अन्य डिटेल

मोतीलाल ओसवाल की रिपोर्ट के मुताबिक, घरेलू निवेशकों ने वित्त वर्ष 22 में अभी तक का सबसे ज्यादा 26.8 अरब डॉलर का निवेश किया है. इसके उलट विदेशी निवेशकों ने लगातार पांच साल के इनफ्लो के बाद 17.1 अरब डॉलर की बिकवाली की है.

टॉप गेनर्स रहे ये सेक्टर
रिपोर्ट के मुताबिक, “सेक्टोरल स्पेस में यूटिलिटीज (63 फीसदी), मेटल्स (62 फीसदी), मीडिया (54 फीसदी), ऑयल एंड गैस (42 फीसदी), टेलिकॉम (42 फीसदी) और टेक्नोलॉजी (40 फीसदी) टॉप गेनर्स रहे. वहीं निजी बैंकों, कंज्यूमर, ऑटो और हेल्थकेयर का प्रदर्शन कमजोर रहा.” वित्त वर्ष 22 में निफ्टी में शामिल 37 शेयरों ने क्लोजिंग हाई दर्ज किया.

यह भी पढ़ें- नौकरी छोड़कर शेयर बाजार से पैसा कमाना चाहते हैं? तो पहले जेरोधा फाउंडर नितिन कामत की सुन लीजिए

स्टॉक-वार, बजाज फिनसर्व लिमिटेड, हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड, टाइटन इंडस्ट्रीज लिमिटेड, टाटा स्टील लिमिटेड और ओएनजीसी टॉप परफॉर्मर रहे. दूसरी ओर, एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड, हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड, श्री सीमेंट लिमिटेड, बीपीसीएल और हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड टॉप पर थे.

रिजल्ट बाजार को करेंगे प्रभावित
इस महीने से वित्त वर्ष 23 शुरू हो चुका है. कंपनियों के रिजल्ट फिलहाल बाजार की दिशा तय करेंगे. साथ ही रूस-यूक्रेन संकट का प्रभाव अभी बाजार पर रहेगा. क्रूड की कीमतें भी शॉर्ट टर्म समय में बाजार को प्रभावित करेंगी. दिग्गज आईटी कंपनी टीसीएस के 11 अप्रैल को आने वाले नतीजे के साथ वित्त वर्ष 22 की चौथी तिमाही के रिजल्ट सीजन का आगाज होगा.

Tags: BSE Sensex, Nifty, Nifty50, Share market, Stock Markets

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें