• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • नीरव मोदी का तीसरा ईमेल, ED को लिखा- बिज़ी हूं, नहीं लौटूंगा भारत

नीरव मोदी का तीसरा ईमेल, ED को लिखा- बिज़ी हूं, नहीं लौटूंगा भारत

नीरव मोदी

नीरव मोदी

नीरव मोदी ने इससे पहले पीएनबी को ईमेल लिखा था जिसमें उसने पीएनबी पर आरोप लगाया था कि बैंक ने जो राशि सार्वजनिक की है नीरव की देनदारी उससे बहुत कम है.

  • Share this:
    नीरव मोदी ने एक ईमेल भेजकर ईडी से कहा है कि वह न तो भारत लौटेगा, न ही कर्ज चुकाएगा. इस मामले में ईडी ने पहले ही नीरव मोदी को नोटिस भेजा था. इस के जवाब में नीरव मोदी ने ईडी को ईमेल किया है कि वह भारत नहीं लौटेगा. पंजाब नेशनल बैंक नीरव मोदी से कर्ज की रकम वसूलना चाहता है लेकिन नीरव मोदी पहले ही मना कर चुका है कि उसकी संपत्तियां ईडी ने सील की है जिसकी वजह से वह कर्ज नहीं चुका सकता.

    इन्फोर्समेंट डायक्ट्रेट को गुरुवार को ई-मेल के ज़रिए हीरा व्यापारी नीरव मोदी ने यह साफ कर दिया कि वह 11,400 करोड़ के घोटाले के मामले में इन्फोर्समेंट डायक्ट्रेट के आगे पेश नहीं हो सकता. ईडी ऑफिसर को ई-मेल में जवाब देते हुए नीरव ने पासपोर्ट के टेंपररी सस्पेंशन और बिज़नेस व्यस्तताओं का हवाला देते हिुए देश वापस आने से इंकार किया है.

    9000 करोड़ के मनी लॉड्रिंग मामले में शराब करोबारी विजय माल्या ने भी कुछ सालों पहले ईडी के सामने पेश न हो सकने की यही वजहें दी थीं। जिसके बाद एंजेसी ने उन्हें इंडियन एंबेसी से ट्रेवल डॉक्यूमेंट इशू करवाकर देश वापस आने का सुझाव दिया था।

    अधिकारियों के मुताबिक हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ ईडी ने अब ताज़ा समन जारी कर दिया है. नीरव मोदी को प्रीवेंटिंग ऑफ मनी लॉड्रिंग एक्ट (पीएसएलए) के तहत समन जारी किया गया था. सूत्रों के मुताबिक नीरव मोदी को 26 फरवरी को इंवेस्टीगेशन में को-ऑपरेट करने और मुंबई में सेंट्रल प्रॉब एजेंसी के सामने पेश होने के आदेश दिए गए हैं.

    बता दें  घोटाले से आहत पंजाब नेशनल बैंक ने हीरा कारोबारी नीरव मोदी को बकाये के भुगतान के लिए एक पुख्ता और क्रियान्वयन योग्य योजना के साथ आने को कहा है. रिपोर्ट के मुताबिक पीएनबी में हुए 11,400 करोड़ रुपये के घोटाले का सूत्रधार यही नीरव मोदी है. बैंक की मुंबई शाखा द्वारा धोखाधड़ी से जारी साख पत्रों (एलओयू) के आधार पर अन्य बैंकों की विदेशी शाखाओं से कर्ज लेकर यह धोखाधड़ी की गई है.

    पीएनबी ने नीरव मोदी के एक ईमेल के जवाब में उनसे कर्ज चुकाने की ठोस योजना के साथ आने की यह बात कही है. सूत्रों ने बताया कि पीएनबी के महाप्रबंधक (अंतरराष्ट्रीय बैंकिंग विभाग) अश्विनी वत्स ने नीरव मोदी को उसके मेल का जवाब भेजा है. उसमें कहा गया है, ‘आप गैरकानूनी और अनधिकृत तरीके से कुछ बैंक अधिकारियों के जरिए एलओयू हासिल कर रहे थे. किसी भी समय हमारे बैंक द्वारा आपकी तीन भागीदार कंपनियों को यह सुविधा नहीं दी गई थी.’

    नीरव मोदी के  साथ-साथ उसके रिश्तेदार और गीतांजली जेम्स के प्रमोटर मेहुल चौकसी को भी ईडी ने शु्क्रवार को पेश होने का समन जारी किया है, ऐसे में अगर मेहुल ईडी के सामने पेश नहीं होते हैं तो उनके खिलाफ भी ताज़ा समन जारी हो सकता है.

    गुरुवार को एजेंसी ने मोदी और चौकसी ग्रुप के कंपनियों के करीब 100 करोड़ रुपए तक के शेयर्स, म्यूच्वल फंण्ड्स और लग्जरी गाड़ियों को ज़ब्त कर लिया है. दोनों कंपनियों के खिलाफ ईडी की शुरु हुई 15 फरवरी से छापे मारना शुरु किया था जिसका गुरुवार आठवां दिन था.

    मोदी, चौकसी मामले का इंवेस्टीगेशन सीबीआई और इंकम टैक्स डिपार्टमेंट के साथ मल्टीपल प्रॉब एंजेसियां कर रही हैं. जिसके बाद ये बात सामने आई है कि पीएनबी का 11,400 करोड़ का घोटाला बैंक के ही कुछ कर्मचारियों की मिलीभगत से हुआ है.

    मोदी और चौकसी दोनों ने ही केस दर्ज होने से पहले ही देश छोड़ दिया था और इनके खिलाफ सीबीआई और ईडी ने दो एफआईआर दर्ज की हैं.

    ये भी पढ़े...

    फटाफट ऐसे जानिये आपकी ज्वैलरी में लगा हीरा असली है या नकली!

    PNB स्कैम: ब्रांच मैनेजर के खिलाफ CBI ने किया केस दर्ज

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज