होम /न्यूज /व्यवसाय /नीति आयोग ने स्कूलों को study material उपलब्ध कराने के लिए बायजू के साथ करार किया

नीति आयोग ने स्कूलों को study material उपलब्ध कराने के लिए बायजू के साथ करार किया

BYJU’S

BYJU’S

नीति आयोग ने EdTech सेक्टर की शीर्ष कंपनी बायजू ( BYJU’S) के साथ पार्टनरशिप किया है. इसके तहत सरकारी स्कूलों के कक्षा ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्ली . नीति आयोग ने सरकारी स्कूलों के कक्षा 6 से 12वीं तक के बच्चों को स्टडी मटेरियल उपलब्ध कराने के लिए EdTech सेक्टर की शीर्ष कंपनी बायजू ( BYJU’S) के साथ पार्टनरशिप किया है. नीति आयोग ने गुरुवार को इस पहल को लॉन्च किया. देश के 112 जिलों में सरकारी स्कूलों को कंपनी “प्रीमियम लर्निंग रिसोर्सेज” ( premium learning resources) फ्री में देगी.

    इस पहल के अन्तर्गत BYJU’S कक्षा 11 और 12 के 3000 मेधावी छात्रों को फ्री कोचिंग क्लास देगी. यह उसके आकाश इंस्टीट्यूट के माध्यम से engineering and medical entrance examinations के लिए होगा.

    यह भी पढ़ें- भारत में YouTube के व्यूअर्स में इजाफा, पिछले साल से 45% ज्यादा लोगों ने टीवी पर देखा यूट्यूब

    इस पहल की शुरुआत नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए की. राज्यों के मुख्य सचिवों को लिखे पत्र में, उन्होंने कहा, ‘नीति आयोग चयनित जिलों के सरकारी स्कूलों में बच्चों को मुफ्त में learning resources उपलब्ध कराने के लिए BYJU’S के साथ साझेदारी कर रहा है.’

    अमेरिकन कोडिंग प्लैटफॉर्म Tynker का अधिग्रहण
    बायजू ऑनलाइन एजुकेशन की दुनिया में तेजी से आगे बढ़ रही है. कंपनी लगातार एक के बाद एक अधिग्रहण कर रही है. Byju ने अब अमेरिकन कोडिंग प्लैटफॉर्म Tynker का अधिग्रहण किया है. कैलिफोर्निया आधारित यह कंपनी 12 वीं के बच्चों को कोडिंग सिखाती है. यह डील कितने में हुई है, इसको लेकर फिलहाल जानकारी नहीं है. इस साल यह बायजू का 9वां अधिग्रहण है.

    माना जा रहा है कि अमेरिकन मार्केट में अपनी पकड़ मजबूत बनाने के लिए बायजू ने यह डील की है. इससे पहले जुलाई में कंपनी ने अमेरिकन डिजिटल रीडिंग प्लैटफॉर्म Epic का 500 मिलियन डॉलर में अधिग्रहण किया था. उस समय कंपनी ने कहा था कि वह अगले तीन सालों में अमेरिकन बाजार में अपने विस्तार के लिए 7500 करोड़ (1 बिलियन डॉलर) खर्च करेगी.

    6 करोड़ बच्चे इसका इस्तेमाल करते हैं
    कोडिंग सिखाने में Tynker का बड़ा नाम है. यह अभी 150 देशों में अपनी सेवा दे रही है. इस प्लैटफॉर्म का इस्तेमाल पूरी दुनिया के 60 मिलियन यानी 6 करोड़ बच्चे कर रहे हैं. पूरी दुनिया के 1 लाख स्कूलों में यह बच्चों को कोडिंग सिखा रही है. कंपनी की स्थापना 2013 में की गई थी. यह प्लैटफॉर्म बच्चों का कंप्यूटर साइंस, प्रोग्रामिंग को लेकर जरूरी आधार तैयार करता है, जिससे वे टेक्नोलॉजी की दुनिया में अच्छा काम कर सकें.

    Tags: BYJU’s, Education, Education news, Education system, Educationschool

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें