गडकरी ने वाहन उद्योग से कहा, मानसिकता बदलो, भविष्य के बारे में सोचो

वैश्विक मोबिलिटी शिखर सम्मेलन ‘मूव’ को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि सरकार कच्चे तेल आयात घटाने और प्रदूषण समाप्त करने की अपनी नीति को लेकर स्पष्ट है.

भाषा
Updated: September 8, 2018, 10:43 AM IST
गडकरी ने वाहन उद्योग से कहा, मानसिकता बदलो, भविष्य के बारे में सोचो
नितिन गडकरी (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: September 8, 2018, 10:43 AM IST
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को वाहन उद्योग भविष्य को प्राथमिकता देने और अपनी मानसिकता में बदलाव लाने को कहा. इसके साथ ही उन्होंने भरोसा दिलाया सरकार उन्हें स्पष्ट नीतियों के साथ पूरा सहयोग देगी.

वैश्विक मोबिलिटी शिखर सम्मेलन ‘मूव’ को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि सरकार कच्चे तेल आयात घटाने और प्रदूषण समाप्त करने की अपनी नीति को लेकर स्पष्ट है. इसी के मद्देनजर सरकार वैकल्पिक ईंधन प्रौद्योगिकी मसलन जैव ईंधन और इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को प्रोत्साहन दे रही है.

मंत्री ने कहा, ‘हमारी नीतियां स्पष्ट हैं. हम आपको प्रोत्साहन देना चाहते हैं, हम आपका समर्थन करना चाहते हैं....पर आपको अपनी तरफ से कुछ जरूरत को पूरा करना होगा. अपनी सोच या मानसिकता में थोड़ा बदलाव लाते हुए भविष्य को अधिक प्राथमिकता देनी होगी.’

वह वाहन उद्योग के प्रतिनिधियों की टिप्पणियों का जवाब दे रहे थे. वाहन उद्योग भविष्य की मोबिलिटी के लिए नीतिगत मोर्चे पर स्पष्ट रूपरेखा चाहता है. गडकरी ने इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए 12 प्रतिशत माल एवं सेवा कर (जीएसटी) तय करने का उदाहरण देते हुए कहा कि सरकार अपनी नीतियों को लेकर स्पष्ट है. हम वैकल्पिक ईंधन मसलन एथनॉल, मेथनॉल के अलावा इलेक्ट्रिक वाहनों को प्रोत्साहन देना चाहते हैं.

मंत्री ने कहा कि वाहन उद्योग अपने मौजूदा कारोबारी मॉडल के साथ काफी अच्छा काम कर रहा है और देश की आर्थिक वृद्धि में बड़ी भूमिका निभा रहा है. लेकिन वाहन उद्योग को वर्तमान से आगे भविष्य की मोबिलिटी जरूरतों पर ध्यान देना होगा. इलेक्ट्रिफिकेशन के लिए गडकरी ने कहा कि पहले दोपहिया और तिपहिया को लक्ष्य करना आसान होगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर