18 सितंबर को यूपी के लोगों को मिलने वाली है करीब 4300 करोड़ रुपये की सौगात! 11 हाईवे प्रोजेक्ट का किया जायेगा शिलान्यास

18 सितंबर को यूपी के लोगों को मिलने वाली है करीब 4300 करोड़ रुपये की सौगात! 11 हाईवे प्रोजेक्ट का किया जायेगा शिलान्यास
11 हाईवे प्रोजेक्ट का किया जायेगा शिलान्यास

नितिन गड़करी (Nitin Gadkari) 18 सितंबर को देने जा रहे हैं यूपी को करीब 4300 करोड़ रुपये की सौगात 363 किमी की सड़क परियोजनाओं का किया जायेगा शिलान्यास और लोकार्पण. देश की सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश को 4300 करोड़ रुपये का सौगात मिलने जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 8, 2020, 12:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. नितिन गड़करी (Nitin Gadkari) 18 सितंबर को देने जा रहे हैं यूपी को करीब 4300 करोड़ रुपये की सौगात 363 किमी की सड़क परियोजनाओं का किया जायेगा शिलान्यास और लोकार्पण. देश की सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश को 4300 करोड़ रुपये का सौगात मिलने जा रहा है. 18 सितंबर को केंद्रीय सड़क, परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी 18 सितंबर को 11 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे. 362.82 किमी लंबी इन 11 सड़क परियोजनाओं पर 4280.3 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

1 सितंबर को होना था शिलान्यास और लोकार्पण, इसलिए रुका
इन 11 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण 1 सिंतबर को होना था. 31 अगस्त की शाम पूर्व राष्ट्रपति और भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के निधन होने से कार्यक्रम को रद्द करना पड़ा था. पूर्व राष्ट्रपति के निधन पर केंद्र सरकार ने 7 दिनों का राष्ट्रीय शोक घोषित किया था.

राजमार्ग परियोजनाओं के पूरा होने से ये फायदे होंगे
उत्तर प्रदेश के 6 जिलों सोनभद्र, इटावा, मिर्जापुर, प्रयागराज, गोरखपुर और कुशीनगर जिलों में विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्गों के पूरा होने पर ना सिर्फ लोगों और सामानों की आवाजाही सुगम होगी बल्कि बड़ी मात्रा में ईंधन और समय की भी बचत होगी. सड़क परियोजनाओं को पूरा होने पर शहरों की ट्रेफिक स्मूथ हो जायेगी. उत्तर प्रदेश से मध्य प्रदेश और झारखंड जैसे राज्यों में आवाजाही ज्यादा बेहतर हो जायेगी. सड़क परियोजनाओं के पूरा होने से पर्यावरण को भी स्वच्छ रखने में मदद मिलेगी.



4 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण और 7 सड़क परियोजनाओं का होगा शिलान्यास
करीब 2407.91 करोड़ रुपये की लागत से राजमार्ग संख्या 235 मेरठ से बुलंदशहर को चार लेन करने की सड़क परियोजना का लोकार्पण किया जायेगा. 866 करोड़ रुपये की लागत से बनी 17.66 किमी लंबी गोरखपुर बाई-पास को भी राष्ट्र को समर्पित किया जायेगा. इसके अलावा 215.16 करोड़ रुपये की लागत से 37 किमी लंबी राष्ट्रीय राजमार्ग 76 में कबरई से बांदा खण्ड और मऊ से जसरा खंड का भी लोकार्पण किया जायेगा.218.94 करोड़ रुपये की लागत से 53.55 किमी लंबी मऊ से जसरा खंड के राष्ट्रीय राजमार्ग का भी उद्घाटन किया जायेगा.

उत्तर प्रदेश के इन 7 सड़क परियोजनाओं का होगा शिलान्यास
1. सोनभद्र जिले में एनएच-75ई के एमपी/यूपी बोर्डर से सोनभद्र के बीच की दूरी 65.21 किमी. की है. इसको बनाने में 57.5 करोड़ रुपये की लागत आएगी.

2. एनएच-75ई के एमपी-यूपी बोर्डर से सोनभद्र होते हुए झारखंड के बीच की दूरी 26.81 किमी. की है. इसको बनाने में 29.63 करोड़ रुपये की लागत आएगी.

3. इटावा शहर में एनएच 91ए के भरथना चौक से कुदरकोट मार्ग तक की दूरी 40 किमी. की है. इसको बनाने में 262.37 करोड़ रुपये की लागत आएगी.

4. मिर्जापुर में एनएच 135 सी के डूमंडगंज से हालिया मार्ग तक की दूरी 18.4 किमी. की है. इसको बनाने में 39.37 करोड़ रुपये की लागत आएगी.

5. प्रयागराज जिले में एनएच-135सी रामपुर से भडेवरा मार्ग तक की दूरी 15 किमी. की है. इसको बनाने में 76.23 करोड़ रुपये की लागत आएगी.

6. गोरखपुर जिले में एनएच-227ए के सीकरीगंज से गोला मार्ग तक की दूरी 9 किमी. की है. इसको बनाने में 37.52 करोड़ रुपये की लागत आएगी.

7. कुशीनगर जिले में एनएच-730 के तमकुही राज से पडरौना मार्ग तक 69.67 करोड़ रुपये की लागत से 19 किमी राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास किया जायेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज