लाइव टीवी

महंगे पेट्रोल के साथ अब पेट्रोल पंप पर मिलने वाला डिस्काउंट भी होगा खत्म!

News18Hindi
Updated: September 21, 2018, 6:44 PM IST
महंगे पेट्रोल के साथ अब पेट्रोल पंप पर मिलने वाला डिस्काउंट भी होगा खत्म!
पेट्रोल और डीजल के दाम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर 2016 को उस समय चलन में रहे 500 और 1,000 रुपये के नोट वापस लेने की घोषणा की. उसके एक माह बाद डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिये कई प्रकार की छूट की पेशकश की गयी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2018, 6:44 PM IST
  • Share this:
पेट्रोल पंपों पर डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिये शुरू की गई ‘कैश बैक’ योजना को खत्म किया जा सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऑयल मार्केटिंग कंपनियां (HPCL, BPCL, IOC) इस डिस्काउंट कम करने की योजना बना रही है. माना जा रहा है कि कंपनियां इस स्कीम को अगले फाइनेंशियल ईयर (2018-19) से आगे नहीं बढ़ाना चाहते है. हालांकि, अभी तक इस पर कोई फैसला नहीं हुआ.

बता दें कि ग्राहकों को पेट्रोल-डीज़ल भराने के बाद डिजिटल भुगतान पर अब 0.75 प्रतिशत छूट मिलती है. (ये भी पढ़ें-अगर ले रहे हैं LIC पॉलिसी तो इन बातों का रखें ध्यान, वरना हो सकता है फ्रॉड)

क्या है मामला- अंग्रेजी के बिजनेस अखबार मिंट में छपी खबर के मुताबिक कंपनियों ने फाइनेंशियर ईयर 2017-18 में ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने कुल 1165 करोड़ रुपये ई-पेमेंट पर मिलने वाले डिस्काउंट के तौर पर खर्च किया. साथ ही, 266 करोड़ रुपये एमडीआर शुल्क के तौर पर बैंकों को चुकाया.

इस लिहाज से कंपनियों ने कुल 1431 करोड़ रुपये खर्च किए. इस साल ये आंकड़ा 2000 करोड़ रुपये के पार जा सकता है. इसीलिए कंपनियां डिस्काउंट योजना को खत्म करने की प्लानिंग कर रही है. (ये भी पढ़ें-अब नौकरी जाने पर सरकार देगी पैसा, जानिए नई स्कीम के बारे में...)

कब शुरू हुई थी योजना- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर 2016 को उस समय चलन में रहे 500 और 1,000 रुपये के नोट वापस लेने की घोषणा की. उसके एक माह बाद डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिये कई प्रकार की छूट की पेशकश की गयी. तब कहा गया था कि 4.5 करोड़ लोग दैनिक 1,800 करोड़ रुपये का पेट्रोल और डीजल खरीदते हैं.

नोटबंदी के बाद एक माह में डिजिटल भुगतान दोगुना होकर 40 प्रतिशत हो गया था. हालांकि, बाद में यह देखा गया कि अर्थव्यवस्था में नकदी आने के साथ ही डिजिटल भुगतान भी कम हो गया. (ये भी पढ़ें-पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से ऐसे बदली आम आदमी की जिंदगी, ऐसे कर रहें गुजारा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 21, 2018, 6:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर