अपना शहर चुनें

States

Noida Authority: नोएडा के इन 5 सेक्टर में खरीदा है मकान तो अब नहीं हो पाएगी रजिस्ट्री, जानें क्या है बड़ी वजह

Noida Authority ने 5 सेक्टर के मकानों की रजिस्ट्री पर लगाया बैन
Noida Authority ने 5 सेक्टर के मकानों की रजिस्ट्री पर लगाया बैन

Noida Authority: अगर आप नोएडा (Noida) के इन 5 सेक्टरों में मकान (House) खरीदने जा रहे हैं तो अलर्ट हो जाएं. इसके अलावा जिन भी लोगों ने पहले से यहां मकान बुक करा चुके हैं उनके लिए बुरी खबर है. नोएडा अथॉरिटी ने इन सभी 5 सेक्टर की परियोजना पर सवाल खड़े कर दिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 12:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: अगर आप नोएडा (Noida) के इन 5 सेक्टरों में मकान (House) खरीदने जा रहे हैं तो अलर्ट हो जाएं. इसके अलावा जिन भी लोगों ने पहले से यहां मकान बुक करा चुके हैं उनके लिए बुरी खबर है. नोएडा अथॉरिटी ने इन सभी 5 सेक्टर की परियोजना पर सवाल खड़े कर दिए हैं. परियोजना की जांच के लिए कमेटी बना दी है. वहीं परियोजना से जुड़े तीन तरह के काम पर रोक लगा दी है. सूत्रों की मानें तो सीएजी की एक रिपोर्ट के बाद नोएडा प्रधिकरण (Noida Authority) ने यह सख्त कदम उठाया है.

नोएडा प्रधिकरण ने सीएजी की रिपोर्ट के बाद परियोजना से जुड़े ऑक्युपेंसी और कंपलीशन सर्टिफिकेट जारी करने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है. इतना ही नहीं इस कार्रवाई से पहले परियोजना में मकान बुक करा चुके हजारों लोगों को भी बड़ा झटका लगा है. प्रधिकरण ने ऐसे मकानों की रजिस्ट्री किए जाने पर भी रोक लगा दी है.

यह भी पढ़ें: IRFC का IPO आपको मिला या नहीं...इस तरह करें चेक, आज फाइनल होगा अलॉटमेंट



इन 5 सेक्टर पर लगाई रोक
हाल ही में नोएडा प्रधिकरण की बोर्ड बैठक हुई थी. इसी बैठक में कुछ घोर आपत्तियों के चलते यह फैसला लिया गया है. जानकारों का कहना है कि परियोजना में थर्ड पार्टी इंट्रेस्ट के चलते यह आपत्ति उठी हैं. प्रधिकरण के मुताबिक सेक्टर 78, 79, 101, 150 और 152 में स्पोटर्स सिटी परियोजना का काम चल रहा है.

Traffic Plan: 25-26 जनवरी को नोएडा से दिल्ली जाने वाले इन वाहनों को रोका जाएगा

5 सेक्टर को मिलाकर यह परियोजना शुरु की गई थी. इसी की जांच के लिए प्रधिकरण ने एक जांच कमेटी बनाई है. इस कमेटी की रिपोर्ट बोर्ड की बैठक रखी जाएगी. लेकिन इससे पहले ये निर्देश भी दिए गए हैं कि जांच पूरी होने तक परियोजना में किसी भी तरह से मकानों की खरीद-फरोख्त न हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज