लाइव टीवी

आम्रपाली के बाद सुपरटेक बिल्डर पर नोएडा अथॉरिटी की सख्ती! 293 करोड़ की वसूली के लिए रिकवरी सर्टिफिकेट जारी

News18Hindi
Updated: October 23, 2019, 10:14 AM IST
आम्रपाली के बाद सुपरटेक बिल्डर पर नोएडा अथॉरिटी की सख्ती! 293 करोड़ की वसूली के लिए रिकवरी सर्टिफिकेट जारी
नोएडा अथॉरिटी ने रियल एस्टेट डेवल्पर सुपरटेक ग्रुप (Supertech Builder) को लेकर सख्त कदम उठाया है.

नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सुपरटेक बिल्डर (Supertech Builders) ने बकाया जमा नहीं किया है. अब अगर बकाया नहीं चुकाया जाता है तो सुपरटेक की संपत्ति जब्त कर ये रकम वसूल की जा सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2019, 10:14 AM IST
  • Share this:
नोएडा. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद और नोएडा शहर के बड़े रियल एस्टेट डेवल्पर सुपरटेक ग्रुप (Supertech Builder) पर नोएडा अथॉरिटी ने सख्ती शुरू कर दी है. अथॉरिटी ने सुपरटेक के नोएडा  सेक्टर-74 स्थित ग्रुप हाउसिंग लैंड संख्या-01 पर बन रहे केपटाउन प्रोजेक्ट को लेकर 293 करोड़ रुपये की RC यानी रिकवरी सर्टिफिकेट  (Recovery Certificate) जारी किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट पर 80 फीसदी कंस्ट्रक्शन का काम पूरा हो चुका है. इस फैसले से 40,000 लोगों का इससे प्रभावित होना तय माना जा रहा है.

आपको बता दें कि आर्थिक संकट से जूझ रही नोएडा अथॉरिटी अब अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए लगातार कदम उठा रही है. इसीलिए बड़े-बड़े बकायेदारों के खिलाफ कार्रवाई तेज हुई है. अथॉरिटी जल्द अन्य बड़े बिल्डर्स पर भी कार्रवाई कर सकती है.

क्या है मामला- नोएडा अथॉरिटी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सुपरटेक बिल्डर को बकाए के लिए कई बार नोटिस भेजा गया, लेकिन बिल्डर ने कोई जवाब नहीं दिया. इसीलिए अथॉरिटी ने सख्त कदम उठाया है. नोएडा अथॉरिटी  ने 293 करोड़ रुपये की बकाया रकम वसूलने के लिए  ने मंगलवार को सुपरटेक के सेक्टर-74 स्थित ग्रुप हाउसिंग भूखंड संख्या-01 पर आरसी जारी कर दी है.


Loading...

अब क्या होगा- सुपरटेक अब अगर अपना बकाया नहीं चुकाता है तो सुपरटेक की संपत्ति जब्त कर वसूली की जा सकती है. आपको बता दें कि नोएडा के सेक्टर-74 में सुपरटेक को जीएच-01 के रूप में 177960.50 वर्ग मीटर जमीन का आवंटन हुआ. इस पर एनसीआर की सबसे बड़े हाउसिंग प्रोजेक्ट का निर्माण हो रहा है.

ये भी पढ़ें-मूर्तियों के बाजार में ‘मेक इन इंडिया’ की दिवाली, ‘मेड इन चाइना’ गायब

इस ग्रुप हाउसिंग भूखंड पर 22 से 24 मंजिला 40 टावर कैपटाउन सोसायटी के लिए तैयार किए जा रहे हैं. इसमें से 35 टावर का निर्माण पूरा कर 4000 लोगों को पजेशन दिया जा चुका है.

पांच टावरों में फिनिसिंग का काम पूरा किया जा रहा है, जिसमें अगले तीन माह में पजेशन देने का काम निवेशकों को शुरू कर दिया जाएगा.

इस प्रोजेक्ट के अंदर नार्थ आई के रूप में 66 मंजिला टावर खड़ा किया जा रहा है, जिसका पजेशन 2021 में दिया जाना है.

इस प्रोजेक्ट में सोसायटी के अंदर नर्सिंग होम, स्कूल के साथ-साथ बड़े-बड़े कॉमर्शियल हिस्से का निर्माण भी शामिल है.

ये भी पढ़ें-अपने खाना बनाने के हुनर से घर बैठे ऐसे कर सकते हैं मोटी कमाई!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्रेटर नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 9:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...