हर रोज 900 टन कूड़े का इस्तेमाल कर करोड़ों रुपये कमाएगी Noida Authority, यह है प्लॉन

कूड़े से कमाई करेगी Noida Authority

कूड़े से कमाई करेगी Noida Authority

ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) को छोड़कर सिर्फ नोएडा (Noida) की बात करें तो यहां हर रोज 900 टन कूड़ा निकलता है. यह घर, होटल, बैंकट हॉल, अस्पताल, रेस्टोरेंट और मॉल (Mall)-ऑफिस से निकलने वाला कूड़ा है. अब अथॉरिटी इस कूड़े (Garbage) से करोड़ों रुपये कमाएगी. इसके लिए अथॉरिटी एक बड़ा प्लान लेकर आई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 10:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) को छोड़कर सिर्फ नोएडा (Noida) की बात करें तो यहां हर रोज 900 टन कूड़ा निकलता है. यह घर, होटल, बैंकट हॉल, अस्पताल, रेस्टोरेंट और मॉल (Mall)-ऑफिस से निकलने वाला कूड़ा है. अभी तक इस कूड़े को रीसाईकल करने के लिए ही नोएडा अथॉरिटी को एक मोटी रकम खर्च करनी पड़ती थी, लेकिन अब नए प्लान के तहत अब इस कूड़े से निजात पाने के लिए एक फूटी कौड़ी खर्च नहीं करनी पड़ेगी. बल्कि अथॉरिटी इस कूड़े (Garbage) से करोड़ों रुपये कमाएगी. इसके लिए अथॉरिटी एक बड़ा प्लान लेकर आई है.

900 टन कूड़े को ऐसे बेचेगी नोएडा अथॉरिटी

जानकारों की मानें तो नोएडा से हर रोज निकला 900 टन कूड़ा सेक्टर-145 स्थित लैंडफिल साइट पर डम्प किया जाता है. यहीं पर इसे रीसाईकल किया जाता है. एक बड़ी परेशानी यह भी है कि लैंडफिल साइट के आसपास आवासीय कॉलोनी भी हैं. इसी के चलते अथॉरिटी 900 टन कूड़े के 50 फीसदी हिस्से को बिजली बनाने के लिए इस्तेमाल करना चाहती है.

यह भी पढ़ें: Gold Price Today: त्योहारी सीजन में खरीदें सस्ता सोना, जानें आज क्या है 10 ग्राम का रेट
इसके लिए अथॉरिटी की ओर से 33 एकड़ जमीन पर पॉवर प्लांट बनाने की योजना है. यह गीला कूड़ा होगा. वहीं बाकी बचा 50 फीसद सूखा कूड़ा उन कंपनियों को बेचा जाएगा जो उसे रीसाईकल करती हैं. इस तरह कूड़े से बिजली बनाकर बेचने पर इनकम होगी और सूखा कूड़ा खरीदने वाली कंपनियां भी अथॉरिटी को भुगतान करेंगी.

यहां सबसे ज्यादा निकलता है कूड़ा

हाल ही में वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने एक रिपोर्ट जारी की है. रिपोर्ट संसद सत्र के दौरान एक सवाल के जवाब में पेश की गई है. मंत्रालय ने बताया है कूड़े के मामले में महाराष्ट्र में हर रोज 22570 मीट्रिक टन कूड़ा निकलता है. दूसरे और तीसरे नम्बर यूपी 15500, तमिलनाडु में 15437 मीट्रिक टन कूड़ा हर रोज निकलता है. टॉप 10 राज्यों में हैं गुजरात 10721, दिल्ली 10500, कर्नाटक 10 हजार, तेलंगाना 8634, पश्चिम बंगाल7700, राजस्थान 6500 और मध्य प्रदेश 6424 मीट्रिक टन है.



यह भी पढ़ें: सीनियर सिटीजन्स को तोहफा! SBI अब 30 जून तक देगा ज्यादा ब्याज, आप भी इस तरह लें फायदा

कूड़े को रीसाईकल करने में पहले नम्बर पर है यह राज्य

राज्य में हर रोज निकलने वाले कूड़े को रीसाईकल करने में मध्य प्रदेश पहले नम्बर पर है. मध्य प्रदेश में हर रोज 6424 मीट्रिक टन कूड़ा निकलता है. लेकिन निकलने वाले कूड़े का 80 प्रतिशत हिस्सा रीसाईकल कर लिया जाता है. इसी तरह से दूसरे और तीसरे नम्बर पर हैं तेलंगाना 78 और गुजरात 75 प्रतिशत हैं. सबसे कम रीसाईकल 9 प्रतिशत कूड़ा पश्चिम बंगाल करता है. यहां हर रोज 7700 मीट्रिक टन कूड़ा निकलता है. टॉप 10 राज्यों में राजस्थान 68, तमिलनाडु 60, उत्तराखण्ड 58, दिल्ली-महाराष्ट्र 55 और कर्नाटक 37 प्रतिशत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज