नोएडा, ग्रेटर नोएडा में सस्ता हुआ प्रॉपर्टी खरीदना! खत्म हुए ये चार्जेज

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में प्रॉपर्टी खरीदना सस्ता हो गया है. नए फैसले के तहत ग्रुप हाउसिंग में 6 फीसदी और कामर्शियल में 25 फीसदी सरचार्ज समाप्त कर दिया गया है.

News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 2:29 PM IST
नोएडा, ग्रेटर नोएडा में सस्ता हुआ प्रॉपर्टी खरीदना! खत्म हुए ये चार्जेज
नोएडा और ग्रेटर नोएडा में प्रॉपर्टी खरीदना सस्ता हो गया है. नए फैसले के तहत ग्रुप हाउसिंग में 6 फीसदी और कामर्शियल में 25 फीसदी सरचार्ज समाप्त कर दिया गया है.
News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 2:29 PM IST
नोएडा और ग्रेटर नोएडा में प्रॉपर्टी खरीदना अब सस्ता हो गया है. नए फैसले के तहत ग्रुप हाउसिंग में 6 फीसदी और कामर्शियल में 25 फीसदी सरचार्ज समाप्त कर दिया गया है. वहीं, कॉमर्शियल प्रॉपर्टी के सर्किल रेट में 21 फीसदी की कमी हुई है. इन सभी फैसलों की जानकारी गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के जिलाधिकारी बीएन सिंह ने दी है.

सस्ता हुआ प्रॉपर्टी खरीदना
>>
नोएडा में कॉमर्शियल प्रॉपर्टी पर 21% सर्कल रेट घटाया गया
>> नोएडा के शॉपिंग मॉल्स में एस्केलेटर्स और एसी की वजह से लगने वाला 6 फीसदी सरचार्ज हटाया

>> ग्रेटर नोएडा, जेवर और दादरी सर्किल रेट में वृद्धि नही की गई
>>इस कदम से बिक्री बढ़ने की उम्मीद
>>बिक्री बढ़ने से स्टाम्प ड्यूटी से कमाई बढ़ेगी
Loading...

>>लगातार ट्रांसकेशन कम हो रहे है, इसलिए सर्किल रेट को रेशनलाइज करना ज़रूरी

ये भी पढ़ें-बड़ी राहत! SC ने कहा- अब NBCC बनाएगा आम्रपाली के अधूरे फ्लैट

नोएडा के जिलाधिकारी बीएन सिंह की प्रेस कॉन्फ्रेस


हुए ये बड़े फैसले- जिलाधिकारी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया है कि हाउसिंग सेक्टर में कंसीडिरेशन अमाउंट और सर्किल रेट में गैप अधिक नहीं था. इसीलिए हमने 6 फीसदी सरचार्ज हटाने का फैसला किया है. साथ ही, सर्किल रेट में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है. इसके अलावा कॉमर्शियल में टारगेट के अनुसार कम आमदनी हो रही है. वहीं, इनका डेवलपमेंट भी उम्मीद के मुताबिक नहीं था. नोएडा अथॉरिटी ने 4 साल में कोई एकल भूखंड नही बेचा है. वहीं, 60 कॉमर्शियल प्लाट अभी तक नहीं बिके हैं.

ये भी पढ़ें- आम्रपाली के फ्लैट खरीदारों को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत

क्यों हुआ ये फैसला-गौतमबुद्ध नगर को चार भागों में बांट सकते है. पहला नोएडा, दूसरा ग्रेटर नोएडा, तीसरा दादरी, और चौथा जेवर. पूरे गौतमबुद्ध नगर में सर्किल रेट अलग-अलग हो गए थे. इसीलिए अब सभी जगहों पर एक रेट करने की जरूरत महसूस हो रही थी.
First published: July 24, 2019, 12:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...