Home /News /business /

noida supertech twin towers demolition supreme court fixes new date mlks

अब सुपरटेक के ट्विन टावर नहीं गिरेंगे 21 अगस्त को, सुप्रीम कोर्ट ने दी इन्हें गिराने की नई तारीख

अदालत ने सुपरटेक के मैनेजमेंट समेत संबंधित एजेंसियों से भी विध्वंस की कवायद में लगी एजेंसियों के साथ सहयोग करने को कहा.

अदालत ने सुपरटेक के मैनेजमेंट समेत संबंधित एजेंसियों से भी विध्वंस की कवायद में लगी एजेंसियों के साथ सहयोग करने को कहा.

नोएडा स्थित सुपरटेक के एमरॉल्ट प्रोजेक्ट में बने 40 मंजिला ट्विन टावरों को अब 21 अगस्त की बजाय 28 अगस्त को गिराया जाएगा. यह आदेश आज सुप्रीम कोर्ट ने दिया है. कोर्ट ने सुपरटेक के मैनेजमेंट को भी सहयोग देने को कहा है.

हाइलाइट्स

एमरॉल्ट प्रोजेक्ट में बने 40 मंजिला ट्विन टावरों को अब 21 अगस्त को नहीं गिराया जाएगा.
सुप्रीम कोर्ट ने इसे 28 अगस्त को गिराने की नई तारीख दी है.
किसी समस्या के चलते विध्वंस की तारीख को 4 सितंबर तक बढ़ाया जा सकता है.

नई दिल्ली. नोएडा स्थित सुपरटेक के एमरॉल्ट प्रोजेक्ट में बने 40 मंजिला ट्विन टावरों को अब 21 अगस्त की बजाय 28 अगस्त को गिराया जाएगा. यदि 28 अगस्त को भी किसी तकनीकी समस्या या मौसम खराब होने की वजह से नहीं गिराया जा सका तो 4 सितंबर तक समय सीमा बढ़ाई जा सकती है. यह आदेश आज सुप्रीम कोर्ट ने दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने पहले 21 अगस्त को इन इमारतों को गिराने की तारीख तय की थी. ये इमारतें नियमों का उल्लंघन कर के बनाई गई हैं, इसलिए इन्हें अवैध माना गया है. जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एएस बोपन्ना की बेंच ने 29 अगस्त से 4 सितंबर तक एक हफ्ते का “बैंडविड्थ” इस आधार पर दो टावरों को ध्वस्त करने की कवायद में लगी एजेंसियों को इस आधार पर दिया कि विशाल इमारतों को गिराने में तकनीकी और मौसम की स्थिति के लिए कुछ मामूली देरी हो सकती है.

ये भी पढ़ें – Noida Authority ने 3 साल बाद जमीनों के दाम में की 30 फीसदी बढ़ोतरी

सुपरटेक मैनेजमेंट भी करे सहयोग: सुप्रीम कोर्ट
मनीकंट्रोल की एक खबर के अनुसार, शीर्ष अदालत ने सुपरटेक के मैनेजमेंट समेत संबंधित एजेंसियों से भी विध्वंस की कवायद में लगी एजेंसियों के साथ सहयोग करने को कहा. इससे पहले 17 मई को शीर्ष अदालत ने विशेषज्ञों की सलाह पर ट्विन टावरों को गिराने की समय सीमा 28 अगस्त तक बढ़ा दी थी.

शीर्ष अदालत का आदेश अंतरिम समाधान पेशेवर (IRP) की तरफ से दायर एक आवेदन पर आया, जिसमें विध्वंस के लिए नियुक्त एजेंसी के बाद 22 मई, 2022 की समयसीमा को तीन महीने बढ़ाकर 28 अगस्त करने की मांग की गई थी. एडिफिस इंजीनियरिंग ने परीक्षण विस्फोटों के बाद डिजाइन में मामूली बदलाव के आधार पर समय मांगा.

शीर्ष अदालत ने कहा, “विशेषज्ञों की राय को देखते हुए तोड़फोड़ को पूरा करने का समय 28 अगस्त 2022 तक बढ़ा दिया गया है. इस आदेश की तारीख और लिस्टिंग की अगली तारीख से एक हफ्ते पहले उठाए जा रहे, कदमों पर सभी हितधारकों की बैठक बुलाने के बाद नोएडा की तरफ से एक स्टेटस रिपोर्ट दायर की जाएगी.”

28 फरवरी को, नोएडा प्राधिकरण ने शीर्ष अदालत को सूचित किया कि विध्वंस का काम शुरू हो गया है और 22 मई तक पूरी तरह से ध्वस्त हो जाएगा.

Tags: Business news, Business news in hindi, Supertech Emerald Tower, Supertech twin tower, Supertech Twin Tower case

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर