GDP ग्रोथ की रफ्तार जून तिमाही में 5.7% रहने का अनुमान- नोमुरा

नीति निर्माताओं की ओर से आर्थिक वृद्धि की रफ्तार को फिर से तेज करने के प्रयासों के बावजूद देश की जीडीपी वृद्धि जून तिमाही में 5.7 फीसदी पर रहने का अनुमान है.

भाषा
Updated: July 30, 2019, 5:35 PM IST
GDP ग्रोथ की रफ्तार जून तिमाही में 5.7% रहने का अनुमान- नोमुरा
GDP ग्रोथ की रफ्तार जून तिमाही में 5.7% रहने का अनुमान!
भाषा
Updated: July 30, 2019, 5:35 PM IST
नीति निर्माताओं की ओर से आर्थिक वृद्धि की रफ्तार को फिर से तेज करने के प्रयासों के बावजूद देश की जीडीपी वृद्धि जून तिमाही में 5.7 फीसदी पर रहने का अनुमान है. जापान की ब्रोकरेज कंपनी नोमुरा की हालिया रिपोर्ट में यह कहा गया है. नोमुरा की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 'लघु अवधि में मायूसी और मध्यम अवधि में आशा' का अनुमान है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि उपभोग एवं सेवाओं में सुस्ती के कारण नरमी रहेगी. इसके लिए गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों में जारी संकट को कारक बताया गया है. ये कंपनियां सितंबर, 2018 में नकदी के संकट में फंस गयीं. इससे पहले लोगों को टिकाऊ उपभोग के सामानों की खरीदन के लिए कर्ज में उनका बड़ा योगदान था. इसके अलावा कमजोर वैश्विक वृद्धि और नकदी में कमी को भी नरमी के कारकों के रूप में गिनाया गया है. हालांकि, ब्रोकरेज कंपनी के मुताबिक उद्योग एवं निवेश संकेतक अपेक्षाकृत स्थिर हैं.

जून तिमाही में 5.7 प्रतिशत पर रह जाएगा ग्रोथ
रिपोर्ट में कहा गया है, हमारा मानना है कि जीडीपी को अभी और नीचे आना है. हमारा अनुमान है कि मार्च के 5.8 प्रतिशत से घटकर यह जून तिमाही में 5.7 प्रतिशत पर रह जाएगा. नोमुरा का अनुमान है कि सितंबर में देश की आर्थिक वृद्धि की रफ्तार बढ़कर 6.4 प्रतिशत हो जाएगी. उसके बाद की तिमाही में जीडीपी वृद्धि की रफ्तार 6.7 प्रतिशत रहने की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें: Alert! अब क्रिप्टोकरेंसी रखने पर हो सकती है जेल या लग सकता 25 करोड़ का जुर्माना

उल्लेखनीय है कि मार्च तिमाही में आर्थिक वृद्धि की रफ्तार घटकर 5.8 प्रतिशत व वित्त वर्ष 2018-19 में जीडीपी की रफ्तार सुस्त होकर कई वर्ष के निम्न स्तर 6.8 प्रतिशत पर आ गयी. भारत की जीडीपी रफ्तार में यह गिरावट ऐसे समय में दर्ज की गई है जब सरकार ने 2025 तक देश को 5 हजार अरब की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा है और इस लक्ष्य को हासिल करने को कम-से-कम आठ प्रतिशत की सालाना वृद्धि आवश्यक है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2019, 5:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...