अब एयरपोर्ट पर ही होगा विदेशी यात्रियों का कोरोना टेस्‍ट, शुरू की गई आरटी-पीसीआर जांच सुविधा

दिल्‍ली एयरपोर्ट के टर्मिनल-3 की कार पार्किंग में अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों के कोरोना टेस्‍ट की व्‍यवस्‍था की गई है.
दिल्‍ली एयरपोर्ट के टर्मिनल-3 की कार पार्किंग में अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों के कोरोना टेस्‍ट की व्‍यवस्‍था की गई है.

दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) के मुताबिक, कोरोना टेस्‍ट की सुविधा सिर्फ अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों (International Flyers) के लिए है. कोरोना टेस्‍ट (Coronavirus Test) की व्‍यवस्‍था टर्मिनल-3 की मल्‍टी लेवल कार पार्किंग में की गई है. अंतरराष्‍ट्रीय यात्रियों से कोरोना टेस्‍ट के लिए 5,000 रुपये लिए जाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 9:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संकट (Coronavirus Crisis) के मद्देनजर केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के मुताबिक दिल्ली एयरपोर्ट (Delhi Airport) पर अंतराराष्ट्रीय उड़ान (International Flight) से आने वाले यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज से विशेष प्रबंध किया गया है. दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) के मुताबिक, दिल्ली एयरपोर्ट पर अंतरराष्ट्रीय यात्री अब कोरोना की आरटी-पीसीआर (RT-PCR) जांच सुविधा ले सकते हैं. दिल्ली एयरपोर्ट अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को यह सुविधा देने वाला देश का पहला एयरपोर्ट बन गया है.

टर्मिनल-3 की कार पार्किंग में की गई टेस्टिंग की व्‍यवस्‍था
अंतरराष्ट्रीय यात्रियों (International Passengers) के लिए इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (IGI Airport) पर कोरोना टेस्टिंग (Corona Testing) की व्यवस्था टर्मिनल-3 (Terminal-3) के पीछे की ओर बनी मल्टी लेवल कार पार्किंग एरिया (Multi Level Car Parking Area) में की गई है. यह व्यवस्था देश के बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए है. बता दें कि यात्रियों के कोविड-19 टेस्ट (Covid-19 Test) के लिए दिल्ली एयरपोर्ट ने राज्य सरकार (State Government) और राजधानी की प्रयोगशाला (Laboratory) जेनेस्ट्रिंग डायग्नोस्टिक सेंटर से समझौता किया है.

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच भारतीय रेलवे की एक और बड़ी उपलब्धि! सितंबर 2020 में हुई बंपर कमाई
एयरपोर्ट पर कोरोना टेस्ट के लिए ली जाएगी इतनी फीस


दिल्ली एयरपोर्ट पर अंतरराष्ट्रीय यात्री 5 हजार रुपये में कोरोना टेस्ट करवा सकते हैं. इस शुल्क में वेटिंग रूम चार्ज भी शामिल है, क्योंकि रिपोर्ट आने में कम से कम 6 घंटे का समय लग सकता है. डायल (DIAL) के मुताबिक, लैब में जुटाए गए सैंपल की रिपोर्ट आने में 4 से 6 घंटे का समय लगेगा. तब तक यात्री या तो वेटिंग रूम में इंतजार कर सकते हैं या किसी होटल में ठहर सकते हैं. इससे पहले 2 अगस्त को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Health Ministry) ने कहा था कि अगर यात्रा से 96 घंटे पहले किए गए आरटी-पीसीआर टेस्ट में किसी अंतरराष्ट्रीय यात्री की रिपोर्ट नेगेटिव आती है तो भी उसे क्वारंटीन में भेजा जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज