अपना शहर चुनें

States

अब रिटेल इंवेस्‍टर्स Paytm मनी से IPO में कर सकते हैं निवेश, आवेदन प्रक्रिया हुई आसान, जानें सबकुछ

पेटीएम मनी अपने यूजर्स को आइ्रपीओ में आवेदन की सुविधा दे रहा है.
पेटीएम मनी अपने यूजर्स को आइ्रपीओ में आवेदन की सुविधा दे रहा है.

डिजिटल पेमेंट सुविधा उपलब्‍ध कराने वाली कंपनी पेटीएम (Paytm) की सहयोगी पेटीएम मनी (Paytm Money) ने खुदरा निवेशकों (Retail Investors) के लिए पब्लिक ऑफर्स (IPO) में आवेदन करने की प्रक्रिया बहुत आसान बना दी है. वहीं, कंपनी अपने यूजर्स के लिए आईपीओ फंडिंग, डेरीवेटिव्स ट्रेडिंग, मार्जिन फाइनेंस जैसी सुविधाएं भी पेश करने की योजना पर काम कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2020, 6:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. डिजिटल पेमेंट सर्विस (Digital Payment Services) मुहैया कराने वाली कंपनी पेटीएम (Paytm) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहयोगी कंपनी पेटीएम मनी (Paytm Money) अब निवेशकों को पब्लिक ऑफर्स (IPOs) में निवेश करने में मदद करेगी. पेटीएम ने कहा है कि इस कदम का मकसद खुदरा निवेशकों (Retail Investors) को निवेश का पूरा मौका उपलब्‍ध कराने में मदद करना है. इसके जरिये निवेशक आईपीओ के लिए आवेदन कर सकेंगे. साथ ही तेजी से विस्तार करती कंपनियों की सफलता की कहानी का हिस्सा बन सकेंगे.

आईपीओ आवेदन प्रक्रिया को आसान बना रही है पेटीएम मनी
पेटीएम ने कहा है कि कंपनी ने खुदरा निवेशकों के लिए आईपीओ आवेदन की प्रक्रिया को पूरी तरह डिजिटल और आसान बना दिया है. आवेदकों के अनुभव को बेहतर करने के लिए वह इसमें लगातार नए फीचर्स (New Features) जोड़ेगी. कंपनी ने कहा कि पहले साल में उसका आईपीओ आवेदन के बाजार में 8-10 फीसदी हिस्सेदारी हासिल करने का लक्ष्य है. पेटीएम मनी निवेशकों को सभी नए आईपीओ के लिए बैंक खातों (Bank Accounts) से जुड़े यूपीआई आईडी (UPI ID) के जरिये तत्काल आवेदन की सुविधा देगी. इससे आवेदन प्रक्रिया को तेजी से पूरा किया जा सकेगा. कंपनी अपने मंच पर एक 'इंटरफेस' भी उपलब्ध कराएगी. इससे आईपीओ आवेदन में बदलाव, रद्द या नए सिरे से आवेदन किया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार की बड़ी सफलता! गूगल, फेसबुक, ट्विटर भारत में ही रखेंगे आपका डाटा, इस शहर में बनेगा यूपी का पहला सेंटर
पेटीएम यूजर्स के लिए नई सुविधाएं पेश करने की तैयारी में कंपनी


पेटीएम मनी के सीईओ वरुण श्रीधर ने कहा कि इंडियन स्टार्ट-अप इकोसिस्‍टम (Startup Ecosystem) लगातार पूंजी बाजार में उतर रहा है. अब ज्यादा से ज्यादा कंपनियां सार्वजनिक सूचीबद्धता (Public Listing) के जरिये निवेशकों से पैसा जुटाना (Fund Raising) चाहती हैं. इसके साथ ही निवेशक भी अब अपने पोर्टफोलियो में विविधता (Portfolio Diversification) लाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि इस वजह से कंपनी के सामने बड़ा मौका है और वह लोगों तक इस प्रक्रिया की पहुंच को बहुत आसान करना चाहेगी. कंपनी अपने यूजर्स के लिए आईपीओ फंडिंग, डेरीवेटिव्स ट्रेडिंग, मार्जिन फाइनेंस जैसी सुविधाएं भी पेश करने की योजना पर काम कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज