लाइव टीवी

अब UPI के जरिए अपने आप हो जाएगा आपके सभी बिलों का पेमेंट, RBI ने दी ई-मैंडेट को मंजूरी

भाषा
Updated: January 11, 2020, 4:19 PM IST
अब UPI के जरिए अपने आप हो जाएगा आपके सभी बिलों का पेमेंट, RBI ने दी ई-मैंडेट को मंजूरी
रिजर्व बैंक ने ई-मैंडेट की मंजूरी दे दी है.

रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने शुक्रवार को जारी एक अधिसूचना में कहा कि अब स्वत: आवर्ती भुगतान की सुविधा UPI के लिये भी उपलब्ध होगी. रिजर्व बैंक ने कहा, यूपीआई के जरिये स्वत: आवर्ती भुगतान को सुरक्षित बनाने के लिये ई-मैंडेट की मंजूरी दी जाती है.

  • Share this:
नई दिल्ली. रिजर्व बैंक ने डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के मद्देनजर अब UPI के जरिये भी स्वत: आवर्ती (रेकरिंग) भुगतान (Recurring Payment) करने की सुविधा प्रदान कर दी है. इस सुविधा के तहत उपभोक्ता और मर्चेंट निकायों के बीच एक सहमति बनती है और महीने की तयशुदा तारीख पर निश्चित बकाया राशि का खुद से ही भुगतान हो जाता है. अभी तक यह सुविधा डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, प्रीपेड भुगतान इंस्ट्रुमेंट और वॉलेट के जरिये भुगतान पर उपलब्ध थी. अगर आसान शब्दों में कहें तो आप पहले से बिलों के लिए पेमेंट शिड्यूल कर सकते हैं. रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने शुक्रवार को जारी एक अधिसूचना में कहा कि अब स्वत: आवर्ती भुगतान की सुविधा UPI के लिये भी उपलब्ध होगी. रिजर्व बैंक ने कहा, "यूपीआई के जरिये स्वत: आवर्ती भुगतान को सुरक्षित बनाने के लिये ई-मैंडेट की मंजूरी दी जाती है."

भुगतान करते समय मर्चेंट के समक्ष उपभोक्ताओं के उपस्थित रहे बिना संदेश या ई-मेल आदि माध्यमों से भुगतान की प्रक्रिया को सहमति देने को ई-मैंडेट कहा जाता है.





यह भी पढ़ें: JNU मामले पर दीपिका पादुकोण को लेकर पूर्व RBI गवर्नर ने कही बड़ी बात



कर सकते हैं 2 हजार रुपये तक का भुगतान: इस सुविधा के तहत उपभोक्ता अधिकतम दो हजार रुपये का भुगतान कर सकेंगे. स्वत: आवर्ती भुगतान सुविधा के लिये उपभोक्ताओं को कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा. इसके तहत उपभोक्ता किसी भी समय अगले आवर्ती भुगतान को रोक सकते हैं.

उल्लेखनीय है कि स्वत: आवर्ती भुगतान की सुविधा का आम तौर पर मोबाइल, इंटरनेट समेत अन्य यूटिलिटी बिल भरने या दुकानों में मासिक आधार पर एकमुश्त भुगतान करने में किया जाता है.

यह भी पढ़ें: इस दिन तक बढ़ी बिना लेट फीस दिए GSTR-1 दाखिल करने की डेडलाइन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 11, 2020, 3:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading