Home /News /business /

now there will be no hassle in finding aadhar card service center uidai and isro made technical agreement jst

अब आधार कार्ड सेवा केंद्र ढूंढने में नहीं होगा झंझट, यूआईडीएआई और इसरो ने किया तकनीकी समझौता

आधार केंद्र ढूंढने में मदद करेगा इसरो-यूआईडीएआई का यह पोर्टल

आधार केंद्र ढूंढने में मदद करेगा इसरो-यूआईडीएआई का यह पोर्टल

आधार कार्ड केंद्र ढूंढने में आपको होने वाली परेशानी से बचाने के लिए यूआईडीएआई और इसरो के एक अंग ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं. समझौते के तहत एक पोर्टल विकसित किया जाएगा जिस केंद्र संबंधी जानकारियां उपलब्ध होंगी

नयी दिल्ली . आधार जारी करने वाली संस्था यानी भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के राष्ट्रीय सुदूर संवेदन केंद्र (एनआरएससी) ने तकनीकी सहयोग के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. समझौते के अनुसार, एनआरएससी ‘भुवन-आधार’ पोर्टल विकसित करेगा जो पूरे देश में आधार कार्ड केंद्रों की स्थान की जानकारी देगा.

गंतव्य स्थल को खोजने में करेगा मदद
साथ ही यह पोर्टल लोगों की जरूरतों के आधार पर संबंधित आधार केंद्रों के गंतव्य या स्थान को खोजने में भी मदद करेगा. एक आधिकारिक बयान जारी कर इस सौदे की पुष्टि की गई है. बयान के अनुसार, “तकनीकी सहयोग के लिए यूआईडीएआई, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय और एनआरएससी के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं.” इसके अलावा बयान में कहा गया कि एनआरसी नियमित परीक्षण के माध्यम से मौजूदा व नए आधार केंद्रों का डेटा संकलन करेगा ताकि नागरिक केंद्रित सेवाओं को बेहतर बनाया जा सके.

ये भी पढ़ें- नेशनल अवार्ड के लिए ऑनलाइन नॉमिनेशन में अब आधार अनिवार्य नहीं, गृह मंत्रालय का नोटिफिकेशन

अधिकारियों द्वारा मॉडरेट किया जाएगा डेटा
ऑनलाइन विजुअलाइजेशन सुविधा के साथ-साथ केंद्रों के बारे में निवासियों को सटीक जानकारी देने के लिए क्षेत्रीय स्तर पर अधिकारियों के माध्यम से एकत्र किए गए डेटा को गुणवत्ता के लिए मॉडरेट किया जाएगा. बयान के मुताबिक “भुवन प्राकृतिक रंगीन उपग्रह छवियों की उच्च रिजॉल्यूशन वाली बैकड्रॉप के साथ आधार केंद्रों के बारे में जानकारी देगा.” इसके जरिए केंद्र के बारे में पूरी भूगौलिक जानकारी व उसका विश्लेषण भी मिलेगा.

मौके पर मौजूद रहे वरिष्ठ अधिकारी
इस समझौते पर यूआईडीएआई के उप-महानिदेशक शैलेंद्र सिंह और एनआरएससी के निदेशक प्रकाश चौहान ने हस्ताक्षर किए हैं. इस अवसर पर यूआईडीएआई के मुख्य कार्यपालक अधिकारी समेत एनआरएससी के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे.

ये भी पढ़ें- रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा टैक्स कलेक्शन, सरकारी खजाने में आए 27.07 लाख करोड़ रुपये

कितने करोड़ आधार नंबर हुए जारी
यूआईडीएआई और एनआरएससी प्राथमिकता के आधार पर डिजाइन, एकीकरण और रोलआउट के तौर-तरीकों पर बारीकी से काम कर रहे हैं. यूआईडीएआई ने अब तक 132 करोड़ से अधिक निवासियों को आधार संख्या जारी की है और 60 करोड़ से अधिक निवासियों को अपना आधार कार्ड अपडेट करने की सुविधा प्रदान की.

Tags: Aadhar card, ISRO, Uidai

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर