दुबई के लिए भारत से चलेंगी ट्रेन! जानिए नए प्लान के बारे में...

क्या आपने कभी सोचा है की आप इंडिया से दुबई बिना फ्लाइट के रेल में जा सकते हैं. शायद ही किसी को ऐसा ख्याल आपको आया हो. लेकिन अब ऐसा मुमकिन होगा, जानें क्या होंगी इस ट्रेन की खासियत.

News18Hindi
Updated: November 30, 2018, 11:34 AM IST
दुबई के लिए भारत से चलेंगी ट्रेन! जानिए नए प्लान के बारे में...
क्या आपने कभी सोचा है की आप इंडिया से दुबई बिना फ्लाइट के रेल में जा सकते हैं. शायद ही किसी को ऐसा ख्याल आपको आया हो. लेकिन अब ऐसा मुमकिन होगा, जानें क्या होंगी इस ट्रेन की खासियत.
News18Hindi
Updated: November 30, 2018, 11:34 AM IST
क्या आपने कभी सोचा है की आप इंडिया से दुबई बिना फ्लाइट के रेल से ये सफ़र कर सकेंगे. शायद ही किसी को ऐसा ख्याल आपके मन में आया हो. लेकिन जैसे-जैसे नई तकनीक आ रही है वैसे-वैसे हम नए मुकाम हासिल कर पा रहे हैं. हाइपरलूप और ड्राइवरलेस फ्लाइंग कार के बाद यूएई भविष्य के एक और ड्रीम प्रॉजेक्ट पर विचार कर रहा है. जल्द ही आप दुबई से मुंबई के बीच सफ़र कर पाएंगे. ये ट्रेन समुद्र के नीचे दौड़ सकती है.

खलीज टाइम्स के मुताबिक, अबु धाबी में यूएई-इंडिया कॉनक्लेव के दौरान नैशनल अडवाइजर ब्यूरो लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ कंसल्टेंट अब्दुल्ला अलशेही ने इसका खुलासा किया है. जी हां, भविष्य में मुंबई और दुबई के बीच अंडरवाटर ट्रेन दौड़ती नजर आ सकती है.

ये भी पढ़ें: दिसंबर से होंगे ये 7 बड़े बदलाव, आपकी ज़िंदगी पर पड़ेगा सीधा असर



रिपोर्ट के मुताबिक यूएई-इंडिया कॉनक्लेव के दौरान नैशनल अडवाइजर ब्यूरो लिमिटेड की ओर से इस बात का खुलासा किया गया है. इसके बारे में मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ कंसल्टेंट अब्दुल्ला अलशेही ने जानकारी दी.

अलशेही कंसल्टेंट फर्म नैशनल अडवाइज ब्यूरो लिमिटेड के फाउंडर हैं. उनका कहना है कि इस परियोजना से भारत और यूएई के अलावा अन्य कई देशों के लोगों को फायदा होगा. रेल लाइन का इस्तेमाल यात्रियों के अलावा तेल और अन्य कई तरह के आयात निर्यात में हो सकता है.

ये भी पढ़ें: बड़ी खबर: कल से बंद हो सकती है SBI की इंटरनेट बैंकिंग

साथ ही इस बात पर विचार किया जा सकता है कि मुंबई को फूजेरा से जोड़ा जाए. दोनों शहर के बीच बेहद हाईस्पीड रेलवे लाइन स्थापित की जा सकती है. जिसकी मदद से भारत को कच्चे तेल का निर्यात और नर्मदा के पानी का आयात किया जा सकता है.
Loading...

अलशेही ने कहा कि इस योजना के कई पहलुओं पर विचार करने की जरूरत है. भविष्य में अगर यह विचार हकीकत का रूप लेता है तो यह रेल नेटवर्क लगभग 2 हजार किलोमीटर लंबा होगा.

ये भी पढ़ें: सरकारी कंपनियों में पैसा बनाने का आखिरी मौका! कर सकते हैं 5000 रु. से शुरुआत
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...